याददाश्त खोने की समस्या । Memory Loss Meaning in Hindi.

Login to Health अक्टूबर 20, 2020 Brain Diseases 512 Views

English हिन्दी Bengali

याददाश्त खोने क्या हैं ? (Memory Loss Meaning in Hindi)

याददाश्त खोना जिसे अंग्रेजी में मेमोरी लॉस कहा जाता है। इसके अलावा दूसरे शब्दो में भूलने की बीमारी भी कहा जा सकता है। मस्तिष्क से जुडी बीमारी होने के कारण मस्तिष्क पर प्रभाव पड़ सकता है और इस वजह से याददाश्त कमजोर हो सकती है। यदि कोई व्यक्ति गंभीर रूप से अल्जामइर या डेमेंशिया से पीड़ित है उनको भूलने की समस्या होते रहती है। बहुत से लोगो में याददाश्त खोने की समस्या अक्सर किसी दुर्घटना के कारण होती है जिसमे व्यक्ति के सिर पर गंभीर चोट लगती है। अत्यधिक तनाव में होने के वजह से व्यक्ति अपनी याददाश्त खो देता है। हालांकि मेमोरी लॉस जैसी समस्या कुछ लोगो में कुछ समय के लिए होती है और कुछ लोगो में लंबे समय तक बनी रहती है। चिकिस्तक याददाश्त खोने की समस्या के कारण व लक्षण को जानने के लिए मस्तिष्क की जांच के लिए बहुत से जांच करते है। कारण के आधार पर दवाइया व अन्य उपचार की सलाह दे सकते है। चलिए आज के लेख में हम आपको याददश्त खोने की समस्या के बारे में विस्तार से बताते हैं। 

  • याददाश्त खोने के लक्षण ? (Symptoms of Memory Loss in Hindi)
  • याददाश्त खोने के कारण ? (Causes of Memory Loss in Hindi)
  • याददाश्त खोने का परीक्षण ? (Diagnoses of Memory Loss in Hindi)
  • याददाश्त खोने (मेमोरी लॉस) का इलाज ? (Treatments for Memory Loss in Hindi)
  • याददाश्त खोने से बचाव कैसे करें ? (prevention of Memory Loss in Hindi)

याददाश्त खोने के लक्षण ? (Symptoms of Memory Loss in Hindi)

मेमोरी लॉस का प्रथम लक्षण कुछ याद न आना होता है। व्यक्ति के याददाश्त खोने से अपनी पुरानी यादे और की हुई बातों को भूल जाता है। हालांकि की याददश्त खोने की समस्या कुछ लोगो में जल्दी ठीक हो जाता है और कुछ लोगो में कभी नहीं ठीक होता है। इसके अलावा समय अधिक होने पर लक्षण और बढ़ सकते है। चलिए कुछ अन्य लक्षणो के बारे में बताते है। 

  • व्यक्ति के व्यवहार में बदलाव होना। 
  • याददाश्त खोने पर पुराने बातें न बोल पाना। 
  • पुराने कामो को करने में कठिनाई आना। 
  • किसी एक बात को बार-बार पूछना। 
  • रोजाना के कार्यो को करने में परेशानी आना। 

याददाश्त खोने के कारण ? (Causes of Memory Loss in Hindi)

याददाश्त खोने के कई कारण हो सकते है जिसमे मस्तिष्क के चोट या मस्तिष्क के क्षेत्र में कोई समस्या होना शामिल होता है। मस्तिष्क में किसी तरह की नयी समस्या होने पर अनेको समस्या हो सकती है। चलिए मेमोरी लॉस के कारण के बारे में बताते है। 

  • मस्तिष्क में चोट लगना। 
  • ब्रेन ट्यूमर होना। 
  • लंबे समय से मस्तिष्क में ऑक्सीजन नहीं पहुंच पाना। 
  • अचानक याददाश्त खो जाना। 
  • ब्रेन सर्जरी। 
  • लाइम रोग होना। 
  • दिमाग में पानी भरना। 
  • ब्रेन में इन्फेक्शन होना। 
  • मानसिक समस्या होने से याददाश्त खोना –
  • माइग्रेन की समस्या। 
  • डिप्रेशन होना। (और पढ़े – डिप्रेशन के कारण)
  • दर्दनाक घटना होना। 

जोखिम कारक याददाश्त खोने के –

याददाश्त खोने का परीक्षण ? (Diagnoses of Memory Loss in Hindi)

मेमोरी लॉस का निदान करने के लिए चिकिस्तक मरीज के बीमारी इतिहास के बारे पूछते है। इसके अलावा मरीज के व्यवहार परिवार के लोगो के साथ कैसा है आदि पूछते है। मेमोरी लॉस के कारण का पता लगाने के लिए व लक्षणो को जानने के लिए कुछ निम्न परीक्षण कर सकते है। 

  • जैसे – रक्त परीक्षण करना। 
  • सेरेब्रल एंजियोग्राफी। 
  • संज्ञात्मक परीक्षण। 
  • सिटी स्कैन। 
  • एमआरआई स्कैन। 
  • ईसीजी जांच आदि। 

याददाश्त खोने (मेमोरी लॉस) का इलाज ? (Treatments for Memory Loss in Hindi)

  • याददाश्त खोने यानि मेमोरी लॉस की समस्या का उपचार मरीज के कारण के आधार पर किया जाता है। हालांकि चिकिस्तक मेमोरी लॉस में सुधार करने के लिए कुछ दवाइया की खुराक देते है। 
  • यदि पोषक तत्वों की कमी होने से दिमाग में कमजोरी हो रही है तो भोजन में पोषक तत्वों को शामिल करने की सलाह देते है ताकि कमजोरी को दूर सके। इसके अलावा पोषक तत्वों से युक्त कुछ सप्लीमेंट्स लेने की सलाह दे सकते है। 
  • याददाश्त से संबंधित समस्या को दूर करने के लिए घटना के कारण को समझने की कोशिश करते है ताकि मरीज में सुधार कर सके। 
  • यदि अल्जाइमर रोग या डिमेंशिया की शिकायत है तो उनको चिकिस्तक कुछ दवाइयों की खुराक की सलाह दी जाती है। जिनमे गैलेंटामाइन (galantamine) और रिवास्टिग्माइन (rivastigmine) शामिल है। 

याददाश्त खोने से बचाव कैसे करें ? (prevention of Memory Loss in Hindi)

याददाश्त खोने की समस्या  से बचाव करने के लिए निम्न उपाय अपना सकते है। 

  • तनाव मुक्त रहने की कोशिश करे। 
  • दिन में अधिक से अधिक से तरल पदार्थ या पानी पीते रहे। 
  • रात में कम से कम 7 से 8 घंटो की नींद ले। 
  • शारीरिक गतिविधि रोजाना करे जैसे व्यायाम व योगा। 
  • मानसिक रूप से स्वस्थ रहने के लिए अच्छे गाने सुने या मनोरंजन युक्त किताबें पढ़े। (और पढ़े – मानसिक रोग के घरेलू उपचार)
  • कोई ऐसी गतिविधि नहीं करना चाहिए, जिससे आपके सिर पर चोट लग सके। 
  • शराब का सेवन या धूम्रपान न करें। 

हमें आशा है आपके प्रश्न याददाश्त खोने की समस्या क्या है का  उत्तर इस लेख के माध्यम से दे पाएं है। 

याददाश्त खोने (मेमोरी लॉस) जैसी समस्या के लिए किसी अच्छे न्यूरोलॉजिस्ट (Neurologist) से संपर्क कर सकते हैं।

हमारा उद्देश्य केवल आपको लेख के माध्यम से जानकारी देना है। हम आपको किसी तरह दवा, उपचार की सलाह नहीं देते है। आपको अच्छी सलाह केवल एक चिकिस्तक ही दे सकता है। क्योंकि उनसे अच्छा दूसरा कोई नहीं होता है।


Best Neurologist in Delhi

Best Neurologist in Mumbai

Best Neurologist in Bangalore 

Best Neurologist in Chennai