कॉउंसलिंग क्या हैं । What Is Counseling in Hindi

मार्च 3, 2021 Brain Diseases 9198 Views

English हिन्दी

कॉउंसलिंग का मतलब हिंदी में, (Counseling Meaning in Hindi)

कॉउंसलिंग क्या हैं ?

कॉउंसलिंग को हिंदी में परामर्श कहा जाता है। यह एक ऐसी प्रक्रिया जिसमे दो लोग शामिल होते है एक व्यक्ति जिसे अपनी समस्या का समाधान चाहिए और दूसरा व्यक्ति आपका एक्सपर्ट या मनोचिकिस्तक हो सकता है। काउंसलिंग व्यक्ति को चिंता, अवसाद, पारिवारिक समस्या, रिश्ता, तलाक आदि समस्या से बाहर निकलने में मदद करता है। कॉउंसलिंग करने वाला व्यक्ति प्रोफेशनल होता है जो अपने क्लाइंट की बातों को गोपनीय रखता है और उनकी पूरी बातों को सुनकर उनको सुझाव देते है और आगे बढ़ने के लिए प्रोत्साहित करते है। बहुत से लोग सोच रहे होंगे घर के बड़े लोग भी समझा सकते है लेकिन बहुत से लोग अपनी बातों को परिवार व दोस्त से नहीं कर पाते है तो ऐसे में एक अच्छा कौंसलर मददगार साबित होता है। चलिए आज के लेख में आपको कॉउंसलिंग क्या हैं ? के बारे में विस्तार से बताने वाले हैं। 

  • कॉउंसलिंग किस लिए किया जाता हैं ? (Who is it for in Hindi)
  • कॉउंसलिंग के प्रकार ? (Types of Counselling in Hindi)
  • कॉउंसलिंग के फायदे ? (Benefits of Counselling in Hindi)

कॉउंसलिंग किस लिए किया जाता हैं ? (Who is it for in Hindi)

यह जरुरी नहीं कॉउंसलिंग केवल उन लोगो को के लिए फायदेमंद हो जो चिंता, तनाव या आत्मविश्वास में कमी हो। कॉउंसलिंग व्यक्ति के विचार को अच्छे से प्रकट करने और अपने लक्ष्य को केंद्रित करने में मददगार साबित हो सकती है। कॉउंसलिंग छात्रों के करियर की समस्या व रिश्ते में गड़बड़ी को मजबूत करने मे मददगार होता है। आमतौर कॉउंसलिंग लोगो की परेशानियों को कम करने में सहायक होता है। (और पढ़े – स्पीच थेरेपी क्या हैं)

कॉउंसलिंग के प्रकार ? (Types of Counselling in Hindi)

काउंसलिंग एक प्रोफेशनल एक्सपर्ट व चिकिस्तक द्वारा किया जाता है जो विभिन्न क्षेत्र में परामर्श के आधार पर क्लाइंट की मदद करते है। काउंसलिंग के निम्न प्रकार है। चलिए आगे बताते है। 

  • करियर काउंसलर इसमें ऐसे विशेषज्ञ होते है जो छात्रों के पढ़ाई व पढ़ाई में अच्छे नंबर व करियर से जुडो समस्या का समाधान करते है। 
  • रिलेशनशिप काउंसलर यदि व्यक्ति का रिश्ता अच्छा नहीं चलता है या उसे ठीक से निभा नहीं पाता है। इसके अलावा दोनों के रिश्ते में बहुत परेशानी हो या समझ नहीं पाते है तो रिश्ते में दरार पड़ जाती है ऐसे में रिलेशनशिप काउंसलर के सहायता की जरूत होती है जो रिश्ते में आई दरार को भरता है। 
  • मैरिज काउंसलर आजकल की युवा पीढ़ी अपने शादी को लेकर अधिक सोचते है जो होने वाला पार्टनर है उनके योग्य है या नहीं आदि के बारे में जानकारी पाने के लिए बहुत इच्छुक होते है। इसके अलावा शादी के बाद दोनों का जीवन कैसा होगा आदि में परामर्श लेने के लिए मैरिज काउंसलर आपकी सहायता करते है। 
  • साइकोलॉजिस्ट काउंसलर लोग अपने कामो में इतना व्यस्त हो जाते है की अपनी दिनचर्या को खराब कर देते है। इस वजह अधिकतर लोग तनाव व कामकाज ठीक न रहने से तनाव बढ़ता जाता है। ऐसे मामलो साइकोलॉजिस्ट काउंसलर की जरूरत पड़ती है जो आपके समस्या का समाधान कर तनाव से बाहर निकालते है। 
  • काउंसलर अक्सर ऐसे लोग होते है जो जन्म के समय से बीमार या कमजोर हो या किसी सदमे से प्रभावित हो, तो एक अच्छा काउंसलर ऐसे लोगो की मदद करता है। ताकि व्यक्ति अपने दुःख व सदमे से बाहर आ सके। 
  • बिहैवियरल काउंसलर लोगो में किसी तरह की घटना होने से या समय के चलते परेशानी का सामना करना पड़ता है। कुछ लोगो ऐसे समस्या बचपन से होती है या दुर्घटना के कारण होती है। ऐसे लोगो के लिए बिहैवियरल काउंसलर की मदद की आवश्कयता होती है ताकि उनके व्यवहार में बदलाव करवा सके।  
  • चाइल्ड काउंसलर चाइल्ड काउंसलर बच्चों को ठीक से समझने व जानने के लिए काउंसलिंग करते है ताकि बच्चों के व्यवहार पर नजर रख सके और यह समझते है की बच्चों को किन चीजों में अधिक आंनद आता है आगे चलकर क्या बनना चाहते है। (और पढ़े – ग्रुप थेरेपी क्या है)

कॉउंसलिंग के फायदे ? (Benefits of Counselling in Hindi)

कॉउंसलिंग के निम्नलिखित फायदे हो सकते है। 

  • दिमागी शांति कॉउंसलिंग करने से व्यक्ति के विचारो में परिवर्तन होता है और मानसिक रूप से शांति मिलती है। व्यक्ति का दिमाग शांत होने से वो सही चीजे करने व सोचने में सफल होता है। व्यक्ति को यह समझ आता है की अपने जीवन को आगे कैसे ले जाना है और अन्य लोगो में खुद को कैसे शामिल करना है। 
  • आत्म-जागरूकता और आत्मनिरीक्षण कॉउंसलिंग करने का मुख्य उद्देश्य व्यक्ति के अंदर आत्मविश्वास को जागरूक करना और उनके कार्यो के लिए प्रोत्साहित करना होता है। जिस कार्य को करने में व्यक्ति असफल होता है उनमे कौंसलर आपकी मदद करते है आपके समस्या को विस्तार से समझकर सुझाव देते है। 
  • निर्णय लेने में सहायक होना कॉउंसलिंग करने से व्यक्ति अपने विचारो को एक्सपर्ट के साथ सांझा करता है और अपने लक्ष्य को केंद्रित करता है। इसके अलावा सोच समझकर किसी भी मामले पर अपना निर्णय ले सकता है चाहे काम का हो या परिवार से जुड़ा हो आदि। 
  • वेंटिंग स्पेस सभी व्यक्ति के पास कुछ न कुछ बोलने के लिए रहता है और व्यक्ति सोचता है की अपनी बात कहा रखा जाएं और अपने अंदर तनाव बना लेते है तो ऐसे में काउंसलिंग करना फायदेमंद होता है जिससे व्यक्ति की बात को सुना जाता है और समझकर उनकी परेशानी व तनाव को कम किया जाता है। 
  • आत्म-सम्मान, आत्मविश्वास और सामाजिक कौशल में सुधार करना कोई भी व्यक्ति अपने जीवन में किसी भी चीज पर आत्मसम्मान का स्तर कम लग सकता है और यह समान बात है। कुछ लोग अपनी बातो को सबसे सामने रखने से भय लगता है की उनसे अच्छा नहीं हो पायेगा चिंता होने लगती है। थेरेपी की मदद से व्यक्ति में आत्म सम्मान की भावना को बढ़ाया जाता है ताकि चिंता को दूर कर अपने अंदर की शक्ति को पहचान सके। इसके अलावा अपने विचारो को बिना किसी सकोंच के परिवार के सदस्यों,साथियों, सहकर्मियों और परिचितों के साथ व्यक्त कर सकते है।
  • सभी अधिकारों और गलतियों से परे स्वीकृति काउंसलिंग व्यक्ति को अपने लक्ष्य को प्राप्त करवाने में मदद करता है। इसके अलावा व्यक्ति के अधिकार का ज्ञान देना और व्यक्ति द्वारा हुई गलती को मानने की हिम्मत होना आदि में सहायता करता है। 
  • एंजायटी को कम करना एक अच्छा काउंसलर यह बात जानता है की व्यक्ति चिंता में होता है तो किसी भी बात को खुलकर बता नहीं पाता है। व्यक्ति को चिंता से बाहर निकालने के लिए व्यक्ति के बातों को समझकर उनका समाधान करते है। काउंसलर का प्रयास होता है व्यक्ति को उसके दुःख से बाहर निकाला जाये ताकि वह अपने जीवन को ख़ुशी से जी सके और उनके मन को अच्छा लगे।  (और पढ़े – एंजायटी का इलाज क्या हैं)

हमें आशा है की आपके प्रश्न कॉउंसलिंग क्या हैं ? का उत्तर इस लेख के माध्यम से दे पाएं। 

अगर आपको कॉउंसलिंग के बारे में अधिक जानकारी के लिए (Psychologist) से संपर्क कर सकते हैं। 

हमारा उद्देश्य केवल आपको लेख के माध्यम से जानकारी देना है। हम आपको किसी तरह दवा, उपचार की सलाह नहीं देते है। आपको अच्छी सलाह केवल एक चिकिस्तक ही दे सकता है। क्योंकि उनसे अच्छा दूसरा कोई नहीं होता है।


Login to Health

Login to Health

लेखकों की हमारी टीम स्वास्थ्य सेवा क्षेत्र को समर्पित है। हम चाहते हैं कि हमारे पाठकों के पास स्वास्थ्य के मुद्दे को समझने, सर्जरी और प्रक्रियाओं के बारे में जानने, सही डॉक्टरों से परामर्श करने और अंत में उनके स्वास्थ्य के लिए सही निर्णय लेने के लिए सर्वोत्तम सामग्री हो।

Over 1 Million Users Visit Us Monthly

Join our email list to get the exclusive unpublished health content right in your inbox