धूम्रपान छोड़ने के लिए घरेलु उपाय । Home Remedies to Quit Smoking in Hindi

Login to Health अप्रैल 12, 2021 Cancer Hub, Lifestyle Diseases 43 Views

हिन्दी

धूम्रपान छोड़ने के लिए घरेलु उपाय का मतलब हिंदी में,  (Home Remedies to Quit Smoking in Hindi)

आजकल लोग अपने कामो में अधिक रहने से अन्य कामो को नहीं कर पाते है। इस वजह से लोगो की जीवनशैली खराब हो जाती है और तनाव में चले जाते है। तनाव एक सामान्य समस्या है लेकिन नजरअंदाज करने मानसिक रूप से तनाव हावी होने लगता है। शरीर पर चिंता या तनाव बहुत बुरा प्रभाव डालता है। उदाहरण के तौर पर कहे तो तनाव में व्यक्ति होने से अपने आस पास के लोग को जिम्मेदार समझता है और जीने की चाह कम हो जाती है और ऐसे में व्यक्ति धूम्रपान करने लगता है और नशीले पदार्थ लेने लगता है। ऐसे लोग धूम्रपान को अपने जीवन का हिस्सा बना लेते है। कई लोग ऐसे होते है जिनको पता है धूम्रपान करने से स्वास्थ्य पर हानिकारक प्रभाव पड़ता है, लेकिन फिर भी धूम्रपान करते रहते है। धूम्रपान करने से फेफड़ों को भारी नुकसान पहुंचाता है। इसके अलावा अन्य बीमारी जैसे हृदय रोग, कैंसर का जोखिम उत्पन्न करता है। हालांकि धूम्रपान की लत छोड़ने के लिए घरेलु उपाय की सहायता ले सकते है। चलिए आज के लेख में आपको धूम्रपान के कारण व धूम्रपान छोड़ने के लिए घरेलु उपाय के बारे में बताने वाले हैं। 

  • धूम्रपान के कारण ? (Causes of Smoking in Hindi)
  • धूम्रपान छोड़ने के लिए घरेलु उपाय ? (Home Remedies to Quit Smoking in Hindi.)

धूम्रपान के कारण ? (Causes of Smoking in Hindi)

अक्सर व्यक्ति तनाव में होने के कारण धूम्रपान करने लगता है। इसके अलावा मानसिक रूप से परेशान व्यक्ति नशीले पदार्थ व सिगरेट पीने की लत लगा लेता है। धूम्रपान करने के कई अन्य कारण जिम्मेदार हो सकते है। 

  • कुछ लोग अपने आप को दूसरे के सामने दिखाने के लिए धूम्रपान करने लगते है और बाद में धूम्रपान एक लत बन जाती है। 
  • कुछ लोग अपनी परेशानियों को भूलने के लिए धूम्रपान करते है। 
  • कई लोग अपने स्टेटस को दिखाने धूम्रपान करने लगते है। 
  • पारिवारिक चिंता होने के कारण धूम्रपान करने लगते हैं। 
  • भ्रम में होने के कारण धूम्रपान की लत लग जाते हैं।  (और पढ़े – लंग कैंसर क्या हैं)

धूम्रपान छोड़ने के लिए घरेलु उपाय ? (Home Remedies to Quit Smoking in Hindi.)

धूम्रपान स्वास्थ्य के लिए हानिकारक होता है लेकिन फिर भी कुछ लोग धूम्रपान करना नहीं छोड़ते है। हालांकि कई लोग धूम्रपान के कारण होने वाली परेशानियों से अवगत है इसलिए लोग धूम्रपान की लत को छोड़ना चाहते है। कुछ लोग धूम्रपान छोड़ने के लिए दवा का उपयोग करते है। कुछ ऐसे घरेलु नुक्से है जिनका उपयोग करने से धूम्रपान को छोड़ना सरल हो जाता है। चलिए आगे आपको धूम्रपान छोड़ने के लिए घरेलु उपाय के बारे में बताते हैं। 

  • विटामिन बी और सी कुछ शोध के अनुसार धूम्रपान करने वालों को गैर-धूम्रपान करने वालों की तुलना में बी विटामिन के प्रसार की कम सांद्रता और विटामिन सी के निम्न स्तर हैं। धूम्रपान करने वाले अक्सर तनाव के प्रभाव के वजह से सिगरेट पीने की इच्छा को बढ़ाते है। विटामिन बी तनाव को कम करने में सहायक होता है साथ ही मूड में बदलाव करता है। विटामिन सी में अच्छी मात्रा में एंटीऑक्सिडेंट है जो फेफड़ों को ऑक्सीडेटिव तनाव से बचाने में मदद कर सकता है जो सिगरेट के धुएं का कारण बन सकता है। इसलिए, इन विटामिनों को लेने से धूम्रपान को रोकने में मदद मिल सकती है। विटामिन बी व सी की खुराक लेने से धूम्रपान रोकने में मदद मिलता है। (और पढ़े – विटामिन सी के फायदे)
  • हर्बल सिगरेट सिगरेट पीने की लत एक बार में नहीं छुड़ा सकते है इसलिए सिगरेट की जगह हर्बल सिगरेट का उपयोग कर सकते है। इसमें ना के बराबर निकोटिन होता है। हर्बल सिगरेट धूम्रपान करे से रोकती है। हर्बल सिगरेट कई तरह की जड़ीबूटी का उपयोग कर बनाई जाती है इन जड़ी बूटी में दालचीनी, मुलेठी, लौंग आदि शामिल है। इस जड़ी बूटी युक्त सिगरेट का धूम्रपान की तरह कर सकते है। हर्बल सिगरेट कई फ्लेवरों में मिलता है। (और पढ़े – दालचीनी के फायदे)
  • मुलेठी मुलेठी एक आयुर्वेदिक जड़ी बूटी है जिसका उपयोग स्वास्थ्य संबंधित समस्या के उपचार में किया जाता है। मुलेठी धूम्रपान की लत को छुड़ाने में प्रभावी होता है। मुलेठी को दातुन की तरह चबाने से धूम्रपान की इच्छा कम होती है। इसके अलावा पाचन तंत्र को मजबूत करता है। (और पढ़े – मुलेठी के फायदे क्या हैं)
  • लालमिर्च भोजन को तीखा बनाने के लिए लालमिर्च का उपयोग किया जाता है। आयुर्वेद के अनुसार लालमिर्च स्वास्थ्य से जुडी समस्या को ठीक करता है। धूम्रपान करने के की लत को कम करता है। लाल मिर्चा सिगरेट व तंबाकू की लत को छुड़ाने में प्रभावी होता है। धूम्रपान की इच्छायो को कम करने के लिए लाल मिर्च फायदेमंद होता है। (और पढ़े – लाल मिर्च के फायदे)
  • जेनशेन   आयुर्वेदिक औषधि के रूप में जेनशेन का उपयोग किया जाता है। यह एक प्रभावी पौधा है जिसका उपयोग धूम्रपान की लत को छुड़ाने के लिए करते है। धूम्रपान की इच्छा को कम करने के लिए ग्रीन टी व जेनशेन ले। दिन में दो बार इनका उपयोग करना चाहिए। यह धूम्रपान की लत को कम करता है साथ ही स्वास्थ्य की समस्या को ठीक करता है। (और पढ़े – ग्रीन टी के फायदे)
  • पानी दिन में सात से आठ पानी पीने से शरीर से विषाक्त पदार्थ मूत्रशय मार्ग से बाहर निकल जाते है। चयापचय की मात्रा को बढ़ाकर पाचन क्रिया मजबूत करता है। भोजन करने के 20 मिनट पहले पानी पीना चाहिए। पानी शरीर के लिए लाभदायक होता है और निकोटिन से जुडी समस्या के प्रभाव को कम करते है। (और पढ़े – खीरा पानी के फायदे)

हमें आशा है की आपके प्रश्न धूम्रपान छोड़ने के लिए घरेलु उपाय ? का उत्तर इस लेख के माध्यम से दे पाएं। 

 अगर आप धूम्रपान की लत छोड़ना चाहते है तो किसी अच्छे Psychiatrist से संपर्क कर सकते हैं। धूम्रपान कैंसर का जोखिम पैदा करता है। 

हमारा उद्देश्य केवल आपको लेख के माध्यम से जानकारी देना है। हम आपको किसी तरह दवा, उपचार की सलाह नहीं देते है। आपको अच्छी सलाह केवल एक चिकिस्तक ही दे सकता है। क्योंकि उनसे अच्छा दूसरा कोई नहीं होता है।


Best Psychiatrist in Delhi

Best Psychiatrist in Mumbai

Best Psychiatrist in Chennai

Best Psychiatrist in Bangalore