कोलेस्ट्रॉल कम करने के लिए क्या खाएं। Lowering Cholesterol Diet in Hindi.

Login to Health अक्टूबर 10, 2020 Heart Diseases 678 Views

हिन्दी Bengali

Cholesterol Meaning in Hindi. 

आजकल लोग कोलेस्ट्रॉल बढ़ने की समस्या से बहुत परेशान हो चुके है, क्योंकि उनको पता ही नहीं चलता कब कोलेस्ट्रॉल बढ़ जाता है। आपको बता दे, हम आहार में जो भी खाते उसका असर हमारे शरीर पर पड़ता है। कोलेस्ट्रॉल बढ़ने पर दिल की बीमारियों का जोखिम जैसे हार्ट अटैक, स्ट्रोक, डायबिटीज आदि का खतरा बना रहता है। जैसा की आपको पता है, हमारे शरीर में दो तरह का कोलेस्ट्रॉल होता है। जिसमे एक अच्छा कोलेस्ट्रॉल और एक बुरा कोलेस्ट्रॉल शामिल है। यदि शरीर में अच्छा कोलेस्ट्रॉल बढ़ता है तो उसे स्वास्थ्य के लिए अच्छा माना जाता है, लेकिन बुरा कोलेस्ट्रॉल बढ़ता है तो स्वास्थ्य के लिए हानिकारक साबित होता है। हालांकि अपने जीवनशैली और भोजन में कुछ बदलाव कर आप बढ़े कोलेस्ट्रॉल को कम कर सकते है। बहुत लोग कोलेस्ट्रॉल कम करने के लिए अनेक तरीको को आजमाते है, लेकिन कोई खास नतीजा नहीं निकल पाता है। इसलिए आज के लेख के माध्यम से हम आपको  कोलेस्ट्रॉल कम करने के लिए क्या खाएं  और नहीं आगे विस्तार से बताने वाले हैं।

  • कोलेस्ट्रॉल कम करने के लिए क्या खाना चाहिए ?  (Foods for Cholesterol in Hindi)
  • कोलेस्ट्रॉल में क्या नहीं खाना चाहिए ? (Foods to Avoid Cholesterol in Hindi)
  • कोलेस्ट्रॉल कम करने के लिए कुछ अन्य सुझाव ? (Other tips for Cholesterol Diet in Hindi)

कोलेस्ट्रॉल कम करने के लिए क्या खाएं ?  (Foods for Cholesterol in Hindi)

कोलेस्ट्रॉल कम करने के लिए कुछ निम्नलिखित डाइट को अपना सकते है। चलिए आगे बताते हैं। 

  • पेय पदार्थ लेना कुछ शोधकर्ता के अनुसार चाय, कॉफी से बेहतर ग्रीन टी होता है। ग्रीन टी एक अच्छा पेय पदार्थ है जो वजन घटाने के साथ (Metabolism) मेटाबोलिज्म को बढ़ाता है। ग्रीन टी में अच्छी मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट के गुण होते है जो खून में कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में फायदेमंद होता है। इसके अलावा दिन में सात से आठ ग्लास पानी भी पीना चाहिए, ताकि शरीर में पानी का स्तर बना रहें। (और पढ़े – ग्रीन टी के स्वास्थ्य लाभ)
  • साबुत अनाज को शामिल करना –  साबुत अनाज कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में फायदेमंद होता है। साबुत अनाज में कई तरह के पौष्टिक तत्व और खनिज का समावेश होता है। इसमें अच्छी मात्रा में आयरन, फाइबर, फोलेट, नियासिन आदि पोषक तत्व है जो कोलेस्ट्रॉल से हो रही परेशानियों को दूर करने में मदद करते है।  गेहूं, चावल, मकई जैसे अनाज जो साबुत अनाज होते है। इन अनाजों को अपने भोजन में शामिल कर सकते है। 
  • फलों का सेवन करें फलों में कम मात्रा में कैलोरी होती है जो शरीर को केवल पोषक तत्व प्रदान करते है। इसके अलावा वसा की मात्रा को कम करने में मदद करते है। कुछ शोध के अनुसार फलों में प्रचुर मात्रा में फाइबर, पोटेशियम, विटामिन सी जैसे मिनरल्स होते है जो शरीर में कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में मदद करते है। यदि फाइबर युक्त फलों की बात करे तो इसमें कीवी, सेब, संतरा और केले शामिल है। (और पढ़े – कीवी के फायदे और नुकसान
  • हरी सब्जियां कम करे कोलेस्ट्रॉल हरी सब्जियां सेहत के लिए लाभकारी होती है बल्कि कोलेस्ट्रॉल के स्तर को नियंत्रित करने में मदद करती है। इसके अलावा हरी सब्जियों में बहुत से पौष्टिक तत्व जैसे फाइबर, पोटैशियम, विटामिन ए, विटामिन सी आदि है। हरी सब्जियों में पालक, मेथी, बथुआ आदि अपने डाइट में शामिल कर सकते हैं। 

कोलेस्ट्रॉल में क्या नहीं खाना चाहिए ? (Foods to Avoid Cholesterol in Hindi)

  • कोलेस्ट्रॉल बढ़ने पर व्यक्ति को कुछ समझ नहीं आता है की वो क्या न खाएं, हालांकि चिकिस्तक के अनुसार कुछ निम्न चीजो के सेवन से व्यक्ति को परहेज करना चाहिए। आइए आगे बताते हैं। 
  • अगर आपको कोलेस्ट्रॉल बढ़ने की समस्या है तो शराब का सेवन नहीं करना चाहिए, क्योंकि शराब शरीर में कैलोरी को बढ़ाता है जो वजन बढ़ने का कारण बनता है। इसके अलावा वजन बढ़ने से बुरा कोलेस्ट्रॉल बढ़ता है और ह्रदय रोग पैदा करता है। 
  • कुछ ऐसे खाद्य पदार्थ जिनका अधिक मात्रा में सेवन करना बुरे कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाने का कारण बन सकता है। जैसे अंडे का पीला भाग, दूध से बने उत्पादक, मांस, मछली आदि। इन सभी खाद्य पदार्थ को कम मात्रा में सेवन करना चाहिए ताकि कोलेस्ट्रॉल न बढ़े। 
  • कोलेस्ट्रॉल की समस्या होने पर व्यक्ति को अपने भोजन में कम नमक का सेवन करना चाहिए। क्योंकि नमक में सोडियम होता है जो अधिक होने पर कोलेस्ट्रॉल बढ़ाने का कारण बनता है। इसलिए, एक दिन में व्यक्ति को एक छोटा चम्मच नमक का सेवन करना चाहिए। हालांकि कम नमक लेने कोलेस्ट्रॉल पर बहुत खास प्रभाव नहीं पड़ता लेकिन दिल की बीमारी का जोखिम नहीं होता है। 

कोलेस्ट्रॉल कम करने के लिए कुछ अन्य सुझाव ? (Other tips for Cholesterol Diet in Hindi)

कोलेस्ट्रॉल कम करने के लिए केवल खान-पान में बदलाव आवश्यक नहीं बल्कि कुछ अन्य बदलाव भी आवश्यक होता है। चलिए आगे बताते हैं। 

  • अगर आप धूम्रपान करते है तो तुरंत अपनी आदत को बदल दीजिए, क्योंकि धूम्रपान कोलेस्ट्रॉल को प्रभावित करता है और कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाता है। 
  • अपने शरीर को स्वस्थ रखने के केवल एक अच्छी डाइट यानि पौष्टिक तत्व युक्त आहार डाइट रखना जरुरी होता है। इस डाइट से कोलेस्ट्रॉल तो कम होगा साथ ही अन्य बीमारियों का जोखिम नहीं होगा। (और पढ़े – सुबह दौड़ने के फायदे)
  • फाइबर युक्त आहार कोलेस्ट्रॉल को कम करने में फायदेमंद होता है, इसलिए भोजन में फाइबर को जरूर शामिल करें। 
  • स्वस्थ भोजन के साथ व्यक्ति को रोजाना कुछ शारीरिक गतिविधि करना जैसे योगा, व्यायाम, टहलना आदि करना चाहिए। यह सब करने से आप अपने कोलेस्ट्रॉल को कम कर सकते हैं। 
  • व्यक्ति को रात में कम से कम सात से आठ घंटे की नींद लेनी चाहिए। नींद पूरी होने से अन्य स्वास्थ्य समस्या का जोखिम कम होता है। 

कोलेस्ट्रॉल से जुडी बीमारियों के बारे में अधिक जानकारी एव उपचार के लिए किसी अच्छे कार्डियोलॉजिस्ट (Cardiologist) से संपर्क कर सकते है। 

हमारा उद्देश्य केवल आपको लेख के माध्यम से जानकारी देना है। हम आपको किसी तरह दवा, उपचार की सलाह नहीं देते है। आपको अच्छी सलाह केवल एक चिकिस्तक ही दे सकता है। क्योंकि उनसे अच्छा दूसरा कोई नहीं होता है।


Best Cardiologist in Delhi

Best Cardiologist in Mumbai

Best Cardiologist in Chennai

Best Cardiologist in Bangalore