हार्ट पेशेंट के लिए डाइट प्लान । Diet Plan for Heart Patients in Hindi

Login to Health मई 10, 2021 Heart Diseases 376 Views

हिन्दी Bengali

हार्ट रोग का मतलब हिंदी में,   (Heart disease Meaning in Hindi)

हार्ट पेशेंट के लिए डाइट प्लान

हार्ट हमारे शरीर का मुख्य अंग माना जाता है, इसलिए इसकी देखभाल करना आवश्यक होता है। यदि हार्ट मरीज है तो उसके लिए चिंता की बात है क्योकि अपने आहार में क्या लेना आवश्यक है ये पता होना चाहिए। जैसा की आपको पता है हार्ट के मरीजों को चिकिस्तक एक चार्ट बनाकर देते है ताकि निर्देश अनुसार आप भोजन कर सके। रोगी व्यक्ति को पोषण की जरूरत होती है ताकि शरीर का स्वास्थ्य स्वस्थ रह सके। इसके अलावा जीवनशैली में थोड़ा बदलाव करने से स्वास्थ्य में सुधार लाया जा सकता है। चलिए आज के लेख में आपको हार्ट पेशेंट के डाइट प्लान के बारे में बताने वाले हैं। 

  • हार्ट रोग क्या हैं ?(Heart disease in Hindi)
  • हार्ट पेशेंट के लिए डाइट प्लान ? (Diet Plan for Heart Patient in Hindi)
  • हार्ट पेशेंट को क्या खाना चाहिए ? (Foods for Heart Patient in Hindi)
  • हार्ट पेशेंट को क्या नहीं खाना चाहिए ? (Foods to Avoid in Heart disease in Hindi)
  • हार्ट पेशेंट की जीवनशैली ? (Lifestyle of Heart Patient in Hindi)

हार्ट रोग क्या हैं ? (Heart disease in Hindi)

हार्ट रोग एक तरह विकारो का समूह है जिसमे हृदय व रक्त वाहिकाओं में गड़बड़ी होने लगती है। डायबिटीज मरीजों में हृदय रोग का जोखिम अधिक रहता है और अन्य व्यक्ति को ह्रदय रोग हो सकता है। लोगो में दिल के दौरे या स्ट्रोक जैसी समस्या होते रहती है। (और पढ़े – कार्डियक सर्जरी क्या हैं)

हार्ट पेशेंट के लिए डाइट प्लान ? (Diet Plan for Heart Patient in Hindi)

  • हार्ट पेशेंट के लिए डाइट प्लान एक नमूने के तौर पर बताने वाले है। हार्ट पेशेंट को दिन में कब खाना चाहिए। 
  • सुबह उठने के बाद बिना मुंह धोये एक ग्लास गुनगुना पानी पीना चाहिए इसके अलावा लौकी का रस भी ले सकते है। 
  • सुबह 8 से 8. 30 के बिच हार्ट पेशेंट को नाश्ता करना चाहिए। नाश्ते में पोहा, उपमा, एक या दो पतली रोटी, एक कटोरी सब्जी, सलाद, सेब, पपीता, अमरुद, नाशपाती, चेरी, नारंगी, काला अंगूर।
  • दोपहर का भोजन 12. 30 से 1. 30 बजे एक या दो रोटी एक कटोरी चावल, मुंग दाल, एक कटोरी सलाद लेना चाहिए। 
  • शाम का नाश्ता 5. 30 से 6 बजे हार्ट पेशेंट को हर्बल चाय, दो या तीन बिस्कुट, सब्जियों का सुप। 
  • रात का भोजन 7 बजे से 8 बजे हार्ट पेशेंट को एक या दो कटोरी हरी सब्जिया, उबली हुई सब्जिया या एक कटोरी मुंग दाल ले सकते हैं। 
  • रात को सोने से पहले हार्ट पेशेंट को एक ग्लास दूध बिना मलाई व शक्कर के लेना चाहिए। 
  • यदि आपको इनमे से किसी खाद्य पदार्थ से एलर्जी होती है तो आप परहेज कर सकते है। (और पढ़े – दिल की कमजोरी के कारण)

हार्ट पेशेंट को क्या खाना चाहिए ? (Foods for Heart Patient in Hindi)

हार्ट पेशेंट को आहार में क्या लेना चाहिए यह उनके लिए चिंता का विषय बना रहता है क्योंकि कुछ खाद्य पदार्थ के सेवन से हृदय का खतरा और बढ़ सकता है। ऐसे में क्या लेना है यह जानकारी होना आवश्यक है। चलिए आगे बताते है। 

हार्ट पेशेंट को क्या नहीं खाना चाहिए ? (Foods to Avoid in Heart disease in Hindi)

हार्ट पेशेंट को अपने आहार में निम्न खाद्य पदार्थो को नहीं शामिल करना चाहिए। 

  • जैसे – नया चावल। 
  • मैदा। 
  • उड़द दाल। 
  • बथुआ। 
  • अरबी। 
  • कटहल। 
  • बैंगन। 
  • सिंगाड़ा। 
  • शकरकंद।
  • चौलाई। 
  • डिब्बा बंद पदार्थ। 
  • उपयोग किया हुआ तेल, घी। 
  • बासी खाना। 
  • न पचने वाले पदार्थ। 
  • ठंडा पानी। 
  • अचार। 
  • फ़ास्ट फ़ूड। 
  • शराब। 
  • अंडा। 
  • मांसाहारी। 
  • दूध संग मछली। 

(और पढ़े – मछली खाने के फायदे)

हार्ट पेशेंट की जीवनशैली ? (Lifestyle of Heart Patient in Hindi)

हार्ट पेशेंट की जीवनशैली इस तरह होना चाहिए, चलिए आगे बताते हैं। 

  • हार्ट पेशेंट को रोजाना थोड़ा व्यायाम करना चाहिए, ताकि पाचन क्रिया मजबूत रह सके। 
  • हार्ट पेशेंट को रात में कम से कम 7 से 8 घंटे की नींद लेनी चाहिए। 
  • हार्ट पेशेंट को धूम्रपान नहीं करना चाहिए, इससे हृदय पर बुरा प्रभाव पड़ता है। 
  • हार्ट पेशेंट को सुबह थोड़ा योगा करना चाहिए। 
  • हार्ट पेशेंट को अपने दांतो को दो बार साफ़ करना चाहिए। 
  • हार्ट पेशेंट को सुबह जल्दी उठने की आदत लगानी चाहिए। 
  • हार्ट पेशेंट को अत्यधिक वातावरण से परहेज करना चाहिए। 

(और पढ़े – हार्ट रोग का इलाज क्या हैं)

हमें आशा है की आपके प्रश्न हार्ट पेशेंट के लिए डाइट प्लान ? का उत्तर इस लेख के माध्यम से दे पाएं। 

अगर आपको हार्ट से जुडी किसी तरह की समस्या हो रही है तो (Cardiologist) से संपर्क कर सकता हैं।

हमारा उद्देश्य केवल आपको लेख के माध्यम से जानकारी देना है। हम आपको किसी तरह दवा, उपचार की सलाह नहीं देते है। आपको अच्छी सलाह केवल एक चिकिस्तक ही दे सकता है। क्योंकि उनसे अच्छा दूसरा कोई नहीं होता है।


Best Cardiologist in Delhi

Best Cardiologist in Mumbai

Best Cardiologist in Chennai

Best Cardiologist in Bangalore