जानिए गठिया के बेहतरीन घरेलू उपचार। Home Remedies For Arthritis in Hindi

Login to Health अगस्त 30, 2019 Bone Health 117 Views

Arthritis Meaning in Hindi.

गठिया जोड़ों की सूजन है। यह एक संयुक्त या कई जोड़ों को प्रभावित कर सकता है। विभिन्न कारणों और उपचार विधियों के साथ 100 से अधिक विभिन्न प्रकार के गठिया हैं। सबसे आम प्रकारों में से दो ऑस्टियोआर्थराइटिस और रुमेटीइड गठिया हैं। गठिया के लक्षण आमतौर पर समय के साथ विकसित होते हैं, लेकिन वे अचानक भी प्रकट हो सकते हैं। गठिया सबसे अधिक 65 वर्ष से अधिक उम्र के वयस्कों में देखा जाता है, लेकिन यह बच्चों, किशोर और छोटे वयस्कों में भी विकसित हो सकता है। पुरुषों की तुलना में महिलाओं में और अधिक वजन वाले लोगों में गठिया अधिक आम है। चलिए गठिया रोग के घरेलु उपचार के बारे में विस्तार से जानकारी प्राप्त करते है।

गठिया के घरेलु उपचार क्या है ? (What are the Home Remedies for Arthritis in Hindi)

गठिया के निम्नलिखित घरेलु उपचार है।

  • नींबू का रस – नींबू में बहुत से एंटीवायरल, एंटी जीवाणु रोधक, एंटी फंगल इत्यादि गुण होते है। गठिया के दर्द में नींबू का रस का सेवन करना चाहिए। नींबू के रस का सेवन गठिया दर्द में बहुत फायदेमंद होता है। (और पढ़े – नींबू के फायदे और नुकसान)
  • बथुवा का रस – बथुवा एक तरह की हरी पत्ती वाली सब्जी है। बथुवा में बहुत तरह के विटामिन और कैल्शियम होते है। जो मांसपेशियो के लिए बहुत अच्छा रहता है। गठिया के दर्द से राहत पाने के लिए बथुवा का रस का सेवन करना चाहिए। यह बहुत ही अच्छा घरेलु उपचार है।
  • एलोवेरा जेल – एलोवेरा जेल को बहुत से रोगो का औषधी मानी जाती है। एलोवेरा जेल का उपयोग आयुर्वेदिक दवाओं में भी किया जाता है। गठिया में एलोवेरा जेल बहुत लाभदायक होता है। एलोवेरा को काटकर जेल निकले व दर्द के स्थान पर लागले। इससे मरीज को बहुत आराम मिलेगा।
  • हरी पत्तेदार सब्जी – जोड़ो के दर्द में हरी सब्जियों का सेवन रोजाना करना चाहिए। हरी सब्जियों में बहुत से पौष्टिक तत्व और खनिज होते है। जो शरीर को पूर्ण रूप से पोषक तत्व देते है। जोड़ो के दर्द से राहत दिलाते है। क्योंकि हरी पत्तेदार सब्जिया शरीर को कैल्शियम प्रदान करती है। जो की हड्डियों के लिए बहुत लाभदायक होते है।
  • अदरक के फायदे – अदरक में बहुत से गुण होते है। बहुत से रोगो के लिए अदरक बहुत अच्छा घरेलु उपचार माना जाता है। अदरक का सेवन जरूर करना चाहिए। सब्जी, सुप, अदरक का रस इत्यादि का सेवन करना चाहिए। हड्डियों की समस्या को दूर करने के लिए अदरक का उपयोग जरूर करना चाहिए। (और पढ़े – अदरक के फायदे और नुकसा)
  • लहसुन का उपयोग – लहसुन रक्त को साफ़ करने में बहुत लाभदायक होता है। लहसुन की दो या चार कालिया को खाना चाहिए। इससे गठिया के दर्द से आराम मिलता है। इसके अलावा लहसुन की कालिया को राई या जैतून के तेल में गर्म करके अच्छे से जोड़ो की मालिश करें। ऐसा कम से कम दो हफ्ते करे। इससे गठिया का दर्द जल्द ही दूर हो जायेगा। इससे शरीर को किसी तरह का नुकसान नहीं होता है।
  • अश्वगंधा का चूर्ण – अश्वगंधा प्राकृतिक रूप प्रसिद्ध औषधीय है। जो सभी तरह के दर्द के लिए बहुत फायदेमंद होता है। गठिया के दर्द को दूर करने के लिए अश्वगंधा का चूर्ण का सेवन करना चाहिए। अश्वगंधा के चूर्ण को पानी में मिलाकर सुबह और शाम को पीना चाहिए। इससे दर्द से राहत जल्दी मिलता है। (और पढ़े – अश्वगंधा के फायदे)
  • अरंडी का तेल – अरंडी का तेल से जोड़ो की अच्छे से मालिश करना चाहिए। लगातार दो हफ्तों तक मालिश करने से गठिया के दर्द से राहत मिलती है। अरंडी के तेल में प्राकृतिक गुण होते है। जो दर्द को अवशोषित करता है।
  • आलू का रस – आलू का रस का सेवन गठिया के दर्द को दूर करने में मदद मिलता है। आलू के रस का सेवन करने से गठिया के मरीजों के लिए लाभदायक रहता है। आलू स्वास्थ्य के लिए उपयोगी होता है।

गठिया रोग से परेशान है। तो तुरंत Rheumatologist से संपर्क करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

4 + twenty =