जानिए एंटीऑक्सीडेंट का महत्व आहार में। Antioxidant Food in Hindi

Login to Health जुलाई 1, 2019 Lifestyle Diseases 335 Views

Antioxidant Food Meaning in Hindi.

एंटीऑक्सिडेंट समग्र स्वास्थ्य में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। वे कुछ खाद्य पदार्थों में पाए जाने वाले प्राकृतिक यौगिक हैं जो हमारे शरीर में मुक्त कणों को बेअसर करने में मदद करते हैं। मुक्त कण वे पदार्थ होते हैं जो हमारे शरीर में स्वाभाविक रूप से होते हैं लेकिन हमारी कोशिकाओं में वसा, प्रोटीन और डीएनए पर हमला करते हैं, जो विभिन्न प्रकार की बीमारियों का कारण बन सकते हैं और उम्र बढ़ने की प्रक्रिया को तेज कर सकते हैं। सबसे अच्छा एंटीऑक्सिडेंट स्रोत फल और सब्जियां, साथ ही पौधों से प्राप्त उत्पाद हैं। कुछ अच्छे विकल्पों में ब्लूबेरी, रास्पबेरी, सेब, ब्रोकोली, गोभी, पालक, बैंगन और लाल किडनी या काले सेम जैसे फलियां शामिल हैं। वे ग्रीन टी, ब्लैक टी, रेड वाइन और डार्क चॉकलेट में भी पाए जाते हैं। आमतौर पर, रंग की उपस्थिति इंगित करती है कि उस भोजन में एक विशिष्ट एंटीऑक्सिडेंट है। चलिए विस्तार से Antioxidant Food के बारे में जानकारी प्राप्त करते है।

  • एंटीऑक्सीडेंट क्या है ? (What is Antioxidants in Hindi)
  • एंटीऑक्सीडेंटयुक्त भारतीय आहार ? (Antioxidants Rich Indian Food in Hindi)
  • एंटीऑक्सीडेंट के क्या लाभ है ? (What are the Benefits of Antioxidants in Hindi)
  • एंटीऑक्सीडेंट की कमी से होने वाले नुकसान ? (Antioxidants Deficiency and Disadvantage in Hindi)

एंटीऑक्सीडेंट क्या है ? (What is Antioxidants in Hindi)

एंटीऑक्सीडेंट शरीर की कोशिकाओं को खराब होने से बचाता है। इससे कैंसर जैसे रोग नहीं होते है। क्योंकि एंटीऑक्सीडेंट कैंसर के विरोधी होते है। यह प्राकृतिक रूप से सब्जियों और फलो में पाए जाते है। सबसे अधिक एंटीऑक्सीडेंट विटामिन सी, ई, बीटा-केरोटीन, केरोटिनाड्स है। खनिज में प्रचलित मेगनीज और सेलेनेलियम होते है। एंटीऑक्सीडेंट फ्री रेडिकल को कम करने का कार्य करते है। फ्री रेडिकल ऐसे मुक्त कण होते है। जो कोशिकाओं से जुड़ एक जगह पर इकट्ठा होने लगते है। यह प्रकिया मनुष्य को रोगो की चपेट में ले लेती है। किंतु फ्री रेडिकल्स एक जगह इकट्ठा नहीं हो पाते है।

एंटीऑक्सीडेंटयुक्त भारतीय आहार ? (Antioxidants Rich Indian Food in Hindi)

  • एंटीऑक्सीडेंट से आहार में ऐसे तत्व होते है। जो शरीर को प्राकृतिक तरीके से डेटॉक्स करने का कार्य करते है। क्योंकि शरीर में कई बार फ्री रेडिकल्स और मोलेक्युल्स हानि पहुंचाते है। एंटीऑक्सीडेंट युक्त आहार का सेवन करके इन सब से बचा जा सकता है।
  • एंटीऑक्सीडेंट आहार में मिनरल, विटामिन व पोषक तत्व तथा कई तरीके के खनिजों से भरा हुआ रहता है। जब मनुष्य इन तत्वों का सेवन करता है। तो वह ऊर्जावान होता है। शरीर की प्रतिक्षा प्रणाली को बढ़ाता है। इसके अलावा यह शरीर के वसा को भी कम करता है। इसलिए अपने आहार में नियमित रूप से एंटीऑक्सिडेंटयुक्त आहार का सेवन रोजाना करना चाहिए।
  • भारतीय एन्टिओक्सीडेंटयुक्त आहार में राजमा, अनार, चुकंदर, लहसुन, किवी, अदरक, टमाटर, करौंदे, काले सैतूत, धनिया तथा डार्कचॉकलेट इत्यादि अधिक मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट शरीर को देते है।

एंटीऑक्सीडेंट के क्या लाभ है ? (What are the Benefits of Antioxidants in Hindi)

एंटीऑक्सीडेंट के अनेको स्वास्थ्य लाभ है। एंटीऑक्सीडेंट फ्री रेडिकल्स से होने वाले रोगो को दूर करता है। एंटीऑक्सीडेंट बढ़ती उम्र के साथ-साथ कई साडी समस्याओं को भी कम कर देती है। जैसे डायबिटीज, रक्तचाप, दृष्टि, हृदय की समस्या को ठीक रखने में सहायता करते है। इसके अलावा रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में मदद करते है। एंटीऑक्सीडेंट के फायदों के बारे में विस्तार से जानकारी प्राप्त करते है।

  • सूजन को कम करने में :- आहार में एंटीऑक्सीडेंट की कमी होने से शरीर में सूजन की समस्या होने लगती है। इन समस्याओं को दूर करने के लिए अपने आहार में नियमित रूप से एंटीऑक्सीडेंट सम्मिलित करे। जिससे सूजन जैसी समस्या दूर होने लगेगी।
  • आंखो को अच्छा रखने में :- आंखो को स्वस्थ रखने के लिए एंटीऑक्सीडेंट तत्व बहुत महत्वपूर्ण होता है। विटामिन सी आंखो के लिए बहुत फायदेमंद मानी जाती है। उम्र के साथ बढ़ती आंखे कमजोर होने लगती है। इन्हे मजबूत व दृष्टि तेज रखने के लिए एंटीऑक्सिडेंटयुक्त आहार का सेवन करना चाहिए।
  • डायबिटीज को नियंत्रण में रखने के लिए :- फ्री रेडिकल्स के कारण डायबिटीज का खतरा और बढ़ने लगता है। ग्लूकोज को अधिक लेने से कोशिकाएं प्रभावित होने लगती है। ऐसे स्थिति में डायबिटीज हो जाता है। डायबिटीज को कम करने के लिए एंटीऑक्सीडेंट सबसे अच्छा तत्व माना जाता है। आहार में एंटीऑक्सीडेंट लेने से शुगर नियंत्रण में रहता है।
  • कैंसर के जोखिम को कम करने में :- कुछ शोधकर्ताओं के अनुसार कैंसर के दौरान शरीर में एंटीऑक्सीडेंट की बहुत कमी हो जाती है। इसलिए अधिक मात्रा में एंटीऑक्सिडेंटयुक्त आहार लेने से कैंसर के जोखिम कम होने लगते है। चिकिस्तक भी कैंसर के मरीजों को एंटीऑक्सिडेंटयुक्त आहार का सेवन करने की सलाह देते है। (और पढ़े – ओट्स के फायदे कैंसर से बचाव करने में)
  • दिमाग को स्वस्थ रखने के लिए :- फ्री रेडिकल्स से मस्तिष्क की तंत्रिका तंत्र को होने वाले नुकसान से बचाने में मुश्किल होता है। फ्री रेडिकल्स कई रोगो के कारण बनते है। इस अवस्था में अल्जाइमर, मनोभ्रस व अवसाद हो सकता है। इसलिए दिमाग को स्वस्थ रखने के लिए एंटीऑक्सीडेंट बहुत फायदेमंद होता है।
  • इम्युनिटी बढ़ाने में :- कुछ विशेषयज्ञो के अनुसार विटामिन ई, सी, सेलेनियम, बीटा केरोटीन और जस्ता जैसे पोषक एंटीऑक्सीडेंट शरीर की इम्युनिटी में सुधार करने में मदद करते है। शरीर को मजबूत करते है। जिससे कोई बीमारी ना हो पाये। (और पढ़े – इम्युनिटी कैसे बढ़ाते है)

एंटीऑक्सीडेंट की कमी से होने वाले नुकसान ? (Antioxidants Deficiency and Disadvantage in Hindi)

एंटीऑक्सीडेंट की कमी से होने से अनेको बीमारी हो सकती है। इनके कुछ लक्षण भी देखने को मिल सकते है।

  • थकान।
  • त्वचा और बालो में समस्याएं।
  • कमजोर याददाश्त।
  • घाव भरने में परेशानी होना।

एंटीऑक्सीडेंट आहार के बारे में अधिक जानकारी के लिए जनरल फिजिशियन से (General Physician) संपर्क करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

three × 4 =