जानिए सर्दियों में त्वचा की देखभाल कैसे करे। Winter Skin Care Tips in Hindi.

Login to Health नवम्बर 13, 2019 Lifestyle Diseases 59 Views

Winter Skin Care Tips Meaning in Hindi.

गर्मियों के मौसम में आप अपनी त्वचा का बेहद खास ख्याल रखते है,  सी तरह सर्दियों के मौसम में भी त्वचा की देखभाल करना बहुत आवश्यक होता है। सर्दियों के मौसम में हवाएं शुष्क होने से त्वचा की नमी हट जाती है और इस कारण त्वचा रूखी हो जाती है। ड्राई स्किन के अलावा तैलीय त्वचा का भी खास ध्यान रखना चाहिए। आज इस लेख में हम आपको सर्दियों के मौसम में त्वचा की देखभाल कैसे करें और त्वचा के प्रकार के अनुसार कैसे करना है यह बताने वाले है ताकि आप आने वाले सर्दियों में अपनी त्वचा की अच्छी देखभाल कर पाएंगे।

  • सर्दियोंमें रूखी त्वचा की देखभाल ? (Winter me Dry Skin Care in Hindi)
  • सर्दियोंमें तैलीय त्वचा की देखभाल ? (Winter me Oily Skin Care in Hindi)
  • सर्दियोंमें संवेदनशील त्वचा की देखभाल ? (Winter me Sensitive Skin Care in Hindi)

सर्दियों में रूखी त्वचा की देखभाल ? (Dry skin care during winters in Hindi)

सर्दियों में रूखी त्वचा की देखभाल कुछ इस प्रकार है।

  • गुनगुनेपानी का उपयोग– सर्दियों के मौसम में गर्म पानी का उपयोग करने के बजाय गुनगुने पानी का उपयोग फायदेमंद होता है  र्म पानी त्वचा की मॉइस्चराइज को छिन लेता है इसलिए गुनगुने से अपने त्वचा की सफाई करनी चाहि। गुनगुने पानी त्वचा की सफाई ही नहीं बल्कि तनाव भी दूर करता है।
  • सर्दियोंमें अधिक पानी पियें– सर्दियों के मौसम में दिन में आठ से दस ग्लास पानी पीना चाहिए। पानी अधिक पिने से शरीर हाइड्रेड बना रहता है और त्वचा भी मॉइस्चराइज होती है। अधिक पानी पीने के अलावा आप ऐसे फल का सेवन कर सकते है। जो शरीर में पानी की मात्रा को बढ़ाते है। जैसे: संतरा, तरबूज, खीरा आदि। (और पढ़े – संतरा के फायदे और नुकसान)
  • मॉइस्चराइजरका उपयोग करे– सर्दियों में अपनी त्वचा की देखभाल करने के लिए मॉइस्चराइजर का उपयोग करना चाहिए। सर्दियों केवल पानी लगाने से मॉइस्चराइजर ना करे बल्कि ऑयल बेस्ड यानि तेल आधारित मॉइस्चराइजर का उपयोग करे। मॉइस्चराइजर में मौजूद तेल आपकी त्वचा में नमी को बनाये रखता है। त्वचा रूखी होने से बचाव करता है। इससे आपके चेहरे पर अलग ही चमक नजर आती है।
  •  मास्कया पील का उपयोग  करे– अगर आपकी त्वचा रूखी है तो आपको फेस मास्क,  लकोहॉल युक्त स्किन टोनर का उपयोग नहीं करना चाहिए। इनके उपयोग से आपकी त्वचा की मॉइस्चर छीन सकता है। इसके अलावा आप त्वचा पर क्लीजिंग मिल्क व सौम्य क्लींजर, बिना एलकोहॉल युक्त फेस मास्क का उपयोग कर सकते है।

सर्दियों में तैलीय त्वचा की देखभाल ? (Oily skin care during winters in Hindi)

सर्दियों में तैलीय त्वचा की देखभाल इस प्रकार है।

  • अधिकपानी पिये – दिन में कम से कम 8 से 10 ग्लास पानी पीना चाहिए। इससे आपकी त्वचा हाइड्रेड रहेगी और शरीर से विषाक्त पदार्थ भी दूर होते है।
  • सहीतरह के मॉस्चराइजर का चुनाव करे– सर्दियों में तैलीय त्वचा का खास ध्यान देना चाहिए। तैलीय त्वचा के लिए ऑयल फ्री मॉस्चराइजर का उपयोग करे। मॉस्चराइजर त्वचा के अनुसार बाजार आसानी से मिलते है। विटामिन इ युक्त मॉस्चराइजर तैलीय त्वचा के लिए फायदेमंद होता है। फेस वाश करने के बाद मॉस्चराइजर जरूर करे।
  • पेट्रोलियमजेली का उपयोग करें– सर्दियों में होठो या चेहरे पर पेट्रोलियम जेली का उपयोग ना करे। केवल हर्बल जेली का उपयोग करे, क्योंकि यह नुकसान दायक नहीं होता है।
  • आयलफ्री मेकअप ना लगाए– आप जब बाजार में मैकअप का सामान लेते है जैसे फाउंडेशन, फेस पाउडर, कंसीलर आदि। तो इस बात का विशेष ध्यान रखे यह सब आयल आधारित नहीं होना चाहिए। रोजाना के मेकअप में सामन्य रूप से आयल के गुण होते है, जो तैलीय त्वचा के लिए अच्छा नहीं होता है। इसके अलावा आप ऐसे प्रोडक्ट का उपयोग करे, जो लंबे समय तक चेहरे पर टिका रहे।

सर्दियों में संवेदनशील त्वचा की देखभाल ? (Sensitive skin care during winters in Hindi)

सर्दियों में संवेदनशील त्वचा की देखभाल इस प्रकार है।

  • त्वचाको मॉइस्चराइज करे– सर्दियों में संवेदनशील त्वचा अधिक प्रभावित होती है। एमलियेंट युक्त मॉइस्चराइजर का उपयोग त्वचा पर करे। त्वचा पर मॉइस्चराइजर दिन में दो बार करे और मॉइस्चराइजर करने के बाद थोड़ा मसाज किया करे
  • संवेदनशीलत्वचा पर सनक्रीम जरूर लगाए– सर्दियों के मौसम में लोगो को लगता है धुप नहीं निकल रहा है, तो चेहरे पर सनक्रीम लगाने की जरूरत नहीं है। यह लोगो की गलत धारणा है। सर्दियों में धुप ना निकले लेकिन पराबैंगनी किरण वातावरण में फैला होता है। इन सब से बचाव करने के लिए घर से बाहर जाने पर चेहरे पर सनक्रीम जरूर लगाए।

(और पढ़े – विटामिन डी की कमी)

  • शरीरको हाईड्रेड रखें– अपने शरीर को हाईड्रेड रखने के लिए दिन में 8 से 10 ग्लास पानी पिये। पानी अधिक पिने से विषाक्त पदार्थ मूत्र के माध्यम से बाहर निकल जाते है। पानी अधिक पिने से त्वचा में चमक बनी रहती है।
  • त्वचाको अधिक एक्सफोलिएट ना करे– अगर आपकी त्वचा संवेदनशील है, तो आपको एक्सफ्लोटिंग मास्क नहीं लगाना चाहिए। इससे त्वचा में रेसस,लालिमा व सूजन आ जाता है। इसके बजाय आप सौम्य स्क्रब का उपयोग कर सकते है।

हमारा उद्देश्य केवल आपको जानकारी देना है, ना की किसी प्रकार के दवा, उपचार, घरेलु उपचार की सलाह नहीं देते है।आपको एक चिकिस्तक ही अच्छा सलाह दे सकता है क्योंकि चिकिस्तक से अच्छा कोई नहीं होता है

अगर आपको त्वचा संबंधित किसी प्रकार की समस्या हो रही है, तो किसी अच्छे डर्मेटोलॉजी (Dermatology) से संपर्क करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

five − two =