क्या चिकन कोरोना वायरस को बढ़ाता हैं। Kya Chicken Coronavirus Ko Badata Hai in Hindi

Login to Health मार्च 25, 2020 Lifestyle Diseases 15 Views

Coronavirus Meaning in Hindi

कोरोना वायरस का आतंक लोगो में बढ़ाता जा रहा है, जिसके कारण मौत का आंकड़ा कम होने के बजाय बढ़ता जा रहा हैं। ऐसे में लोगो के मन में कई सवाल आ रहे है की इस वायरस से कैसे बचे और खाने में क्या खाना सही रहेगा। कई लोग के मन में चिकेन और मिट को लेकर काफी डर फ़ैल गया है उनको लगता है चिकन खाएंगे तो कोरोना वायरस का शिकार हो जाएंगे। वायरस को लेकर लोगो में इतना डर फैल गया हैं की किसी भी अफवाह को सच मान लेते हैं। खासतौर पर जो लोग चिकन खाने के अधिक शौकीन है उनमे डर बैठ गया है जो की लाजमी है। हालांकि सोशल मिडिया व अन्य खबरो में सी फ़ूड व चिकन न खाने की सलाह दे रहे है जो की काफी तेज मैसेज से लोगो के पास पहुंच रहा है। चिकन और कोरोना वायरस के संबंध के बारे में भारत सरकार के पशू[पालन व मत्स्य पालन ने अपनी रिपोर्ट में जानकारी दी है। चलिए चिकन खाने से कोरोना वायरस होता है या नहीं इस लेख में जानकारी प्राप्त करेंगे।

  • क्या चिकन खाने से कोरोना वायरस फैलता हैं। (Kya Chicken Khane se Coronavirus Failta Hai in Hindi)
  • कोरोना वायरस क्या हैं ? (Coronavirus Kya hai in Hindi)
  • कच्चा चिकन व अंडा क्यों नहीं खाना चाहिए ? (Kaccha Chicken aur Anda Kyo Nahi Khana Chahiye in Hindi)
  • कोरोना वायरस को रोकने के लिए क्या सावधानी रखें ? (Coronavirus Ko Rokne Ke Liye Kya Sawdhaani Rakhe in Hindi)

क्या चिकन खाने से कोरोना वायरस फैलता हैं। Kya Chicken Khane se Coronavirus Failta Hai in Hindi.

सरकार की एक रिपोर्ट के अनुसार कोरोना वायरस एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फैलता है, जिसका मुर्गी और मछली से कोई संबंध नहीं है। संक्रमण लोगो से लोगो में फैलता जा रहा है। हालांकि चिकिस्तक ने बहुत पहले से ही सलाह देते आ रहे है की किसी भी मांस को पूरी तरह पका हुआ ही केवल सेवन करना चाहिए। कच्चा मांस खाने से बचें।

कोरोना वायरस क्या हैं ? (Coronavirus Kya Hai in HIndi)

कोरोना वायरस एक तरह का संक्रमण है जिसको कोविड 19 के नाम से जाना जाता है। कोरोना वायरस व्यक्ति के शरीर में बुखार, सर्दी-जुखाम की शुरुवात करता है। इसके अलावा श्वसन समस्या को जटिल बना देता है और गुर्दे के लिए जोखिम खड़ा कर देता है। यह ऐसा वायरस है जो एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में आसानी से फ़ैल जाता है। किसी संक्रमित व्यक्ति के खांसने व छींकने के संपर्क में आने से दूसरा व्यक्ति संक्रमित हो जाता है। इसलिए जितना हो सके लोग अपने हाथ की सफाई रखें। यह इतना खतनाक इसलिए है की इसकी कोई वैक्सीन बन नहीं पाई है हालांकि इस पर अभी शोद चल रहा हैं। (और पढ़े – कोरोना वायरस से जुडी खास बातें)

कच्चा चिकन व अंडा क्यों नहीं खाना चाहिए ? (Kaccha Chicken aur Anda Kyo Nahi Khana Chahiye in Hindi)

जैसा की हमने आपको आगे के लेख में बताया है की चिकन व मछली खाने से कोरोना वायरस नहीं होता है। लेकिन शरीर के स्वास्थ्य को नजर में रखकर इस बात पर ध्यान देने की जरुरत है। जितना हो सके खाने को पका हुआ ही खाएं। अधिक साफ सफाई का ध्यान रखे। स्वच्छता ही कोरोना का अंत है। चिकन और अंडा आप लेने जहा जा रहे है वहा कोई कोरोना पीड़ित तो नहीं या स्थान पर कोरोना संक्रमण तो नहीं इसलिए अधिक सावधानी बरतें। इसके अलावा आपको चिकिस्तक भी हमेशा एक बात सिखाते है चाहे कोई फल या सब्जी है तो उसे अच्छे से धोकर इस्तेमाल करे व मांस है तो भी अच्छे से साफ कर पूरी तरह से गैस पर पका ले तभी ही खाएं ताकि पेट संबंधित कोई समस्या का सामना न करना पड़े। (और पढ़े – कोरोना वायरस संक्रमण के लक्षण)

कोरोना वायरस को रोकने के लिए क्या सावधानी रखें ? (Coronavirus ko Rokne ke liye Kya Sawdhaani Rakhe in Hindi)

  • कोरोना वायरस से बचने के लिए अपने हाथ की साफ सफाई बार बार करे। इसके अलावा घर की वस्तुओ को साफ करते रहे क्योंकि जितनी अधिक सफाई होगी उतना ही कोरोना वायरस से बच सकेंगे।
  • कोरोना वायरस व्यक्ति से व्यक्ति में तेजी से फैल रहा है इसलिए आप जितना हो सके अपने घर में रहे बाहर न निकले। लोग जितना भीड़ से बचेंगे उतना ही कोरोना का जोखिम कम रहेगा।
  • अगर घर में किसी व जुखाम हो रहा है तो तुरंत चिकिस्तक से संपर्क करे।
  • पालतू जानवर और जंगली जानवर के संपर्क में आने से खुद का बचाव करें।
  • अगर बाहर है तो हाथ तो धो नहीं सकते इसलिए अपने पास सेनेटाइजर रखे और संक्रमण से बच सके।
  • अपने घरो के बच्चे को सेनेटाइजर के बारे में बताये ताकि बच्चें कोरोना से जागरूक हो।
  • अगर आप बाहर से घर में आते है तो बिना किसी वस्तु को हाथ लगाए अपने हाथो को साबुन से 20 सेकेंड तक मल मल कर धोएं।
  • अपने शरीर की इम्युनिटी को बढ़ाने के लिए हरी सब्जिया और विटामिन सी युक्त खाद्य पदार्थ का सेवन अधिक करें।
  • बूढ़े लोग बिना वजग अपने घरो से बाहर न निकले और लोगो से संपर्क बनाने के लिए मोबाईल तकनीक का उपयोग करे ताकि आप का समय खराब न हो और आप खुश भी रहे।
  • जिन लोगो को बीपी, डायबिटीज व हृदय की समस्या है उनको बाहर जाने से बचना चाहिए। खासतौर पर जिनकी उम्र 60 के ऊपर है वह घर में ही रहे और कोरोना से बचे। (और पढ़े – इम्युनिटी क्या है)

अगर आपको कोरोना वायरस के बारे में अधिक जानकारी चाहिए तो संक्रमण चिकिस्तक (Infection Diseases) से संपर्क करें।

हमारा उद्देश्य केवल आपको लेख के माध्यम से जानकारी देना है। हम आपको किसी तरह दवा, उपचार की सलाह नहीं देते है। आपको अच्छी सलाह केवल एक चिकिस्तक ही दे सकता है। क्योंकि उनसे अच्छा दूसरा कोई नहीं होता है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

16 − 4 =