लोगो में थकावट की समस्या क्यों होती है। Why Do People Get Fatigued in Hindi

Login to Health मार्च 18, 2019 Lifestyle Diseases 371 Views

आज हम बात करेंगे थकावट और कमजोरी के बारे में, आजकल सभी लोग थकवाट और कमजोरी से परेशान है। लोग दिन-रात बहुत मेहनत करते हैं। काम करते समय अधिक लैपटॉप पर बैठने से उनकी आँखो में बहुत थकान सी हो जाती हैं। जिसके कारण मस्तिष्क में अधिक पीड़ा होती हैं। जरुरी यह नहीं हैं की केवल ऑफिस के लोग ही परेशान हो, यह परेशानी किसी को भी हो सकती हैं। कुछ लोग अपने कामो की चिंता में रहते हैं और डिप्रेशन में चले जाते हैं।

थकावट कहने को मामूली हैं, किंतु यह मानसिक बीमारी का रूप ले लेता हैं। जिससे लोग जल्दी बहार नहीं निकल पाते हैं। थकावट से बचने के लिए नियमित रूप से व्यायाम और योगा करना चाहिए।

थकावट दूर करने के लिए हम कुछ और जानकारीया प्राप्त करेंगे।

  • थकावट क्यों होती है ? (Why Does Fatigue Occur in Hindi)
  • थकावट के कारण क्या है? (What are The Symptoms of Fatigue in Hindi)
  • थकावट का इलाज क्या है? (What are The Treatments for Fatigue in Hindi)
  • थकावट के घरेलु उपाय क्या है? (What are The Home Remedies for Fatigue in Hindi)

थकावट क्यों होती है? (Why Does Fatigue Occur in Hindi)

थकावट और कमजोरी दोनों एक सिक्के के दो पहलु की तरह होते हैं। जैसे की कुछ लोग अपने परिवार को लेकर बहुत परेशान रहते है और रात को अधिक सोचने लगते हैं। जिसके कारण मानसिक रूप से वह अस्वस्थ होने लगते है। चिंता में व्यक्ति कमजोर होने लगते हैं। जिससे कमजोर व्यक्ति को उल्टी और सिरदर्द शुरू हो जाता हैं। पुरुषो की तुलना में थकान महिलाओं को तीन गुना अधिक होता हैं। इसका कोई विशेष उपचार नहीं लेकिन इसके लक्षणों को कम कर सकते हैं।

थकावट के कारण क्या है ? (What are The Symptoms of Fatigue in Hindi)

  • शोधकर्ता द्वारा इस बात की पुष्टि अभी नहीं हो पाई हैं, की वायरल संक्रमण होने के बाद व्यक्ति को थकावट होती हैं। कुछ शोधकर्ता का मानना हैं। माउस ल्यूकेमिया वायरस के प्रभाव में थकावट होती हैं। इस बात की भी पुष्टि हो नहीं पाई हैं।
  • बाजार में मिलने वाले डिब्बे बंद पदार्थो के सेवन से एलर्जी होती हैं। एलर्जी से व्यक्ति बहुत परेशान हो जाता हैं और उनके स्वभाव में चिड़चिडापन आ जाता हैं।
  • लोग हमेशा अपने काम को लेकर परेशान एवं पारिवारिक समस्याओ से उदास और हताश हो जाते हैं।
  • शारीरिक और मानसिक रूप से परेशान व्यक्ति को जल्दी नींद नहीं आती हैं।
  • मधुमेह ग्रस्त व्यक्ति को थकावट बहुत जल्दी होती हैं।
  • तनाव के कारण भी थकावट हो सकती हैं।
  • थकावट किसी भी उम्र के लोगो को होती हैं। सामान्य रूप से ४० से ५५ उम्र के लोगो को अधिक थकावट होती हैं।

थकावट के इलाज क्या है ? (What are The Treatments for Fatigue in Hindi)

थकान सभी को होती हैं। सभी की अलग -अलग समस्या होती हैं। इसका इलाज थकान के प्रभावों पर निर्भर होता हैं। थकवाट के इलाज के लिए कुछ दवाइयों का उपयोग किया जाता हैं।

  • घरेलु उपाय से अगर ठीक नहीं हो पाते हैं। ऐसे में डॉक्टर नींद की गोली लेने का सुझाव देते हैं।
  • जब पूरी तरह थकान और परेशानी हो तो एंटीडीप्रेसन्ट की दवाएं थोड़ी बहुत काम आती हैं।

थकावट के घरेलु उपाय क्या है ? (What are The Home Remedies for Fatigue in Hindi)

  • (Home remedies) आपको रोजाना सात से आठ घंटे सोना चाहिए।
  • दिन में एक घंटे में तीन से चार ग्लॉस पानी पीना चाहिए।
  • पपीते का बीज,बादाम,हरी चाय, केला और सुबह एक आवला खाये।
  • व्यायाम और योगा करे मानसिक तनाव कम होता हैं।

 

अगर आप थकावट या कमजोरी से परेशान हो चुके है। थकावट से जुडी जानकारी या इलाज करवाना हो, तो General Physician Doctor जनरल फिजिशियन डॉक्टर से संपर्क करे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

3 × three =