ब्रोकली स्वास्थ के लिए क्यों लाभदायक होता है। Why Broccoli is Good for Health

Login to Health अगस्त 8, 2019 Lifestyle Diseases 296 Views

Broccoli Meaning in Hindi.

ब्रोकली एक हरे रंग की स्वादिष्ट सब्जी है। आजकल बाजारों में बड़े पैमाने पर ब्रोकली की मांग बढ़ने लगी है। बाजार में ब्रोकली हमेशा उपलब्ध रहता है। ब्रोकली का उपयोग सलाद,सुप,करी बनाने में किया जाता है। यह खाने में बहुत स्वादिष्ट होता है। ब्रोकली के फूल और डंठल का भी उपयोग खाने में किया जाता है। इसमें बहुत तरह के पोषक तत्व और विटामिन होता है। जो शरीर को स्वस्थ बनाये रखने में मदद करता है और रोग की प्रतिरोधक छमता को बढ़ाती है। चलिए ब्रोकली (हरी फूल गोभी) के बारे में और अधिक जानकारी प्राप्त करे।

  • ब्रोकली क्या है ? (What is Broccoli Meaning in Hindi)
  • ब्रोकली बनाने का सही तरीका क्या है ? (The Correct Way to Cook Broccoli in Hindi)
  • ब्रोकली खाने के फायदे क्या है ? (What are The Benefits of Eating Broccoli in Hindi)
  • ब्रोकली खाने के नुकसान क्या है ? (What are The Side-Effects of Eating Broccoli in Hindi)

ब्रोकली क्या है ? (What is Broccoli Meaning in Hindi)

ब्रोकली एक सब्जी है जिसे भारत में हरी फूल गोभी कहते है। यह पत्तागोभी और फूल गोभी की तरह सब्जी है। लेकिन ब्रोकली का पत्ता बहुत कड़वा होता है। जो खाने योग्य नहीं होता है। ब्रोकली में विटामिन 'ए', विटामिन 'सी', फाइबर, कैल्शियम, पोटैशियम, एंटी आक्सिडेंट्स जैसे तत्व पर्याप्त मात्रा में होता है। जो शरीर को मजबूत बनाये रखने में मदद करता है एव रोगो के संक्रमण को रोकता है।

ब्रोकली बनाने का सही तरीका क्या है ? (The Correct Way to Cook Broccoli in Hindi)

  • ब्रोकली को नाश्ते,ब्रेकफास्ट और डिनर में शामिल कर सकते है। ब्रोकली का उपयोग सब्जी बनाने एव सलाद बनाने के लिए किया जाता है। ब्रोकली का सेवन रोटी,चावल,पराठे के साथ कर सकते है।
  • ब्रोकली बनाने की विधि :- पहले ब्रोकली को काटले और इसके डंठल और फूल को अलग कर ले और पानी से अच्छी तरह से साफ़ कर ले।
  • एक बर्तन में पानी ले और गैस पर रख दे जब पानी में उबाल आने लगेगा तब इसमें कटी हुई ब्रोकली डाल दे।
  • जब ब्रोकली उबल जाएगी तब ब्रोकली का रंग हल्का हरा और डंठल नर्म हो जायेगा। एक छलनी की सहायता से ब्रोकली को छान ले।
  • अब गैस पर कढ़ाई रखे और उसमे मक्खन डाल दे। मक्खन के पिघलने के बाद उसमे प्याज,लहसुन,हरी मिर्च,जीरा,अदरक डालकर अच्छे से पकाये।
  • अब इन मसालों में नमक और उबली हुई ब्रोकली अच्छे से मिश्रण कर ले और पानी मिला दे। सारे मिश्रण होने के बाद नींबू डाल दे और थोड़ी देर गैस पर पकने के लिए छोड़ दे।
  • कुछ देर पकने के बाद ब्रोकली को एक बाउल में निकाल ले और उसमे कटी हुई हरी धनिया मिला दे। ब्रोकली की सब्जी तैयार हो गयी। इस तरह से ब्रोकली की सब्जी बनाते है।

ब्रोकली खाने के फायदे क्या है ? (What are The Benefits of Eating Broccoli in Hindi)

  • ब्रोकली में सल्फोराफेन यौगिक होता है जो कैंसर रोग को रोकने में मदद करता है। कैंसर पीड़ित व्यक्ति को ब्रोकली अधिक खाना चाहिए।
  • ब्रोकली में पोटैशियम,मैग्नीशियम एंटी आक्सिडेंट्स तत्व होता है। जो उच्च रक्त चाप को नियंत्रण करता है इसलिए ब्रोकली का सेवन करना चाहिए।
  • यदि कोई व्यक्ति ह्रदय का मरीज है तो उसे ब्रोकली का सेवन अधिक करना चाहिए क्योकि ब्रोकली में विटामिन सी प्रचुर मात्रा में होता है जो ह्रदय मरीज के लिए बहुत फायदेमंद होता है। (और पढ़े -हार्ट अटैक क्या है)
  • आहार में अन्य सब्जियों के मुकाबले ब्रोकली खाने से अधिक फायदा मिलता है। ब्रोकली खाने से शरीर में वसा की मात्रा कम होती है जिससे शरीर का वजन नहीं बढ़ता है।
  • ब्रोकली में बीटा केरोटीन,विटामिन इ,बी कॉम्प्लेक्स जैसे तत्व होते है जो त्वचा के लिए बहुत फायदे मंद होता है। यह त्वचा की समस्या को दूर करता है। चेहरे को और निखरता है।
  • अगर व्यक्ति की आंखो में किसी प्रकार की समस्या हो रही है तो ब्रोकली का सेवन करना चाहिए इसके पोषक तत्व आंखो के लिए अच्छा होता है। (और पढ़े – शकरकंद के फायदे आंखो के लिए)
  • ब्रोकली का सेवन करने से हड्डियों में मजबूती आती है और दर्द की समस्या नहीं होती है। इसमें विटामिन के प्रचुर मात्रा में पाया जाता है।
  • यदि महिलाये बालो को स्वस्थ और मजबूत करना चाहती है तो ब्रोकली का सेवन जरूर करे। ब्रोकली बालो की जड़ो को मजबूत करता है और बालो की गिरने की समस्या को कम करता है। (और पढ़े – बादाम के फायदे बालो के लिए)
  • मस्तिष्क सम्बंधित विकारो को कम करने लिए ब्रोकली का सेवन करना चाहिए क्योकि ब्रोकली दिमाग की याददाश्त को तेज और स्मरण शक्ति को बढ़ाता है।

ब्रोकली खाने के नुकसान क्या है ? (What are The Side-Effects of Eating Broccoli in Hindi)

  • ब्रोकली खाने के अधिक फायदे होते है। लेकिन कोई भी चीज का इस्तेमाल सही मात्रा में नहीं करने उसका दुष्परिणाम हो सकता है। उसी प्रकार ब्रोकली का सेवन करने से होता है।
  • ब्रोकली के अधिक सेवन करने से गैस और आंतो में जलन की समस्या होती है।
  • जिन व्यक्तियो को वायु गैस की समस्या होती है उनको सिमित मात्रा में ब्रोकली का सेवन करना चाहिए।
  • थॉयराइड पीड़ित मरीजों को ब्रोकली का सेवन बहुत ही सीमित मात्रा में करना चाहिए क्योकि ब्रोकली में प्रचुर मात्रा में फाइबर होता है।
  • गर्भवती महिला को ब्रोकली का सेवन सीमित मात्रा में करना चाहिए लेकिन डॉक्टर की सलाह लेकर ही सेवन करने का निर्णय ले।

अगर आपको ब्रोकली का नियमित सेवन करने से स्वास्थ में किसी प्रकार की समस्या उत्पन्न हो रही है। तो तुरंत ब्रोकली का सेवन सीमित कर दे और अपने नजदीकी (General Physician) जनरल फिजिशियन डॉक्टर से संपर्क करे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

three × 3 =