जानिए हल्दी के फायदे और नुकसान। Turmeric in Hindi

Login to Health मार्च 25, 2019 Lifestyle Diseases, Uncategorized 591 Views

Turmeric Meaning in Hindi

हल्दी भारतीय परंपरा के अनुसार महिलाये सब्जी में हल्दी डालने की प्रकिया करती है। हल्दी रोग के प्रतिरोधक क्षमता को कम करता है अर्थ यह रोग को बढ़ने नहीं देता है। पुराणों में ऋषि मुनि ने हल्दी को रोग प्रतिरोधक कहा है और वर्तमान समय में हल्दी के उपटन व क्रीम चेहरे को निखारने के लिए उपयोग किया जाता है। (World Research) वर्ल्ड रिसर्च ने टेस्ट करने के बाद कहा है। भारतीय हल्दी में करयुमन केमिकल पाया जाता है और हमारे पडोसी देश पाकिस्तान और बांग्लादेश की हल्दियो में नहीं पाया जाता है।

हल्दी के फायदे ? (Benefits of Turmeric in Hindi)

  • हल्दी कोलेस्ट्रॉल लेवल को कम करता है और रक्त को गाढ़ा करता है।
  • हल्दी का सेवन करने से व्यक्ति को हार्टअटैक व स्ट्रोक की संभावना कम हो जाती है।
  • हल्दी को पानी में मिलकर पीने से Bile Flow बढ़ता है और पाचनक्रिया अच्छा रहता है। वसा और फैट के लेवल को Boost करता है व संक्रमण से बचाता है।
  • हल्दी कैंसर के मरीजों के लिए बहुत फायदेमंद होता है क्योंकि हल्दी में करयुमन नाम का केमिकल होता है जो जीवाणुओं के संक्रमण को कम करता है। हल्दी में लीला हल्दी व आंबा हल्दी के रसो को पीना चाहिए।
  • हल्दी पानी पीने से शरीर में Lipopolysaccharides बढ़ाता है और शरीर को इन्फेक्शन होने से बचता है।
  • हल्दी के सेवन से शरीर के इम्यून सिस्टम को बढ़ावा मिलता है।
  • व्यक्ति के जोड़ो के दर्द में हल्दी  Arthritis को रोकता है।
  • हल्दी को 1 ग्लास पानी में आधा चम्मच मिलाकर सुबह उठते ही गर्म कर के पीये शरीर में रोग होने की संभावना कम हो जाती है।
  • व्यक्ति को सर्दी जुखाम की शिकायत है तो हल्दी को पानी या दूध में मिलाकर पीये सर्दी जुखाम से जल्दी राहत मिलेगी।
  • किसी व्यक्ति को अगर सूर्य में जाने से शरीर में जलन होती है जिसे अंग्रजी में Sun Bun कहते है इसे ठीक करने के लिए हल्दी का पेस्ट त्वचा पर लगाया जाता है जिससे धुप में जाने से जलन नहीं होगी।
  • चेहरे को सुंदर और साफ़ करने के लिए हल्दी को दूध और पानी में मिलाकर पीना चाहिए।
  • गले के कैंसर के लिए ताजा आंबा हल्दी को शहद में मिलाकर पीये।
  • गले का क्रास बच्चों को टोन्सन होता है जिसे टोनर्सिलाइर्ट कहते है इसे दूर करने के लिए सूखा हल्दी का उपयोग गाय के दूध व शहद के साथ करे।
  • कफ, सूजन को ठीक करने लिए हल्दी का उपयोग बहुत फायदेमंद होता है।
  • शरीर में कैल्शियम की मात्रा बढ़ाने के लिए दूध के साथ हल्दी का उपयोग करे।
  • शरीर में चोट लगने पर हल्दी का पेस्ट लगाने पर चोट जल्दी ठीक हो जाता है।
  • रक्त को साफ़ करने लिए हल्दी का सेवन बहुत लाभदायक होता है। हल्दी में ऐसे रासायनिक तत्व होते है जो शरीर को बीमार होने से बचाता है।
  • वैज्ञानिक के शोध में हल्दी को आर्युर्वेदिक उपचार कहा गया है।

हल्दी के नुकसान ? (Drawbacks of Turmeric in Hindi)

  • गर्भवती महिला को हल्दी का सेवन नहीं करना चाहिए क्योंकि हल्दी शरीर में गर्माहट उत्पन्न करते है इसलिए हल्दी सेवन करने से बचे।
  • स्तनपान करने वाली महिलाओ को हल्दी का अधिक सेवन करना सेहत के लिए हानिकारक होता है।
  • पथरी के मरीजों को हल्दी का सेवन करने से बचना चाहिए क्योकि यह उनके स्वास्थ के लिए अच्छा नहीं होता है।
  • अगर किसी व्यक्ति को पेट में अल्सर है तो हल्दी सेवन नहीं करना चाहिए क्योकि हल्दी उनके स्वास्थ के लिए सही नहीं है।
  • पिताशय के रोग वाले मरीजों को हल्दी का सेवन नहीं करना चाहिए। इसके कारण उनके रोगो को बढ़ावा मिलता है।

हल्दी को सही मात्रा में कैसे उपयोग करते है ? (How to Use Turmeric in The Right Quantity)

हल्दी व्यक्ति के चोट और दर्द को ठीक करता है। हल्दी का उपयोग सही मात्रा में करना चाहिए।

जैसे: हल्दी पाउडर का उपयोग कर रहे है, तो दिन में दो बार दूध के साथ हल्दी 1.2 ग्राम से 2.5 ग्राम ले।

पानी के साथ हल्दी का उपयोग कर रहे है, तो पानी की मात्रा135 मिलीलीटर होनी चाहिए और हल्दी15 ग्राम होनी चाहिए।

हल्दी अर्क (चाय) के लिए उपयोग कर रहे है 10 से 30 ड्राप लेना चाहिए।

अगर हल्दी के सेवन से आपको स्वास्थ संबंधित कोई समस्या है, तो आप अपने नजदीकी जनरल फिजिशियन डॉक्टर (General Physician) से संपर्क करे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

fifteen − seven =