प्रोस्टेट सर्जरी क्या होता हैं। Prostate Surgery in Hindi

Login to Health नवम्बर 3, 2020 Lifestyle Diseases 207 Views

English हिन्दी

प्रोस्टेट सर्जरी क्या होता हैं ?

प्रोस्टेट सर्जरी एक सर्जिकल प्रक्रिया है जिसमे प्रोस्टेट ग्रंथि के आंशिक या पूर्ण को हटा दिया जाता है। प्रोस्टेट सर्जरी को दूसरे शब्दो में प्रोस्टेटैक्टोमी भी कहा जाता है। हालांकि प्रोस्टेट कैंसर, बढ़े हुए प्रोस्टेट या सौम्य प्रोस्टेटिक हाइपरप्लासिया के रोगियों पर किया जाता है। प्रोस्टेट कैंसर मेटास्टेटिक को बदल सकते है क्योंकि और हड्डियों और लिम्फ नोड्स जैसे शरीर के अन्य हिस्सों में फैल सकता है। इसलिए प्रोस्टेट के सर्जिकल प्रक्रिया द्वारा हटाने से उस घटना को रोका जा सकता है। चलिए आज के लेख में प्रोस्टेट सर्जरी क्या होता हैं के बारे में विस्तार से बताते है।

  • प्रोस्टेट सर्जरी क्यों किया जाता हैं ? (What are the Purpose of Prostate surgery in Hindi)
  • प्रोस्टेट सर्जरी कैसे की जाती हैं ? (What are the Procedure of Prostate surgery in Hindi)
  • प्रोस्टेट सर्जरी के बाद देखभाल ? (How to Care After Prostate surgery in Hindi)
  • प्रोस्टेट सर्जरी की जटिलताएं ? (What are the Risks of Prostate surgery in Hindi)
  • भारत में प्रोस्टेट सर्जरी कराने का कितना खर्च लगता हैं ? (What is Cost of Prostate surgery in India in Hindi)

प्रोस्टेट सर्जरी क्यों किया जाता हैं ? (What are the Purpose of Prostate surgery in Hindi)

प्रोस्टेट कैंसर आमतौर पर स्पष्ट लक्षणों के साथ मौजूद नहीं होता है। हालांकि कभी-कभी, कुछ लक्षण स्पष्ट हो सकते हैं। प्रोस्टेट कैंसर से संबंधित लक्षणों में शामिल हैं।

  • पेशाब के दौरान जलन और दर्द।
  • स्थिर प्रवाह को बनाए रखने में कठिनाई और पेशाब करने में कठिनाई।
  • मूत्र या वीर्य में रक्त।
  • रात में पेशाब का बढ़ना।
  • दर्दनाक स्खलन होने में कठिनाई।
  • पैल्विक क्षेत्र और पैरों में दर्द। (और पढ़े – पुरुषो के कामेच्छा में कमी)
  • हड्डी में दर्द।

प्रोस्टेट सर्जरी कैसे की जाती हैं ? (What is the Procedure of Prostate surgery in Hindi)

सर्जरी करने से पहले चिकिस्तक कुछ परीक्षण कर सकते है। इन परीक्षण में पता लगाया जाता है की समस्या क्या है।

  • प्रारंभिक परीक्षण आमतौर पर पीएसए (प्रोस्टेट-विशिष्ट एंटीजन) और डिजिटल रेक्टल परीक्षा (डीआरई) हैं।
  • PSA परीक्षण प्रारंभिक निदान के साथ मदद करता है क्योंकि उच्च PSA कैंसर होने की अधिक संभावना को इंगित करता है। हालांकि यह निर्धारित करने में भी मदद करता है कि कैंसर ने मेटास्टेसाइज़ किया है या नहीं।
  • यदि DRE और PSA परीक्षणों के परिणाम कैंसर के संकेत हैं, तो प्रोस्टेट की बायोप्सी भी की जा सकती है। (और पढ़े – ब्लड कैंसर के कारण)

प्रोस्टेट सर्जरी मुख्य रूप से दो प्रकार से की जाती है।

  • ओपन एप्रोच रेडिकल प्रोस्टेटक्टॉमी (Open approach Radical Prostatectomy) ओपन प्रोस्टेटेक्टॉमी सर्जरी के पारंपरिक रूप को संदर्भित करता है जिसमें त्वचा में एक ही लंबा चीरा (कट) बनाकर प्रोस्टेट को हटाया जाता है। ओपन प्रोस्टेटेक्टमी को दो अलग-अलग तरीकों से किया जा सकता है।
  • रेडिकल रेट्रोपिक प्रोस्टेटैक्टॉमी (Radical retropubic prostatectomy) इस प्रकार की सर्जरी में निचले पेट से जघन की हड्डी तक चीरा लगाना शामिल है। इस चीरा के माध्यम से प्रोस्टेट को हटा दिया जाता है। इस प्रकार की सर्जरी सर्जन को पास के ऊतक और लिम्फ नोड्स तक पहुंच प्रदान करती है जो प्रभावित हो सकती है।
  • रेडिकल पेरिनियल प्रोस्टेटैक्टॉमी (Radical perineal prostatectomy) इस प्रक्रिया में चीरा गुदा और अंडकोश (पेरिनेम) के बीच बना होता है। इस प्रकार की सर्जरी तब की जाती है जब रेट्रोप्यूबिक सर्जरी जटिलताओं का कारण बन सकती है। यह रेट्रोप्यूबिक सर्जरी की तुलना में कम अवधि तक रहता है और रिकवरी तेज और कम दर्दनाक हो सकती है।
  • रेडिकल प्रोस्टेटेक्टॉमी के लिए लैप्रोस्कोपिक दृष्टिकोण (Laparoscopic approach to radical prostatectomy) – यह प्रक्रिया तुलनात्मक रूप से कम आक्रामक है और विशेष उपकरणों की मदद से प्रोस्टेट को हटाने के लिए कई छोटे चीरों को बनाकर किया जाता है।
  • लेप्रोस्कोपिक कट्टरपंथी प्रोस्टेटैक्टमी (Laparoscopic radical prostatectomy)ह एक छोटी ट्यूब के साथ कई छोटे सर्जिकल उपकरण, एक छोर पर एक कैमरा के साथ, प्रोस्टेट को हटाने के लिए छोटे कटौती के माध्यम से डाला जाता है।
  • रोबोटअसिस्टेड लैप्रोस्कोपिक रैडिकल प्रोस्टेटक्टॉमी (Robotic-assisted laparoscopic radical prostatectomy) – रोबोटिक इंटरफ़ेस एक उपकरण है जो कैमरे से जुड़ा रहता है। इसका उपयोग चिकिस्तक ऑपरेटिंग कमरे में बैठकर रोबोटिक हथियारों को नियंत्रित और निगरानी की जाती है।

प्रोस्टेट सर्जरी के बाद देखभाल ? (How to Care After Prostate surgery in Hindi)

  • प्रोस्टेट सर्जरी के बाद मरीज को कम से कम तीन दिन रिकवरी के लिए रखा जाता है ताकि चिकिस्तक मरीज का उचित देखभाल कर सके।
  • हालांकि पोस्ट प्रक्रिया किसी भी बड़ी सर्जरी के समान ही होती है। यदि मरीज पूरी तरह ठीक न हो जाये तबतक आराम करना चाहिए।
  • चिकिस्तक द्वारा परीक्षा और परीक्षणों का पालन करना भी सुनिश्चित करने के लिए आवश्यक होगा कि रोगी ठीक हो रहा है और कैंसर की पुनरावृत्ति नहीं हुई है।
  • सर्जरी के बाद किसी भी तरह की शारीरिक गतिविधि करने से बचे जबतक आपके चिकिस्तक अनुमति न दे। (और पढ़े – पुरुषो नसबंदी क्या है)

प्रोस्टेट सर्जरी की जटिलताएं ? (What are the Risks of Prostate surgery in Hindi)

प्रोस्टेट सर्जरी से जुड़ी जटिलताएं किसी अन्य प्रमुख सर्जिकल प्रक्रिया के समान हो सकती है।

  • जैसे – रक्तस्राव।
  • पैरों या श्रोणि क्षेत्र में थक्के का निर्माण।
  • फुफ्फुसीय अन्त: शल्यता (रक्त के थक्के) या संक्रमण।
  • मूत्र असंयम (मूत्र को नियंत्रित करने में असमर्थता) व स्तंभन दोष (ईडी)
  • (और पढ़े – पेशाब में जलन की समस्या)

भारत में प्रोस्टेट सर्जरी कराने का कितना खर्च लगता हैं ? (What is Cost of Prostate surgery in India in Hindi)

भारत में प्रोस्टेट सर्जरी कराने का कुल खर्च लगभग INR 300000 से INR 400000 तक लग सकता है। हालांकि भारत में बहुत से बड़े अस्पताल के डॉक्टर है जो प्रोस्टेट सर्जरी का इलाज करते है। लेकिन सभी अस्पतालों में प्रोस्टेट सर्जरी का खर्च अलग-अलग है। अगर आप अच्छे अस्पतालों में प्रोस्टेट सर्जरी के खर्च व डॉक्टर के बारे में जानकारी के लिए (और पढ़े – प्रोस्टेट सर्जरी का इलाज खर्च)

अगर आप विदेश से आ रहे है तो आपकी प्रोस्टेट सर्जरी के इलाज के खर्च के अलावा होटल में रहने का खर्चा होगा, रहने का खर्चा होगा, लोकल ट्रेवल का खर्चा होगा। इसके अलावा सर्जरी के बाद मरीज को 3 दिन अस्पताल और 14 दिन होटल में रिकवरी के लिए रखा जाता है, इसलिए सभी खर्चे मिलाकर INR 453,760 होते है जो एक साथ अस्पताल में लिये जाते है। इसके बारे में अधिक जानकारी के लिए (और पढ़े – प्रोस्टेट सर्जरी का इलाज खर्च)

हमें आशा है की आपके प्रश्न प्रोस्टेट सर्जरी क्या होता हैं ? का उत्तर इस लेख के माध्यम से दे पाएं। 

अगर आपको प्रोस्टेट सर्जरी के बारे में अधिक जानकारी उपचार करवाना हो तो Urologist से संपर्क कर सकते हैं।

 हमारा उद्देश्य केवल आपको लेख के माध्यम से जानकारी देना है। हम आपको किसी तरह दवा, उपचार की सलाह नहीं देते है। आपको अच्छी सलाह केवल एक चिकिस्तक ही दे सकता है। क्योंकि उनसे अच्छा दूसरा कोई नहीं होता है।


Best Urologist in Delhi 

Best Urologist in Mumbai 

Best Urologist in Chennai

Best Urologist in Bangalore