कैटनिप क्या है । Benefits of Catnip in Hindi

Login to Health अप्रैल 16, 2021 Lifestyle Diseases 25 Views

हिन्दी Bengali

कैटनिप का मतलब हिंदी में,  (Catnip Meaning in Hindi)

कैटनिप क्या है ?

कैटनिप को कैटमिंट, कैट्सवोर्ट, फेल्ड बाम आदि नामो से जाना जाता है और इसका वनस्पति नाम नेपेटा केटेरिया है। यह एक बारामासी फूलो का पौधा है जो लमिआसीसे (Lamiaceae) परिवार की सदस्य है। इसका उपयोग बडे पैमाने पर दवाओं में किया जाता है और यह शरीर की कई तरह की समस्या  जैसे माइग्रेन, इंसोमेनिया, सामान्य सर्दी जुखाम, गठिया, बवासीर, अस्थमा व इन्फ्लुएंजा आदि को ठीक करने में मदद करता है। कैटनिप का उपयोग चाय के रूप में किया जाता है साथ ही पत्तियों का उपयोग सूप के फ्लवेर के लिए किया जाता है। बहुत से लोगो को कैटनिप के बारे में पता नहीं होगा, चलिए आज के लेख में आपको कैटनिप के बारे में विस्तार से बताने वाले हैं। 

  • कैटनिप के फायदे क्या हैं ? (What are the Benefits of Catnip in Hindi)
  • कैटनिप के उपयोग ? (Uses of Catnip in Hindi)
  • कैटनिप के नुकसान क्या हैं ? (What are the Side-Effects of Catnip in Hindi)
  • कैटनिप कितनी मात्रा में लेना सही हैं ? (Dosage of Catnip in Hindi)

कैटनिप के फायदे क्या हैं ? (What are the Benefits of Catnip in Hindi)

कैटनिप के निम्नलिखित फायदे होते है। चलिए आगे विस्तार से बताने वाले हैं। 

  • अनिद्रा दूर करने में अनिद्रा की समस्या किसी को भी हो सकती है वो चाहे बच्चा हो या वयस्क आदि में देखी जा सकती है। कैटनिप बच्चों और शिशुओं में चिड़चिड़ापन और बेचैन नींद के लिए एक लंबे समय तक चलने वाला बेहतरीन उपाय है। इसमें कुछ ऐसे विशेष गुण है जो शांत का अनुभव करवाते है। इसके अलावा यह जड़ी बूटी आरामदायक नींद के लिए प्रेरित करने में मदद करती है। कुछ अध्ययन के अनुसार कैटनीप अनिद्रा या अन्य नींद से संबंधित समस्याओं के लिए उपाय करने के लिए जाना जाता है। (और पढ़े – अनिद्रा का इलाज क्या है)
  • घाव व जलन को ठीक करने में कैटनिप में एंटीसेप्टिक गुण मौजूद होता हैं जो त्वचा के संक्रमण के उपचार में फायदेमंद होता हैं। इसमें टैनिन के उच्च स्तर होते हैं जो क्षतिग्रस्त ऊतकों की मरम्मत की प्रक्रिया को तेज करने में मदद करते हैं और चराई और कटौती से रक्तस्राव को रोकते हैं। टैनिन जलन और चोटों, कीड़े के काटने, बवासीर और त्वचा की समस्याओं के साथ-साथ सूजन को ठीक करने में भी उपयोगी है।  (और पढ़े – नीम के फायदे मुँहासे के लिए)
  • तनाव कम करने में फायदेमंद तनाव एक सामान्य समस्या है लेकिन रोजाना होने से गंभीर बीमारी का जोखिम पैदा करने लगता है। तनाव को कम करने में कैटनिप प्रभावी जड़ीबूटी है। इसमें सक्रिय घटक “इरिडॉइड ग्लाइकोसाइड्स” हैं, जो तनाव व चिंता को कम करता है। हालांकि इस जड़ी-बूटियों का उपयोग चिंता व तनाव और अन्य तंत्रिका विकारों के इलाज के लिए उपयोग किया जाता रहा है। कुछ शोध के अनुसार यह जड़ीबूटी विशेष रूप से तनाव सिरदर्द के विरुद्ध अच्छी तरह से काम करता है और तनाव और चिंता से राहत दिलाता है परिणाम स्वरूप व्यक्ति में आराम की भावना उत्पन्न होती है। (और पढ़े – तनाव दूर करने के घरेलु उपचार)
  • पाचन क्रिया को मजबूत करें कैटनिप में कुछ ऐसे गुण मौजूद होते है जो पाचन संबंधित समस्या को ठीक करने में मददगार साबित होते है। कई लोगो में पाचन क्रिया सही से न होने पर अपच या गैस और कब्ज की समस्या होती है। ऐसे में इस जड़ीबूटी का उपयोग करना चाहिए ताकि इन समस्या से बचा का सके। (और पढ़े – कब्ज का इलाज)
  • बुखार ठीक करने में कैटनिप एक ऐसे जड़ीबूटी है जिसका उपयोग पुराने समय से बुखार के इलाज में किया जाता है। इसमें कुछ ऐसे गुण मौजूद है जो सर्दी व जुखाम के इलाज के लिए किया जाता हैं।  (और पढ़े – कोरोना वायरस से बचाव)

कैटनिप के उपयोग ? (Uses of Catnip in Hindi)

  • कैटनिप एक तरह की जड़ीबूटी है जिसका उपयोग मुख्य रूप से दवा में किया जाता है। 
  • यूरिन बढ़ाने के लिए कैटनिप का उपयोग टॉनिक के रूप में किया जाता है। 
  • माइग्रेन व एंजायटी के उपचार में कैटनिप का उपयोग किया जाता है। 
  • कैटनिप का उपयोग चाय बनाने में किया जाता है। 
  • पाइल्स की समस्या दूर करने में कैटनिप का उपयोग किया जाता है। 
  • पेट में बदहजमी व अपच की समस्या दूर करने में कैटनिप का उपयोग किया जाता है। (और पढ़े – बच्चों में बदहजमी की समस्या)

कैटनिप के नुकसान क्या हैं ? (What are the Side-Effects of Catnip in Hindi)

कैटनिप के फायदे तो कई है लेकिन कुछ परिस्थियों में नुकसानदायक हो सकता हैं। 

  • स्तनपान व गर्भावस्था के दौरान महिलाओं को कैटनिप का सेवन नहीं करना चाहिए, क्योंकि उनके स्वास्थ्य के लिए हानिकारक हो सकता हैं। 
  • अगर आप किसी तरह की सर्जरी करवाने वाले है तो सर्जरी के दो हफ्ते पहले कैटनिप का सेवन करना बंद कर दे। 
  • मासिकधर्म के दौरान महिलाओं को अत्यधिक कैटनिप का उपयोग नहीं करना चाहिए। (और पढ़े – मासिकधर्म देर से आने का कारण क्या है)
  • कैटनिप को अत्यधिक मात्रा में उपयोग नहीं करना चाहिए, इससे स्वास्थ्य पर हानिकारक प्रभाव पड़ सकता है। 
  • जो लोग विशेष तरह की दवा का सेवन करते है तो उनको कैटनिप का सेवन करने से पहले चिकिस्तक से सलाह लेना चाहिए। 
  • यदि कैटनिप से एलर्जी जैसे सिरदर्द, मलती होती है तो इसके उपयोग से बचना चाहिए। (और पढ़े – सिरदर्द यानि माइग्रेन क्या होता हैं)

कैटनिप कितनी मात्रा में लेना सही हैं ? (Dosage of Catnip in Hindi)

कैटनिप लेने की मात्रा सभी व्यक्तियों की स्तिथियो के आधार पर अलग-अलग हो सकती है। इसके अलावा किसी भी जड़ीबूटी की खुराक व्यक्ति के उम्र पर भी निर्भर करता है। वयस्कों में कैटनिप की मात्रा डेढ़ मिली दिन में दो या तीन बार ले सकते है। लेकिन किसी भी जड़ीबूटी का सेवन करने से पहले अपने चिकिस्तक की सलाह जरूर ले। यदि अधिक मात्रा लिया जाएं तो स्वास्थ्य पर बुरा प्रभाव पड़ सकता है। (और पढ़े – मंजिष्ठा के फायदे)

हमें आशा है की आपके प्रश्न कैटनिप क्या है ? का उत्तर इस लेख के माध्यम से दे पाएं। 

अगर आपको कैटनिप के उपयोग से स्वास्थ्य में किसी तरह की अनियमियता हो रही है, तो सामान्य चिकिस्तक (General Physician) से संपर्क कर सकते हैं। 

हमारा उद्देश्य केवल आपको लेख के माध्यम से जानकारी देना है। हम आपको किसी तरह दवा, उपचार की सलाह नहीं देते है। आपको अच्छी सलाह केवल एक चिकिस्तक ही दे सकता है। क्योंकि उनसे अच्छा दूसरा कोई नहीं होता है।


Best General Physician in Delhi

Best General Physician in Mumbai

Best General Physician in Chennai

Best General Physician in Bangalore