हर्बल टी के फायदे । Benefits of Herbal Tea in Hindi

Login to Health दिसम्बर 16, 2020 Lifestyle Diseases 224 Views

English हिन्दी

हर्बल टी का मतलब हिंदी में, (Herbal Tea Meaning in Hindi)

हर्बल टी एक तरह की आयुर्वेदिक चाय है जो सामान्य चाय की तरह बनाया जाता है। हर्बल चाय का उपयोग आज से नहीं बल्कि प्राचीन समय से किया जा रहा है। इस चाय में बहुत से पोषक तत्व और खनिज उपस्तिथ रहते है, ये स्वास्थ्य से संबंधित समस्या को रोकने में मदद करता है। हर्बल टी को रोजाना चाय की जगह सेवन करने से बहुत से लाभ होते है। हर्बल टी के फायदे, संक्रमण से बचाव करने में, डायबिटीज नियंत्रित करने में, वजन कम करने में, पेट की समस्या को ठीक करने में, तनाव को कम करने व त्वचा से जुडी समस्या को ठीक करने में मदद करता है। शायद बहुत से लोगो को हर्बल टी के बारे में अधिक पता नहीं होगा, तो चलिए आज के लेख के माध्यम से आपको हर्बल टी के बारे में विस्तार से बताते हैं।

  • हर्बल टी के पोषक तत्व ? (Nutrients value of Herbal Tea in Hindi)
  • हर्बल टी के फायदे ? (Benefits of Herbal Tea in Hindi)
  • हर्बल टी बनाने की विधि ? (Herbal Tea Recipe in Hindi)
  • हर्बल टी के नुकसान ? (Side-Effects of Herbal Tea in Hindi)

हर्बल टी के पोषक तत्व ? (Nutrients value of Herbal Tea in Hindi)

हर्बल टी का मतलब आयुर्वेदिक चाय है और हर्बल टी में बहुत से जड़ीबूटियों का उपयोग किया जाता है। हर्बल टी में अच्छी मात्रा में पोषक तत्व का समावेश होता है। इसमें मोनोसंसैचुरेटेड वसा, पॉलीअनसंसैचूरेटेड वसा, और कम मात्रा में सोडियम, पोटेशियम होता है। इसमें अच्छी मात्रा में विटामिन ए और विटामिन सी होता है और कोलेस्ट्रॉल बिलकुल भी नहीं होता है। यह शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में मदद करता है। (और पढ़े – रोगप्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए क्या पीना चाहिए)

हर्बल टी के फायदे ? (Benefits of Herbal Tea in Hindi)

हर्बल टी के बहुत से स्वास्थ्य लाभ है। चलिए आगे विस्तार से बताते हैं। 

  • पाचन क्रिया को मजबूत बनाने में पेट से जुडी समस्या जैसे पेट दर्द, पेट में ऐंठन, कब्ज, मलती, सूजन और दस्त आदि को ठीक करने में हर्बल चाय बहुत प्रभावी होता है। जैसा की आगे आपको बताया हर्बल चाय में कई तरह की औषधि व जड़ीबूटी का उपयोग किया जाता है जो पाचन क्रिया को मजबूत बनाने में मदद करते है। पेट की समस्या को रोकने के लिए चाय में दालचीनी, अदरक, पुदीना, कैमोमाइल जैसी जड़ीबूटियों का उपयोग कर हर्बल टी बनाई जाती है। अगर आपकी पाचन क्रिया कमजोर है तो इस चाय का सेवन कर सकते है। (और पढ़े : कहवा चाय पिने के फायदे)
  • रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में हमारे शरीर में रोगप्रतिरोधक क्षमता बीमारी और संक्रमण से रक्षा करती है। यदि यह कमजोर हो जाये तो रोग प्रतिरोधक क्षमता कमजोर होने लगती है और साथ ही मनुष्य बीमार पड़ने लगता है। शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए हर्बल टी का उपयोग करना चाहिए। इसमें अच्छी मात्रा में विटामिन सी होता है और कई तरह के मिनरल्स मौजूद है जो शरीर को शक्तिशाली बनाते है और रोगो से बचाते है। (और पढ़े – इम्युनिटी बढ़ाने के लिए क्या खाना चाहिए)
  • मस्तिष्क स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद अत्यधिक तनाव मस्तिष्क को बीमार करता है और अन्य रोग का जोखिम बनता है। यदि मस्तिष्क को बीमारियों से बचाव करना है तो पहले तनाव को दूर करना चाहिए। हर्बल टी ऐसी ही आयुर्वेदिक चाय है जो तनाव और चिंता को कम करने में मदद करती है। आयुर्वेदिक चाय मस्तिष्क के रक्त परिसंचरण में सुधार करने में भी मदद करती है। दिमाग की याददाश्त को तेज रखने में मदद करती है। हर्बल टी बनाने के लिए अदरक, गुलाब, पुदीना, सिंहपर्णी का मिश्रण कर पिये। 
  • अनिद्रा दूर करने में फायदेमंद –  हर्बल टी अनिद्रा की समस्या को दूर करने में फायदेमंद होता है। कैमोमाइल का उपयोग कर हर्बल टी बनाये और सेवन करे आपकी नींद न आने की समस्या कुछ दिन में समाप्त होने लगेगी। 

हर्बल टी बनाने की विधि ? (Herbal Tea Recipe in Hindi)

  • जिस तरह आप घरो में सामान्य चाय बनाते है उसी तरह हर्बल टी को बनाया जाता है। हालांकि सामान्य चाय में चायपत्ती, दूध, शक्कर साम्रगी का उपयोग होता है लेकिन हर्बल चाय में जड़ीबूटियों का उपयोग किया जाता है और इस चाय में कैफीन नहीं होता है। 
  • हर्बल टी बनाने के लिए औषधि, जड़, फूल, पत्ती, बीज आदि साम्रगी को पानी में उबालकर उपयोग किया जाता है। इस तरह की आयुर्वेदिक चाय शरीर को पोषक तत्व प्रदान करती है और रोगो से बचाव करती है। हर्बल टी स्वास्थ्य के अनेको तरह की समस्या को कम करने में फायदेमंद होता है। हर्बल टी में एंटी इंफ्लेमेटरी के गुण होते है जो शरीर की रक्षा करते है। 
  • कुछ विशेषज्ञ के अनुसार हर्बल चाय में उपयोग की जाने वाली घटक को अलग भाग में सक्रीय करते है। इसमें से एक भाग उत्प्रेरक और दो भाग सहायक होता है। हर्बल टी स्वादिष्ट, लाभकारी होती है जो शरीर को संतुलित करती है। (और पढ़े – मसाला चाय के फायदे)

हर्बल टी के नुकसान ? (Side-Effects of Herbal Tea in Hindi)

हर्बल टी यानि आयुर्वेदिक चाय हमारे स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होता है, लेकिन कुछ दुर्लभ स्तिथि में कुछ नुकसानदायक परिणाम हो सकते है। 

  • हर्बल टी में उपयोग की जाने वाली जड़ीबूटियों की मात्रा कम रखनी चाहिए, क्योंकि अधिक मात्रा में करने से स्वास्थ्य को नुकसान पहुंच सकता है। 
  • अगर आप किसी विशेष प्रकार की दवा का सेवन करते है तो हर्बल टी लेने से पहले चिकिस्तक की सलाह लेनी चाहिए। 
  • हर्बल टी जड़ीबूटियों से बनाई जाती है और जड़ीबूटियों में कुछ ऐसे जड़ीबूटी है जो जहरीले होते है। इनका अधिक उपयोग करने से शरीर को नुकसान हो सकता है। 
  • जिन जड़ीबूटियों से किसी को एलर्जी होती है उनका उपयोग हर्बल टी में नहीं करना चाहिए। (और पढ़े – रोजमेरी टी के फायदे और नुकसान)

हमें आशा है की आपके प्रश्न हर्बल टी के फायदे ? का उत्तर इस लेख के माध्यम से दे पाएं। 

अगर आपको हर्बल टी के सेवन से स्वास्थ्य में किसी तरह की समस्या हो रही है, तुरंत इसका सेवन करना बंद कर दे और सामान्य चिकिस्तक (General Physician) से संपर्क करें। 

हमारा उद्देश्य केवल आपको लेख के माध्यम से जानकारी देना है। हम आपको किसी तरह दवा, उपचार की सलाह नहीं देते है। आपको अच्छी सलाह केवल एक चिकिस्तक ही दे सकता है। क्योंकि उनसे अच्छा दूसरा कोई नहीं होता है।


Best General Physician in Delhi

Best General Physician in Mumbai

Best General Physician in Bangalore 

Best General Physician in Chennai