पाइल्स मरीजों के लिए डाइट प्लान । Diet Plan For Piles Patient in Hindi

मई 6, 2021 Lifestyle Diseases 2337 Views

हिन्दी

पाइल्स का मतलब हिंदी में,   (Piles Patient Meaning in Hindi)

पाइल्स मरीजों के लिए डाइट प्लान

आजकल लोग कब्ज जैसी परेशानियों को बहुत आसानीपूर्वक लेते है, किंतु ये कब्ज धीरे-धीरे बवासीर का रूप लेने लगता है कहते है की बवासीर उम्रदराज लोगो को होता है। परंतु आजकल के खान पान और जंक खाना (बरगर, पिज़्ज़ा, तेलिययुक्त पदार्थ) से युवको और बच्चो में भी पाया जा रहा है, अच्छे से शौच नहीं होना ये भी बवासीर की तरफ इशारा करता है। शौच करते समय ज्यादा दाब लगाने पर भी शौच ना होना और शौच के के साथ रक्तश्राव आना यह भी इस रोग का मुख्य कारण है। इसे  अंग्रेजी में इंग्लिश में पाइल्स या हेमोर्रोइड्स भी केहते है। इस रोग में गुदा द्वार में मस्से निकल आते है, जो शौच करते समय रक्तश्राव के साथ में बहार आते है और बहुत पीड़ा देते है, यह अंदरूनी और बाहरी दो प्रकार की होती है। चलिए आज के लेख में आपको पाइल्स मरीजों के लिए डाइट प्लान के बारे में बताने वाले हैं। 

  • पाइल्स क्या हैं ? (What is Piles in Hindi)
  • पाइल्स मरीजों के लिए डाइट प्लान ? (Diet Plan For Piles Patient in Hindi)
  • पाइल्स के मरीजों को क्या खाना चाहिए ? (Foods for Piles Patient in Hindi)
  • पाइल्स के मरीजों को क्या नहीं खाना चाहिए ? (Foods for Avoid in Piles Patient in Hindi)
  • पाइल्स के मरीजों की जीवनशैली ? (Lifestyle for Piles Patient in Hindi)

पाइल्स क्या हैं ? (What is Piles in Hindi)

बवासीर को दूसरे शब्दो को हेमोर्रोइड्स कहा जाता है। यह एक ऐसा रोग है जो किसी भी उम्र के व्यक्ति को हो सकता है। बवासीर से पीड़ित लोगो को समझ नहीं आता है की आहार में क्या खाएं और क्या नहीं खाएं। गलत खान पान होने के कारण बवासीर की समस्या उभरने लगती है। बहुत से लोग मल न त्यागने के वजह से क्रीम या दवा का उपयोग करते है। अत्यधिक दवा पर निर्भर होने के बजाय अपने भोजन में बदलाव करने की जरूत होती है।

पाइल्स मरीज के लिए का डाइट प्लान ? (Diet Plan For Piles Patient in Hindi)

पाइल्स के मरीज को लिए डाइट प्लान बता रहे है नमूने के तौर पर , यदि आपको किसी तरह के खाद्य पदार्थ से एलर्जी है तो इनसे परहेज कर सकते हैं। 

  • सुबह का नाश्ता में चार इडली, एक चम्मच चटनी, टमाटर चटनी, उपमा, पोवा ले सकते हैं। 
  • मध्य नाश्ते में ग्रीन स्प्राउट्स, कोई भी एक फल केला, आड़ू, संतरा, ब्लू बेरी ले सकते है। 
  • दोपहर के खाने में दो या तीन रोटी, एक कटोरी सलाद, एक या आधी कटोरी चिकन करी, एक ग्लास छाछ ले सकते है। 
  • शाम के भोजन में पोषक युक्त कोई फल का चुनाव कर सकते है। जैसे केला, संतरा, ब्लू बेरी, आड़ू आदि। 
  • रात के भोजन में दो रोटी, टमाटर, उपमा, हरी बीन्स सब्जी। (और पढ़े – टमाटर के फायदे और नुकसान)

पाइल्स के मरीजों को क्या खाना चाहिए ? (Foods for Piles Patient in Hindi)

पाइल्स के मरीजों को अपने खाने में निम्न खाद्य पदार्थो को शामिल करना चाहिए। चलिए आगे बताते हैं। 

  • फलिया के फायदे पाइल्स में – बवासीर में क्या खाना सही होता है यह सोच सभी के दिमाग में आता है। तो आपको बता दे, कुछ शोध के अनुसार फलिया का सेवन करना फायदेमंद होता है। फलियों में अच्छी मात्रा में फाइबर होता है जो बवासीर की समस्या को कम करता है। जैसा की पहले भी बताया फाइबर मल को नरम करने में मदद करता है और बवासीर के लक्षण को कम करता है।(और पढ़े – थाइरोइड में क्या खाना चाहिए)
  • ब्रोकली का सेवन लाभदायक बवासीर से पीड़ित लोगो को ब्रोकली का सेवन फायदेमंद होता है। इसमें उच्च मात्रा में फाइबर मौजूद होता है जो मल को उत्तेजित करता है। इसके अलावा सूजन व रक्तस्राव को कम करता है। बवासीर को बढ़ने से रोकता है रक्त वाहिकाओं में मल रुकने के कारण जलन को कम करता है।(और पढ़े – ब्रोकली के फायदे क्या है)
  • अनाज का सेवन बवासीर में फायदेमंद – कुछ विशेषज्ञ के अनुसार आहार में अनाज शामिल करने से बहुत फायदा मिलता है। अनाज में अच्छी मात्रा में फाइबर उपस्तिथ होता है जो मल को नरम बनाता है और कब्ज होने नहीं देता है। अनाज में दलिया व गेहूं बवासीर में उपयुक्त माना गया है।(और पढ़े – बवासीर क्या हैं)
  • शिमला मिर्च के फायदे – बवासीर के मरीज को भोजन में शिमला मिर्च को जरूर शामिल करना चाहिए। कुछ शोध के मुताबिक शिमला मिर्च बवासीर के लक्षण को कम करने में मदद करता है। इसलिए बवासीर की समस्या होने पर शिमला मिर्च का सेवन करना चाहिए।(और पढ़े – शिमला मिर्च के फायदे)
  • तरल पदार्थ का अधिक सेवन करें – बवासीर के मरीजों को अधिक मात्रा में तरल पदार्थ का सेवन करना चाहिए। एक दिन में कम से कम सात से आठ ग्लास पानी पीना चाहिए। इसके अलावा फलो के जूस जैसे गाजर या सेब के जूस भी पी सकते है।(और पढ़े – अस्थमा के लिए आहार)

पाइल्स के मरीजों को क्या नहीं खाना चाहिए ? (Foods for Avoid in Piles Patient in Hindi)

पाइल्स के मरीजों को निम्न चीजों का सेवन नहीं करना चाहिए। 

  • डायरी प्रोडक्ट्स जैसे – दूध, चीज आदि। 
  • सफ़ेद पास्ता। 
  • सफ़ेद ब्रेड। 
  • मैदे के कुकीज। 
  • रेड मिट। 
  • पैक बंद फ़ूड। 
  • तेल मसाले। 
  • चिप्स। 
  • आइसक्रीम। 

पाइल्स के मरीजों की जीवनशैली ? (Lifestyle for Piles Patient in Hindi)

पाइल्स के मरीजों की जीवनशैली इस तरह होनी चाहिए। 

  • फाइबर युक्त भोजन अपने आहार में शामिल करना चाहिए।
  • यदि आपको मल त्यागने का अनुभव हो रहा है तो शौच के लिए जाना चाहिए। ऐसा न करने से मल सुख जाता है और मल त्यागना कठिन हो जाता है।
  • अधिक मात्रा में तरल पदार्थ पीना चाहिए, इससे मल को नरम रखने में मदद मिलता है। दिन में छह से आठ गिलास पानी और अन्य तरल पदार्थ पीएं। लेकिन (शराब नहीं) पीना है। (और पढ़े – सुबह व्यायाम करने के फायदे)

हमें आशा है की आपके प्रश्न  पाइल्स मरीज के लिए डाइट प्लान का उत्तर इस लेख के माध्यम से दे पाएं। 

अगर आपको बवासीर (पाइल्स) के बारे में अधिक जानकारी व उपचार के लिए (Gastroenterologist) से संपर्क कर सकते हैं।

हमारा उद्देश्य केवल आपको लेख के माध्यम से जानकारी देना है। हम आपको किसी तरह दवा, उपचार की सलाह नहीं देते है। आपको अच्छी सलाह केवल एक चिकिस्तक ही दे सकता है। क्योंकि उनसे अच्छा दूसरा कोई नहीं होता है।


Best Gastroenterologist in Delhi

Best Gastroenterologist in Mumbai

Best Gastroenterologist in Chennai

Best Gastroenterologist in Bangalore


Login to Health

Login to Health

लेखकों की हमारी टीम स्वास्थ्य सेवा क्षेत्र को समर्पित है। हम चाहते हैं कि हमारे पाठकों के पास स्वास्थ्य के मुद्दे को समझने, सर्जरी और प्रक्रियाओं के बारे में जानने, सही डॉक्टरों से परामर्श करने और अंत में उनके स्वास्थ्य के लिए सही निर्णय लेने के लिए सर्वोत्तम सामग्री हो।

Over 1 Million Users Visit Us Monthly

Join our email list to get the exclusive unpublished health content right in your inbox