हीमोग्लोबिन की कमी क्या हैं । Hemoglobin Deficiency in Hindi

Login to Health मई 25, 2021 Lifestyle Diseases 3455 Views

हिन्दी

हीमोग्लोबिन की कमी का मतलब हिंदी में  (Hemoglobin Deficiency Meaning in Hindi)

Hemoglobin Deficiency

हीमोग्लोबिन की कमी क्या हैं ?

हीमोग्लोबिन की कमी एक सामान्य समस्या की तरह है। ऐसा इसलिए जरूरत अनुसार शरीर में विटामिन व खनिज की पूर्ति न होने से हीमोग्लोबिन की कमी होने लगती है। कई मामलो में बच्चे या वयस्क कुपोषण का शिकार हो जाते है। यदि महिला गर्भवती है तो उनके लिए स्तिथि गंभीर हो जाती है। हीमोग्लोबिन की कमी होने से रक्त प्रवाह में खून की कमी होने लगती है। शरीर में अत्यधिक ऑक्सीजन की कमी होने से शरीर में ऊर्जा की कमी और व्यक्ति बेहोश हो जाता हैं। इसके अलावा सांस फूलने की समस्या का जोखिम लगा रहता है। शरीर में हीमोग्लोबिन की कमी होने से त्वचा में पीलापन आ सकता हैं। खून की कमी होने से अनेक लक्षण नजर आने लगते है। कई मामलो में चिकिस्तक आयरन की कमी के लिए कुछ दवाइयों की खुराक देते है और अन्य कारण का पता लगाने के लिए कुछ निम्न जांच कर सकते है। चलिए आज के लेख में आपको हीमोग्लोबिन की कमी के बारे में विस्तार से बताने वाले हैं। 

  • हीमोग्लोबिन की कमी के कारण ? (What are the Causes of Hemoglobin Deficiency in Hindi)
  • हीमोग्लोबिन की कमी के लक्षण ? (What are the Symptoms of Hemoglobin Deficiency in Hindi)
  • हीमोग्लोबिन की कमी के निदान ? (Diagnoses of Hemoglobin Deficiency in Hindi)
  • हीमोग्लोबिन की कमी का इलाज ? (What are the Treatments for Hemoglobin Deficiency in Hindi)
  • हीमोग्लोबिन की कमी से बचाव ? (Prevention of Hemoglobin Deficiency in Hindi)

हीमोग्लोबिन की कमी के कारण ? (What are the Causes of Hemoglobin Deficiency in Hindi)

हीमोग्लोबिन की कमी किसी बीमारी का संकेत नहीं होता है। शरीर में सही मात्रा में प्रोटीन की मात्रा न मिलने पर हीमोग्लोबिन की कमी होने लगता है। महिलाओं के गर्भवती होने पर सामान्य तौर पर हीमोग्लोबिन के स्तर में कमी आ जाती है। कई मामलो में स्वास्थ्य की अन्य स्तिथि होने पर हीमोग्लोबिन की कमी का कारण बनता है। 

  • कैंसर। 
  • आयरन की कमी। 
  • ल्यूकेमिया। 
  • सिरोसिस। 
  • एड्स एच आई वी। 
  • मल्टीपल मायलोमा। 
  • लिंफोमा। 
  • अनुवांशिक असामान्यता। 
  • घाव से खून निकलना। 
  • महामारी में अधिक रक्तस्राव होना। 
  • रक्तदान हमेशा करना। 
  • पेट में अल्सर। 
  • पेट में कैंसर। 
  • बवासीर। 
  • सिकल सेल एनीमिया। 
  • विटामिन की कमी। 
  • हाइपोथायरिडजम। 
  • हेमोलाइटिस। 
  • मूत्राशय से खून बहना। (और पढ़े – किडनी स्टोन क्या हैं)

हीमोग्लोबिन की कमी के लक्षण ? (What are the Symptoms of Hemoglobin Deficiency in Hindi)

हीमोग्लोबिन की कमी के निम्नलिखित लक्षण नजर आ सकते हैं। 

  • जैसे – सिरदर्द होना। 
  • सांस फूलना। 
  • चक्कर आना। 
  • घबराहट होना। 
  • व्यायाम न कर पाना। 
  • चिड़चिड़ापन होना। 
  • थकान महसूस होना। 
  • ध्यान लगाने में कमी होना। 
  • कमजोरी महसूस करना। 
  • हाथ पैर ठंड होना।(और पढ़े – बुखार होने का कारण क्या हैं) 

यदि व्यक्ति अधिक थकान और मानसिक कार्य न होना, बार -बार संक्रमण होना आदि जैसे लक्षण नजर आने पर चिकिस्तक से संपर्क करना चाहिए। 

हीमोग्लोबिन की कमी के निदान ? (Diagnoses of Hemoglobin Deficiency in Hindi)

हीमोग्लोबिन की कमी का निदान करने के लिए चिकिस्तक सबसे पहले सामान्य परीक्षण करते है जिसमे आपके पिछले बीमारी इतिहास व लक्षण, शराब की लत के बारे में पूछते है। इसके अलावा शारीरिक परीक्षण के दौरान मरीज का ब्लड टेस्ट किया जाता है। कुछ अन्य टेस्ट भी कर सकते है। 

 Consult Now 

Jaslok Hospital, Mumbai

Apollo Hospital Bangalore

Medanta Medicity, Gurgaon

Apollo Hospital, Chennai

हीमोग्लोबिन की कमी का इलाज ? (What are the Treatments for Hemoglobin Deficiency in Hindi)

हीमोग्लोबिन का इलाज हीमोग्लोबिन की की के कारण के आधार पर किया जाता है। निम्न लोगो में आवश्कयता के अनुसार हीमोग्लोबिन का उपचार किया जाता है। 

  • यदि व्यक्ति के शरीर में हीमोग्लोबिन की कमी है तो महीने में एक बार चिकिस्तक उनको विटामिन का इंजेक्शन लगवाने की सलाह देते है। इसके अलावा टेबलेट की खुराक दे सकते है। 
  • यदि किसी व्यक्ति में फोलेट की कमी है तो उनको फोलेट की टेबलेट खाने की सलाह दी जाती है। 
  • शरीर में विटामिन बी 12 कम होने लगा है तो ऐसे में चिकिस्तक बी 12 का इंजेक्शन लगाने की सलाह देते है। अत्यधिक विटामिन बी 12 की कमी होने लगती है तो मुंह या इंजेक्शन के माध्यम से विटामिन देते है। 
  • यदि व्यक्ति में आयरन की कमी होती है तो आयरन युक्त सप्लीमेंट लेने की सलाह देते है। (और पढ़े – आयरन की कमी के कारण क्या हैं)
  • गर्भावस्था के दौरान महिला को आयरन के साथ पोषक तत्व की कमी अधिक हो जाती है। ऐसे में चिकिस्तक सप्लीमेंट्स लेने की सलाह देते है। 
  • यदि आहार में पोषक की कमी है और इस वजह से हीमोग्लोबिन की कमी है तो चिकिस्तक आपके आहार में बदलाव व विटामिन को शामिल कर सकते है। (और पढ़े – उच्च रक्त चाप क्या हैं)

हीमोग्लोबिन की कमी से बचाव ? (Prevention of Hemoglobin Deficiency in Hindi)

हीमोग्लोबिन की कमी से बचाव करने के लिए निम्न उपाय अपना सकते है। 

  • अपने आहार में स्वस्थ और संतुलित आहार को शामिल करना चाहिए। 
  • आयरन युक्त खाद्य पदार्थो को भोजन में अधिक लेना चाहिए। 
  • जितना हो सके चाय और कॉफी कम पीने की कोशिश करे क्योंकि यह हीमोग्लोबिन के स्तर को प्रभावित करता है। 
  • विटामिन सी युक्त फल का सेवन करना चाहिए। यह शरीर की इम्युनिटी को बढ़ाने में मदद करता है और रोगो से बचाव करता है। 
  • पर्याप्त मात्रा में विटामिन बी 12 और विटामिन बी 9 को शामिल करने का प्रयास करें। (और पढ़े – विटामिन सी की कमी के कारण)

हमें आशा है की आपके प्रश्न हीमोग्लोबिन की कमी क्या हैं ? का उत्तर इस लेख के माध्यम से दे पाएं। 

अगर आपको  हीमोग्लोबिन की कमी की समस्या के बारे में अधिक जानकारी व इलाज करवाना हो तो किसी अच्छे  (Hematologist) से संपर्क कर सकते हैं। 

हमारा उद्देश्य केवल आपको लेख के माध्यम से जानकारी देना है। हम आपको किसी तरह दवा, उपचार की सलाह नहीं देते है। आपको अच्छी सलाह केवल एक चिकिस्तक ही दे सकता है। क्योंकि उनसे अच्छा दूसरा कोई नहीं होता है।

Best Hematologist in Delhi

Best Hematologist in Mumbai

Best Hematologist in Chennai

Best Hematologist in Bangalore


Logintohealth Logintohealth Team

स्वास्थ्य सेवा क्षेत्र के लिए समर्पित लेखकों की एक टीम के रूप में, आप हमारी स्वास्थ्य जानकारी के केंद्र में हैं। हम चाहते हैं कि हमारे पाठकों को स्वास्थ्य के मुद्दे को समझने के लिए सबसे अच्छी सामग्री मिले, सर्जरी और प्रक्रियाओं के बारे में जानें, सुधारात्मक कार्रवाई करें और अंत में अपने स्वास्थ्य के लिए सही निर्णय लें। हमारा मिशन: यह सुनिश्चित करने के लिए कि आपके पास सही स्वास्थ्य सामग्री तक पहुंच है और आपको इस स्वास्थ्य जानकारी का उपयोग करने वाले सर्वोत्तम डॉक्टरों से सही सलाह मिलती है। सर्वोत्तम डॉक्टरों से बात करने के लिए www.logintohealth.com पर जाएं।