पेट में कीड़े के कारण, लक्षण, इलाज व बचाव। Intestinal Worms Causes, Symptoms, Treatments and Prevention in Hindi

दिसम्बर 20, 2019 Lifestyle Diseases 27348 Views

English हिन्दी Bengali

Intestinal Worms Meaning in Hindi

पेट में कीड़े की समस्या आम तौर पर बच्चो में देखी जाती है। यह कीड़े मनुष्य के आंतो में रहते है। यह कीड़े एक तरह के परजीवी होते है। यह परजीवी आंतो के भीतर रहकर सामग्री खाते है एव आंत के परत से रक्त चूसते है। यह कीड़े आंत में जीवित रह सकते है। लेकिन प्रजनन नहीं कर सकते है। पेट के कीड़े मनुष्य के स्वास्थ्य के लिए हानिकारक स्तिथि पैदा करते है। दूषित पानी और जानवरो के संपर्क में आने से मनुष्य संक्रमित होता है। पेट में कीड़े रहने से मनुष्य को विभिन्न प्रकार के लक्षण की स्तिथि पैदा होती है। जिन लोगो को पेट में कम कीड़े होते है। उनको लक्षणो का एहसास कम होता है। अगर गंभीर स्तिथि का अनुभव हो रहा है। तो चिकिस्तक से संपर्क करना चाहिए। चलिए Intestinal Worms के बारे में विस्तार से जानकारी प्राप्त करते है।

  • पेट में कीड़े के प्रकार ? (Types of Intestinal Worms in Hindi)
  • पेट में कीड़े के करण क्या है ? (What are the Causes of Intestinal Worms in Hindi)
  • पेट में कीड़े के लक्षण क्या है ? (What are the Symptoms of Intestinal Worms in Hindi)
  • पेट में कीड़े का इलाज क्या है ? (What are the Treatments for Intestinal Worms in Hindi)
  • पेट में कीड़े से बचाव ? (Prevention of Intestinal Worms in Hindi)

पेट में कीड़े के प्रकार ? (Types of Intestinal Worms in Hindi)

पेट में कीड़े व आंतो के कीड़े को परजीवी के नाम से जाना जाता है। इसके कुछ निम्न प्रकार है।

  • फ्लैटवॉर्म।
  • रॉउंडवॉर्मस।

पेट में कीड़े के करण क्या है ? (What are the Causes of Intestinal Worms in Hindi)

पेट में कीड़े अनेको कारण से हो सकते है।

  • जैसे- गलत खान-पान होना।
  • गंदे हाथों से भोजन करना।
  • अजीर्ण ( भूख का न लगना) में खाना खाने।
  • मक्खियों द्वारा दूषित आहार।
  • दूध, खट्ठी-मीठी वस्तुएं अधिक खाने,से।
  • मैदा खाने से।
  • पीसे हुए अन्न, कढ़ी, रायता, गुड़, उड़द, सिरका, कांजी,दही और संयोग विरुद्ध पदार्थों के खाने क्र कारण हो सकते है।
  • परिश्रम न करना और दिन में सोना आदि कारणों से पेट में कीड़े पैदा हो जाते हैं।

पेट में कीड़े के लक्षण क्या है ? (What are the Symptoms of Intestinal Worms in Hindi)

पेट में कीड़े होने के भिन्न भिन्न लक्षण मनुष्य में नजर आते है।

  • पेट में दर्द होना
  • स्वम् का वजन कम हो जाना।
  • आँखे लाल होना।
  • जीभ का सफ़ेद होना।
  • मुंह से बदबू आना।
  • गले में धब्बे पड़ना।
  • शरीर पर सूजन आना।
  • गुप्तांग में खुजली होना।
  • जी मचलना एव उलटी आना
  • मल त्याग करते समय खून आना।
  • दस्त लगना। (और पढ़े – डायरिया क्या है और डायरिया के लक्षण क्या है)

पेट में कीड़े का इलाज क्या है ? (What are the Treatments for Intestinal Worms in Hindi)

  • कुछ लोगो में पेट के कीड़े का इलाज नहीं करना पड़ता है। उनका अपने आप ही ठीक हो जाता है। कुछ लोगो को पेट में कम कीड़े होते है। उनको इसका अनुभव नहीं होता है। जिससे व इलाज करवाने नहीं जाते है। कुछ व्यक्तियों को गंभीर मामले में उपचार की आवशयकता होती है।
  • आंतो में कीड़े के उपचार के लिए चिकिस्तक कुछ दवाइया लिख देते है। इन दवाओं (प्राज़िक्वांटल,Praziquantel अल्बेंडाजोल Albendazole , नीताजोगनिदे Nitazoxanide ) से पेट के कीड़े मर जाते है। (और पढ़े – नीम के फायदे पेट के संक्रमण रोकने में)
  • परजीवी के संक्रमण के आधार पर चिकिस्तक दवा देते है।
  • कुछ मामलप में चिकिस्तक दवा का कोर्स पूरा करने के लिए कहते है। तथा खान-पान में कुछ बदलाव करने की सलाह देते है।

पेट में कीड़े से बचाव ? (Prevention of Intestinal Worms in Hindi)

पेट या आंत के कीड़े से बचने के लिए निम्न उपाय कर सकते है।

  • मांस व मछली को कच्चा या आधा पका नहीं खाना चाहिए।
  • नंगे पैर जोखिम वाले छेत्र पर ना जाये।
  • गुदा के आसपास के स्थान पर खरोच व खुजली करने से बचे।
  • भोजन बनाने से पहले एव शौच से आने के बाद अपने हाथो को अच्छी से धो ले।
  • स्वच्छता अधिक रखे। ताकि संक्रमण शरीर में प्रवेश ना कर सके।
  • फलो और सब्जियों को बहुत अच्छे से धो कर इसका उपयोग करे।
  • छोटे बच्चो को हाथ द्वारा मुँह और नाक को स्पर्श ना करने दे।
  • पेट में दर्द के शुरुवाती लक्षण दिखाई देने पर तुरंत चिकिस्तक से संपर्क करे।

अगर आपके पेट में कीड़े का अनुभव कर रहे हैं। तो बिना किसी देरी के जनरल फिजिशियन (General Physician)से संपर्क करे।


Login to Health

Login to Health

लेखकों की हमारी टीम स्वास्थ्य सेवा क्षेत्र को समर्पित है। हम चाहते हैं कि हमारे पाठकों के पास स्वास्थ्य के मुद्दे को समझने, सर्जरी और प्रक्रियाओं के बारे में जानने, सही डॉक्टरों से परामर्श करने और अंत में उनके स्वास्थ्य के लिए सही निर्णय लेने के लिए सर्वोत्तम सामग्री हो।

Over 1 Million Users Visit Us Monthly

Join our email list to get the exclusive unpublished health content right in your inbox