पैरासिटामोल क्या हैं । Details of Paracetamol in Hindi

मार्च 24, 2021 Lifestyle Diseases 2642 Views

हिन्दी

पैरासिटामोल का मतलब हिंदी में,  (Paracetamol Meaning in Hindi)

पैरासिटामोल क्या हैं ?

पैरासिटामोल दवा चिकिस्तक द्वारा सिफारिश की जाती है जो टैबलेट के रूप में उपलब्ध है। यह दवा मुख़्यतौर पर बुखार, दर्द के इलाज के लिए उपयोग किया जाता है। इसके अलावा कुछ अन्य स्वास्थ्य समस्या के इलाज के लिए पैरासिटामोल दवा का उपयोग किया जाता है। चिकिस्तक यह दवा आयु, लिंग व स्वास्थ्य की स्तिथि के अनुसार निर्धारित करते है। हालांकि दवा की खुराक व्यक्ति के स्तिथि के आधार पर देते हैं। कई मामलो में पैरासिटामोल का नुकसान हो सकता है जो लंबे समय तक रह सकता है या इलाज के बाद ठीक हो जाता है। यदि किसी व्यक्ति को दवा का सेवन करने से स्वास्थ्य पर बुरा प्रभाव पड़ता है तो दवा का उपयोग बंद कर चिकिस्तक से संपर्क करना चाहिए। गर्भावस्था के दौरान व स्तनपान करने वाली महिला के लिए इस दवा का उपयोग नुकसानदायक नहीं होता है। पैरासिटामोल दवा का सेवन केवल चिकिस्तक के सलाह से करना चाहिए। चलिए आज के लेख में आपको पैरासिटामोल के बारे में विस्तार से बताने वाले हैं। 

  • पैरासिटामोल के उपयोग और फायदे ? (Uses and Benefits of Paracetamol in Hindi)
  • पैरासिटामोल किसे निर्धारित किया जाता है ? (When Paracetamol is prescribed in Hindi)
  • पैरासिटामोल के साथ कौन सी दवा नहीं लेनी चाहिए ? (What medication should not be taken with Paracetamol in Hindi)
  • पैरासिटामोल के नुकसान ? (Side-Effects of Paracetamol in Hindi)
  • पैरासिटामोल का सेवन किन लोगो को नहीं करना चाहिए ? (Which people should not consume Paracetamol in Hindi)
  • पैरासिटामोल से संबंधित सावधानी ? (Paracetamol Related Warnings in Hindi) 

पैरासिटामोल के उपयोग और फायदे ? (Uses and Benefits of Paracetamol in Hindi)

पैरासिटामोल का उपयोग आमतौर पर बुखार व सिरदर्द के इलाज के लिए किया जाता है। इसके अलावा बदन दर्द की समस्या होने पर पैरासिटामोल दवा का उपयोग किया जाता है। स्वास्थ्य की अन्य समस्या जैसे जोड़ो में दर्द, कमर दर्द, पैरो में दर्द, दांत दर्द, एड़ी में दर्द, कलाई में दर्द, मांसपेशियो में दर्द, स्लिप डिस्क, आस्टियोआर्थराइटिस, माइग्रेन आदि के लिए उपयोग किया जाता है। मानसून की बीमारिया में डेंगू, मलेरिया, चिकनगुनिया, वायरल फीवर के इलाज में दवा का उपयोग किया जाता है। साइटिका, वृषण में सूजन जैसे समस्या के लिए पैरासिटामोल उपयोगी दवा के रूप में कार्य करता है। गर्भावस्था में ब्रेस्ट में दर्द, बुखार, सिरदर्द, बदन दर्द, ऐंठन, कमर दर्द, पेडू में दर्द आदि समस्या में चिकिस्तक पैरासिटामोल दवा की सलाह देते है।

पैरासिटामोल किसे निर्धारित किया जाता है ? (When Paracetamol is prescribed in Hindi)

चिकिस्तक पैरासिटामोल दवा बुखार, सिरदर्द, दर्द वाले लोगो के लिए निर्धारित करते है। इसके अलावा स्वास्थ्य की कुछ अन्य समस्या के लिए पैरासिटामोल दवा की सिफारिश कर सकते है। यदि व्यक्ति पहले से किसी बीमारी से ग्रस्त है तो चिकिस्तक इस दवा की सलाह नहीं देते है। (और पढ़े – अनवांटेड 72 क्या हैं)

पैरासिटामोल के साथ कौन सी दवा नहीं लेनी चाहिए ? (What medication should not be taken with Paracetamol in Hindi)

अगर पहले से किसी तरह का दवा का सेवन कर रहे है तो पैरासिटामोल का उपयोग करने से पहले चिकिस्तक की सलाह लेना चाहिए। बिना सलाह के दवा का उपयोग शरीर पर बुरा प्रभाव दल सकता है। चिकिस्तक की सलाह के बिना इनका सेवन न करें।

  • जैसे – कोलेस्टिरमाइन (cholestyramine)
  • डोमपरिडोन (domperidone)
  • कूमैरान्स (Coumarins)
  • एंटीकोनवल्सेन्ट्स (anticonvulsants)
  • मेटोक्लोप्रमाइड (metoclopramide)
  • प्रोबेनेसिड (probenecid)
  • क्लोरमफेनिकॉल (chloramphenicol) (और पढ़े – ग्लाइकोमेट क्या हैं)

पैरासिटामोल के नुकसान ? (Side-Effects of Paracetamol in Hindi)

पैरासिटामोल के निम्न दुष्परिणाम देखने को मिल सकते है। 

  • भूख में कमी आना। 
  • सूजन की समस्या होना। 
  • दस्त होना। 
  • कब्ज की समस्या होना। 
  • त्वचा पर लाल दाने आना। 
  • त्वचा में खुजली होना। 
  • त्वचा पर लाल चकत्ते पड़ना। 
  • त्वचा में जलन होना। 
  • हल्का पीलिया का जोखिम होना। 
  • गंभीर रूप से एनीमिया होना। 
  • लिवर को नुकसान पहुंचना। (और पढ़े – लिवर सिरोसिस की समस्या)
  • एडिमा होना। 
  • स्टीवन जॉनसन सिंड्रोम। 
  • सूई वाली जगह पर एलर्जी होना। 

अगर आपको इनमे से कोई लक्षण का अनुभव हो रहा है, तो दवा का सेवन बंद कर चिकिस्तक से तुरंत संपर्क करें।

पैरासिटामोल का सेवन किन लोगो को नहीं करना चाहिए ? (Which people should not consume Paracetamol in Hindi)

पैरासिटामोल का सेवन केवल चिकिस्तक की सलाह के अनुसार करना चाहिए। कुछ निम्न स्तिथियो में चिकिस्तक दवा का सेवन नहीं करने की सलाह दी जा सकती हैं। 

पैरासिटामोल से संबंधित सावधानी ? (Paracetamol Related Warnings in Hindi) 

  • गर्भावस्था पैरासिटामोल दवा का गर्भवती महिलाओं पर कोई खास दुष्परिणाम नहीं होता हैं। 
  • स्तनपान स्तनपान करने वाली महिलाओं को पैरासिटामोल दवा का सेवन कर सकते हैं। 
  • गुर्दा पैरासिटामोल दवा पर किडनी पर अधिक बुरा प्रभाव नहीं डालता है। इसका हानिकारक प्रभाव कम होता हैं। 
  • जिगर पैरासिटामोल दवा का बुरा प्रभाव लिवर पड़ सकता है। अगर किसी व्यक्ति में दवा का सेवन करने पर दुष्परिणाम होते है तो चिकिस्तक के सलाह के बाद ही सेवन करें।
  • हृदय पैरासिटामोल दवा का हृदय पर निम्न दुष्परिणाम हो सकते है। हालांकि हृदय रोग से ग्रस्त है तो चिकिस्तक से सलाह ले। (और पढ़े – हार्ट अटैक आने क कारण क्या हैं)

हमें आशा है की आपके प्रश्न पैरासिटामोल क्या हैं ? का उत्तर इस लेख के माध्यम से दे पाएं।

(अस्वीकरण (Disclaimer) : यहां निर्मित जानकारी हमारे ज्ञान और अनुभव में से सबसे अच्छी है और हमने इसे यथासंभव सटीक और अद्यतित बनाने के लिए अपनी पूरी कोशिश की है, लेकिन हम यह अनुरोध करना चाहते हैं कि इसे पेशेवर के विकल्प के रूप में नहीं माना जाना चाहिए। सलाह, निदान या उपचार।

Logintohealth हमारे दर्शकों को दवाओं के बारे में सामान्य जानकारी प्रदान करने का एक माध्यम है और इसकी सटीकता या थकावट की गारंटी नहीं देता है। यहां तक कि अगर किसी दवा या संयोजन के लिए चेतावनी का उल्लेख नहीं है, तो इसका मतलब यह नहीं है कि हम दावा कर रहे हैं कि दवा या संयोजन किसी विशेषज्ञ के साथ उचित परामर्श के बिना उपभोग के लिए सुरक्षित है।

Logintohealth दवाओं या उपचार के किसी भी पहलू की जिम्मेदारी नहीं लेता है। यदि आपको अपनी दवा के बारे में कोई संदेह है, तो हम आपको तुरंत एक डॉक्टर को देखने की सलाह देते हैं)


Login to Health

Login to Health

लेखकों की हमारी टीम स्वास्थ्य सेवा क्षेत्र को समर्पित है। हम चाहते हैं कि हमारे पाठकों के पास स्वास्थ्य के मुद्दे को समझने, सर्जरी और प्रक्रियाओं के बारे में जानने, सही डॉक्टरों से परामर्श करने और अंत में उनके स्वास्थ्य के लिए सही निर्णय लेने के लिए सर्वोत्तम सामग्री हो।

Over 1 Million Users Visit Us Monthly

Join our email list to get the exclusive unpublished health content right in your inbox