बवासीर (पाइल्स) सर्जरी क्या हैं। Piles Surgery in Hindi

अक्टूबर 2, 2020 Lifestyle Diseases 5483 Views

English हिन्दी Bengali العربية

Piles Surgery Meaning in Hindi. 

बवासीर (पाइल्स) सूजन (Piles Surgery Meaning in Hindi) और सूजन वाली रक्त वाहिकाएं गुदा में और निचले मलाशय में होती हैं। नसें सूज जाती हैं और पतली हो जाती हैं, जिससे मल त्याग करने में कठिनाई होती है। कई वयस्कों में पाइल्स आम हैं और पेट की अधिक दबाव के कारण कमजोर नसें बन जाती हैं। इस चरम दबाव के कई कारण हैं- गर्भावस्था, कम फाइबर आहार, लंबे समय तक बैठे रहना और मल त्याग के दौरान तनाव इत्यादि। पाइल्स या बवासीर दो प्रकार के होते हैं। जिसमे आंतरिक बवासीर और बाहरी बवासीर शामिल है। हालांकि आंतरिक बवासीर में मलाशय के अंदर स्थित होने के कारण महसूस या देखी नहीं जा सकती। बाहरी बवासीर जो गुदा में मौजूद होते हैं और इसलिए अधिक असुविधा और दर्द पैदा कर सकता हैं।

यह मल पास करने के दौरान महसूस किया जा सकता है और आंत्र में रक्त देखा जाता है। आपको बता दे, हेमेरोइडेक्टॉमी एक सर्जरी है जिसमे बवासीर का ऑपेरशन किया जाता है। यह सर्जरी तब की जाती है जब बवासीर का दर्द, खुजली व एनस के पास गांठ बन जाती है। इस सर्जरी में कम से कम 40 मिनट से अधिक का समय नहीं लगता है। सर्जरी से मरीज को सूजन और लालिमा से आराम दिलाता है। लेकिन सर्जरी में सूजन व रक्तस्राव का खतरा रहता है जो कुछ दिनों तक रह सकता है। सर्जरी के बाद मरीज को ठीक होने में कम से कम दो या तीन हफ्तों का समय लग सकता हैं। शायद बहुत से लोग सोच रहे होंगे बवासीर के ऑपेरशन कैसे होता है ? तो चलिए आज के लेख में पाइल्स सर्जरी के बारे में विस्तार से बताने का प्रयास करेंगे। 

  • पाइल्स सर्जरी क्यों की जाती हैं ? (Why Piles surgery is done in Hindi)
  • पाइल्स सर्जरी किन लोगो को करवाना चाहिए और किन लोगो नहीं ?(Which People should get the Surgery done in Hindi)
  • पाइल्स सर्जरी कैसे की जाती हैं ? (How Piles Surgery is Performed in Hindi)
  • पाइल्स के बाद देखभाल कैसे करें ? (How to take care after Piles Surgery in Hindi)
  • पाइल्स सर्जरी की जटिलताएं क्या हैं ? (What are the Complications of Piles Surgery in Hindi)
  • भारत में पाइल्स सर्जरी कराने का कितना खर्च लगता हैं ? (What is Cost of Piles Surgery in India in Hindi)

पाइल्स सर्जरी क्यों की जाती हैं ? (Why Piles surgery is done in Hindi)

पाइल्स सर्जरी निम्न कारणों से किया जाता है। 

  • गुदा से रक्तस्राव रोकने के लिए। 
  • बवासीर दर्द से राहत दिलाने के लिए। 
  • गुदा के आसपास खुजली हो रही हो। 
  • गुदा क्षेत्र में लाली। 
  • आंत्र में रक्त। 
  • गुदा में गांठ महसूस होना। 
  • मल त्याग करना(और पढ़े – मल में रक्त आने के कारण)
  • गुदा के आसपास सूजन। 

पाइल्स सर्जरी किन लोगो को करवाना चाहिए और किन लोगो नहीं ?(Which People should get the surgery done in Hindi)

पाइल्स की सर्जरी (Piles Surgery Meaning in Hindi)करने की सलाह चिकिस्तक ऐसे लोगो को देते है।

  • जैसे –  किसी व्यक्ति को आंतरिक बवासीर हो और बड़ा हो। 
  • बाहरी बड़े बवासीर। 
  • किसी को बाहरी व आंतरिक दोनों हो। 
  • रेग्युलेटेड हेमरॉइड हो आदि। 

पाइल्स सर्जरी की सलाह ऐसे लोगो नहीं दी जाती है जो पहले से किडनी या फेफड़े की बीमारी से ग्रस्त है। इसके अलावा अनियंत्रित रक्तस्राव संबंधित समस्या हो, पाचन तंत्र में सूजन हो या बेस लाइन फील इंकॉन्टीनेंस हो इत्यादि। (और पढ़े – फेफड़े ख़राब क्यों होते है)

पाइल्स सर्जरी कैसे की जाती हैं ? (How Piles Surgery is Performed in Hindi)

पाइल्स सर्जरी शुरू करने से पहले मरीज को जनरल एनेस्थिसिया दिया जाता है। इसलिए क्योंकि मरीज सर्जरी के दौरान सो जाएं और दर्द का अनुभव न कर पाएं। पाइल्स सर्जरी दो प्रकार से की जाती हैं। 

  • बवासीर बवासीर को दूर करने के लिए हेमोराहाइडेक्टोमी एक सर्जिकल प्रक्रिया है। यह सबसे प्रभावी उपचार है जिसमें चीरों को बवासीर के करीब ऊतक के चारों ओर बनाया जाता है। प्रभावित नस को बांधने से रक्तस्राव को रोका जाता है और रक्तस्राव को हटा दिया जाता है।
  • हेमोराहाइडोप्लेक्सी – हेमोराहाइडोप्लेक्सी, जिसे हेमोरहाइड स्टेपलिंग भी कहा जाता है, एक ऐसी प्रक्रिया है जिसमें चीरा लगाने की आवश्यकता नहीं होती है। एक परिपत्र उपकरण का उपयोग हेमोराहाइडल ऊतक को हटाने के लिए किया जाता है। हालांकि इसे वापस स्टेपल कर दिया जाता है।

इस सर्जरी के पूरा होने का समय पाइल्स की जगह कहा है और कितनी संख्या में इस पर निर्भर करता है। सामान्य तौर पर सर्जरी में 20 से 45 मिनट का समय लग सकता है। सर्जरी के बाद मरीज को दूसरे कमरे में शिफ्ट कर दिया जाता है। इसके अलावा एनेस्थिसिया से हुई सुस्ती से ठीक होने के लिए आराम दिया जाता है। हालांकि एक पतला कपडा मरीज के एनस में डाल देते है, लेकिन जबतक चिकिस्तक न कहे कपडा नहीं निकालना है क्योंकि मल त्याने के समय खुद से बाहर आ जाता है।  (और पढ़े – बवासीर क्या होता है)

पाइल्स के बाद देखभाल कैसे करें ? (How to take care after Piles Surgery in Hindi)

बवासीर सर्जरी (Piles Surgery Meaning in Hindi) होने के बाद आप गुदा और गुदा दर्द की संभावना हो सकती है। इस असुविधा को कम करने के लिए आपके चिकिस्तक एक दर्द निवारक दवा की खुराक देंगे। सर्जरी बाद मरीज की देखभाल कुछ निम्न तरह से कर सकते है। 

  • उच्च फाइबर युक्त आहार खाने में ले। 
  • प्रति दिन 8 से 10 गिलास पानी पीये और शरीर को हाइड्रेटेड रखे। 
  • स्टूल सॉफ्टनर (Stool Softner)का उपयोग करने से आपको मल त्याग के दौरान तनाव नहीं होगा। 
  • मरीज किसी भी ऐसी गतिविधि न करे जिसमे भारी वजन उठाना या खींचना हो। 
  • कुछ लोगों को पता चलता है कि सिट्ज़ बाथ पोस्टग्रेजल असुविधा को कम करने में मदद करता है। एक सिटज़ स्नान में गुदा क्षेत्र को गर्म नमक पानी के कुछ इंच में दिन में कई बार भिगोना शामिल है।
  • सर्जरी के बाद मरीज को बुखार है, तो आप पेशाब नहीं कर सकते हैं या पेशाब के साथ दर्द होना, चक्कर महसूस करना आदि समस्या का अनुभव करने पर अपने चिकिस्तक से संपर्क करें। 
  • चिकिस्तक कुछ सलाह दे सकते है। 
  • जैसे – अपने आहार में बदलाव करे, फाइबर वाले आहार ले, वजन कम करे, रोजाना व्यायाम करे और अधिक पानी पीए आदि। 

पाइल्स सर्जरी की जटिलताएं क्या हैं ? (What are the complications of Piles Surgery in Hindi)

बवासीर की सर्जरी से निम्न खतरे का जोखिम हो सकता है। 

  • कमजोरी होना। 
  • कब्ज होना। 
  • मल त्यागने की प्रक्रिया अनियंत्रित हो जाना। 
  • पेशाब करने में तकलीफ। (और पढ़े – पेशाब में जलन की समस्या)
  • एनल के भाग में संक्रमण। 
  • सर्जरी के जगह संक्रमण होना। 
  • गुदा विदर
  • खून बह रहा है
  • तेज़ बुखार आना। 
  • मल त्यागने में कठिनाई होना। 
  • गुदा क्षेत्र में लाली और दर्द होना। 

अगर आपको अत्यधिक सूजन और रक्त स्राव, दवा लेने कब्ज ठीक नहीं हो रहा है तो तुरंत चिकिस्तक को बताएं। 

भारत में पाइल्स सर्जरी कराने का कितना खर्च लगता हैं ? (What is cost of piles surgery in India in Hindi)

भारत में पाइल्स सर्जरी कराने का कुल खर्च लगभग INR 1,50,000 से INR 3,50,000 लग सकता है। हालांकि भारत में बहुत से बड़े अस्पताल के डॉक्टर है जो पाइल्स सर्जरी का इलाज करते है। लेकिन सभी अस्पतालों में पाइल्स सर्जरी का खर्च अलग-अलग है। अगर आप अच्छे अस्पतालों में पाइल्स सर्जरी के खर्च व डॉक्टर के बारे में जानकारी पाना चाहते है तो यहाँ पर क्लिक करें – Cost of Piles Surgery

अगर आप विदेश से आ रहे है तो आपकी सर्जरी के इलाज के खर्च के अलावा होटल में रहने का खर्चा होगा, रहने का खर्चा होगा, लोकल ट्रेवल का खर्चा होगा। इसके अलावा सर्जरी के बाद मरीज को दो दिन या पांच दिन रिकवरी के लिए रखा जाता है, इसलिए सभी खर्चे मिलाकर 177,844 होते है जो एक साथ अस्पताल में लिये जाते है। इसके बारे में अधिक जानकारी पाना चाहते है तो यहाँ पर क्लिक करे – Piles Surgery Ka Cost Kya Hai?

अगर आपको बवासीर (पाइल्स) सर्जरी ( Piles Surgery Meaning in Hindi) के बारे में अधिक जानकारी एव इलाज करवाने के लिए जनरल सर्जन (General surgeon) से संपर्क कर सकते हैं। 

हमारा उद्देश्य केवल आपको लेख के माध्यम से जानकारी देना है। हम आपको किसी तरह दवा, उपचार की सलाह नहीं देते है। आपको अच्छी सलाह केवल एक चिकिस्तक ही दे सकता है। क्योंकि उनसे अच्छा दूसरा कोई नहीं होता है।


Best General Surgeon in Delhi

Best General Surgeon in Chennai

Best General Surgeon in Bangalore

Best General Surgeon in Mumbai


Login to Health

Login to Health

लेखकों की हमारी टीम स्वास्थ्य सेवा क्षेत्र को समर्पित है। हम चाहते हैं कि हमारे पाठकों के पास स्वास्थ्य के मुद्दे को समझने, सर्जरी और प्रक्रियाओं के बारे में जानने, सही डॉक्टरों से परामर्श करने और अंत में उनके स्वास्थ्य के लिए सही निर्णय लेने के लिए सर्वोत्तम सामग्री हो।

Over 1 Million Users Visit Us Monthly

Join our email list to get the exclusive unpublished health content right in your inbox