आंखो की सूजन क्या होता है । Swollen Eyes in Hindi

Login to Health दिसम्बर 11, 2020 Lifestyle Diseases 50 Views

हिन्दी العربية

आंखो की सूजन क्या होता है ? (Swollen Eyes Meaning in Hindi)

आंख हमारे शरीर का सबसे नाजुक अंग है और इसके आस-पास की त्वचा बहुत संवेदनील होती है। आमतोर पर आंखो में सूजन की समस्या सामान्य मानी जाती है।  ऐसा, इसलिए अत्यधिक नींद लेने या कम नीद लेने से सूजन आंखो में नजर आने लगती है। कुछ मामलो में अत्यधिक तनाव ग्रस्त होने पर त्वचा व आंखो में सूजन होने लगता है। इसके अलावा कुछ केमिकल युक्त उत्पादक से एलर्जी, आंखो में थकान की समस्या आदि सूजन की संभवाना को बढ़ावा देता है। आंखो के पास की त्वचा बहुत पतली होती है और त्वचा में किसी तरह की समस्या होने सूजन नजर आने लगता है। हालांकि आंखो में किसी तरह की अनियमियता नजर आने पर नेत्र विशेषज्ञ से संपर्क करना चाहिए, ताकि आंखो के जोखिम को कम किया जा सके। चलिए आज के लेख में आपको आंखो में सूजन की समस्या के बारे में विस्तार से बताने वाले है। 

  • आंखो की सूजन के कारण क्या हैं ? (What are the Causes of Swollen Eyes in Hindi)
  • आंखो की सूजन के लक्षण क्या हैं ? (What are the Symptoms of Swollen Eyes in Hindi)
  • आंखो की सूजन का निदान ? (Diagnoses of Swollen Eyes in Hindi)
  • आंखो की सूजन का इलाज क्या हैं ? (What are the Treatments for Swollen Eyes in Hindi)
  • आंखो की सूजन से बचाव ? (Prevention of Swollen Eyes in Hindi)

आंखो की सूजन के कारण क्या हैं ? (What are the Causes of Swollen Eyes in Hindi)

आंखो में सूजन होने से कई कारण हो सकते है। जैसे अत्यधिक तनाव होने पर या चिंता से आंखो में सूजन आ जाती है। आमतौर पर अधिक रोने पर आंखे सूज जाती है ऐस इसलिए रोने पर आंसू वाली ग्रंथियों पर प्रभाव ज्यादा पड़ता है और सूजन पैदा हो जाती है। कई लोगो में अत्यधिक सोने या कम सोने पर आंखो में सूजन नजर आने लगते है। जो लोग शराब अधिक पीते है उनके आंखो में सूजन दिखाई देती रहती है। आंखो में सूजन होने के कुछ अन्य कारक शामिल हो सकते है। 

  • जैसे – किसी उत्पादक के कारण आंखो में एलर्जी होना। 
  • गलत चश्मे या लेंस का उपयोग। 
  • आंखो में संक्रमण हो जाना। 
  • उम्र बढ़ने पर कमजोरी से आंखो पर प्रभाव पड़ना। 
  • आंखो की पलकों पर फुंसी निकल आना और सूजन पैदा करना। 
  • आंखो में जटिलता होने पर सूजन आना। 
  • आंखो की पलको में सूजन आने लगना। 
  • त्वचा संबंधित समस्या होना। 
  • अत्यधिक नमक का सेवन से सूजन की समस्या आ सकती है। 
  • शराब को अत्यधिक पीने से आंखो में सूजन नजर आना। 
  • हाइपोथायरायडिज्म। (और पढ़े – थयरॉइड क्या है और इसका उपचार क्या है)

आंखो की सूजन के लक्षण क्या हैं ? (What are the Symptoms of Swollen Eyes in Hindi)

आंखो की सूजन होने पर निम्नलिखित लक्षण नजर आते है। 

  • आंखो में दर्द होना। 
  • आंखो में लालिमा आना। 
  • आंखो में कीचड़ आना। 
  • आंखो के नीचे काला घेरा बनना। 
  • आंखो में सूजन। 
  • आंखो में खुजली होना। 
  • पलकों का सूखापन। 
  • आंसू आना। 

अन्य लक्षण में शामिल है। 

आंखो की सूजन का निदान ? (Diagnoses of Swollen Eyes in Hindi)

आंखो में सूजन की समस्या आमतौर पर किसी ब्यूटी उत्पादक की एलर्जी के कारण होता है। आंखो में सूजन होने से चेहरे की सुंदरता में कमी आ जाती है। हालांकि बहुत कम ऐसे मामले सामने आते है जिसमे आंखो में सूजन किसी बीमारी के होने पर हो। सूजन के अलावा अन्य जोखिम नजर न आये तब तक चिकिस्तक परीक्षण का सुझाव नहीं देता है। (और पढ़े – आई फ्लू क्या है)

आंखो की सूजन का इलाज क्या हैं ? (What are the Treatments for Swollen Eyes in Hindi)

आंखो सूजन के कोई गंभीर कारक नहीं है तो चिकिस्तक कुछ निम्न घरेलु सुझाव देते है ताकि सूजन को कम किया जाएं। 

  • विटामिन इ युक्त क्रीम व एलोवेरा क्रीम का उपयोग चेहरे पर करने से सूजन में कमी आती है। 
  • आंखो को आईपैक से थोड़ी सेकाई करनी चाहिए। 
  • चेहरे को ठंडे पानी से साफ करना चाहिए। 
  • अपने आहार में कम मात्रा में नमक का सेवन करे, क्योंकि नमक सोडियम है जो अधिक होने पर शरीर को नुकसान पहुंचता है। 
  • किसी क्रीम या उत्पादक से आपको एलर्जी की समस्या होती है तो इसका उपयोग करना बंद कर दे। 
  • आंखो में पानी की कमी होने पर अधिक मात्रा में पानी या तरल पदार्थ लेना चाहिए। 
  • सोने से पहले आंखो का मास्क लगाकर सोना चाहिए। 
  • सोने के पहले शराब का सेवन व धूमप्रान न करें। 
  • भोजन में विटामिन और खनिज युक्त खाद्य पदार्थ को शामिल करना चाहिए। 
  • यदि एर्लजी से आंखो में सूजन आती है तो कुछ एंटीबायोटिक की खुराक दिया जाता है। 
  • सोने से पहले महिलाओं को अपना मेकअप निकाल कर सोना चाहिए, इससे आंखो में सूजन होने की संभावना कम हो जाती है। 
  • आंखो में सूजन या लालिमा की समस्या को कम करने के लिए हेमोरोइड क्रीम की सलाह देते है। 
  • हमेशा सीधा व सर पर तकिया लगाकर सोने की कोशिश करे और पेट के बल न सोये। 
  • आंखो में गंभीर समस्या नजर आती है तो नेत्र चिकिस्तक कुछ जांच या सर्जरी की सिफारिश करते है। 
  • धुप में निकलने के पहले धुप से बचने वाले चश्मे का प्रयोग करे और त्वचा को हानिकारक किरण से बचने के लिए सनस्क्रीन का उपयोग कर सकते है। 
  • आंखो में सूजन से बचने के लिए व्यक्ति कम से कम 7 से 8 घंटे की नींद बहुत जरुरी होती है। (और पढ़े – अनिंद्रा की समस्या के कारण क्या है)

आंखो की सूजन से बचाव ? (Prevention of Swollen Eyes in Hindi)

आंखो की सूजन से बचाव करने के लिए निम्न उपाय अपना सकते हैं। 

  • अपने भोजन में कम नमक़ का सेवन करें। 
  • शराब का सेवन करने से बचें। 
  • धुआं व केमिकलयुक्त उत्पादक से आंखो का बचाव करें। 
  • आखों में खुजली होने पर मसलना नहीं चाहिए बल्कि बर्फ से सेकना चाहिए। 
  • विटामिन ए युक्त खाद्य पदार्थो का सेवन करना चाहिए। (और पढ़े – विटामिन ए की कमी क्यों होता है)

अगर आपको आंखो की सूजन की समस्या हो रही है, तो नेत्र विशेषज्ञ (Ophthalmologist) से संपर्क कर सकते हैं। 

हमें आशा है की आपके प्रश्न आंखो की सूजन क्या होता है ? का उत्तर इस लेख के माध्यम से दे पाएं। 

हमारा उद्देश्य केवल आपको लेख के माध्यम से जानकारी देना है। हम आपको किसी तरह दवा, उपचार की सलाह नहीं देते है। आपको अच्छी सलाह केवल एक चिकिस्तक ही दे सकता है। क्योंकि उनसे अच्छा दूसरा कोई नहीं होता है।


Best Ophthalmologist in Delhi

Best Ophthalmologist in Mumbai

Best Ophthalmologist in Chennai

Best Ophthalmologist in Bangalore