टाइम्पोनोप्लास्टी क्या होता है। Tympanoplasty Meaning in Hindi.

Login to Health नवम्बर 2, 2020 Lifestyle Diseases 847 Views

English हिन्दी

टाइम्पोनोप्लास्टी क्या होता है ? (Tympanoplasty Meaning in Hindi)

टाइम्पोनोप्लास्टी क्या होता है ? टाइम्पोनोप्लास्टी एक सर्जिकल प्रक्रिया है जिसमें कान के छेद में बड़ा या छोटा क्रोनिक कान में संक्रमण का उपचार किया जाता है। यह तब किया जाता है जब एंटीबायोटिक दवा से ठीक नहीं हो पाता है। टूटे हुए कान की बाली सुनने की क्षमता को प्रभावित कर सकती है और कई कारणों से हो सकती है। 

  • जैसे ओटिटिस मीडिया- तरल पदार्थ के संचय के कारण मध्य कान का संक्रमण, 
  • बैरट्रोमा- मध्य कान में हवा के दबाव में अंतर और कान के ड्रम पर अत्यधिक तनाव
  • बहुत तेज आवाज में विस्फोट या संपर्क होना। 
  • किसी नुकीली चीज से पंचर करना। 

सिर में गंभीर चोट लगना /यदि किसी व्यक्ति को इस सर्जरी की जरूरत है तो पहले सामान्य एनेस्थीसिया दिया जाता है, ताकि आप इस प्रक्रिया के दौरान बेहोश रहे। सबसे पहले, सर्जन किसी भी अतिरिक्त ऊतक या निशान ऊतक को ध्यान से हटाने के लिए एक लेजर का उपयोग करेगा जो आपके मध्य कान में बना है। फिर, अपने स्वयं के ऊतक का एक छोटा सा टुकड़ा नस या मांसपेशी म्यान से लिया जाएगा और छेद को बंद करने के लिए अपने ईयरड्रम पर ग्राफ्ट किया जाता है। इसके अलावा आपके कान नहर के माध्यम से इयरड्रैम की मरम्मत करने के लिए जाएगा, या अपने कान के पीछे एक छोटा सा चीरा लगाकर ईयरड्रम तक पहुंच सकता है। चलिए आज के लेख के माध्यम से आपको  टाइम्पोनोप्लास्टी के बारे में बताने वाले हैं।

  • टाइम्पोनोप्लास्टी क्यों किया जाता हैं ? (What are the Purpose of Tympanoplasty in Hindi)
  • टाइम्पोनोप्लास्टी कैसे की जाती हैं ? (What are the Procedure of Tympanoplasty in Hindi)
  • टाइम्पोनोप्लास्टी के बाद देखभाल ? (How to Care After Tympanoplasty in Hindi)
  • टाइम्पोनोप्लास्टी की जटिलताएं ? (What are the Risks of Tympanoplasty in Hindi)
  • भारत में टाइम्पोनोप्लास्टी कराने का कितना खर्च लगता हैं ? (What is Cost of Tympanoplasty in India in Hindi)

टाइम्पोनोप्लास्टी क्यों किया जाता हैं ? (What are the Purpose of Tympanoplasty in Hindi)

छिद्रित कान के ड्रम के लक्षणों के आधार पर टाइम्पोनोप्लास्टी की जरूत हो सकती है। 

  • जैसे – कान में दर्द होना। 
  • कानों से खून आना। 
  • द्रव का रिसाव और कानों से स्त्राव होना। 
  • कान में घंटी जैसे ध्वनि बजना। 
  • सिर का चक्कर आना। (और पढ़े – वर्टिगो क्यों आता है)
  • मतली और उल्टी होना। 

टाइम्पोनोप्लास्टी कैसे की जाती हैं ? (What are the Procedure of Tympanoplasty in Hindi)

  • कान में संक्रमण का निदान करने के लिए चिकिस्तक कुछ परीक्षण कर सकते है। इस परीक्षण में बैक्टीरिया या अन्य जीवों का पता लगाने के लिए माइक्रोस्कोप के तहत कान से निर्वहन की जांच की जा सकती है। 
  • ट्यूनिंग कांटा मूल्यांकन का पता लगाने के लिए आवश्यक है कि कान का कौन सा हिस्सा क्षतिग्रस्त है – आंतरिक कान या मध्य कान। 
  • टैंपॉनोमेट्री (Tympanometry) दबाव में परिवर्तन के लिए ईयरड्रम की प्रतिक्रिया का निरीक्षण करने के लिए परीक्षण की जाती है। इसके अलावा इस परीक्षण का उपयोग मध्य कान के कामकाज में असामान्यताओं का पता लगा सकता है। 
  • श्रवण में हानि का आकलन करने के लिए ऑडियोलॉजी परीक्षा भी आयोजित की जाती है। 
  • उपचार करने के लिए लेज़र या माइक्रो हुक का उपयोग करते हुए, झुमके के आसपास के ऊतक और ऊतक के अतिरिक्त सिलवटों को हटा दिया जाता है। ताकि ईयरड्रम में आंसू तक पूरी पहुंच प्राप्त हो सके। 
  • ग्राफ्ट कान के पीछे या कान की त्वचा के कुछ लोब से लिया जाता है और शेष ईयरड्रम के नीचे डाला जाता है। फिर छेद को पूरा करने के लिए इसे एक साथ जोड़ दिया जाता है और इसके उचित कार्य का आश्वासन दिया जाता है। 
  • कान में बने हुए चीरे को फिर टांके के साथ बंद कर दी जाती है। 
  • ऑसिकुलोप्लास्टी (Ossiculoplasty) को कान के ड्रम की मरम्मत की सर्जरी के साथ भी किया जा सकता है जिसमें हड्डियों को फिर से संरचित किया जाता है ताकि संपर्क खो चुके ओस्किल्स के बीच की खाई को समाप्त किया जा सके। 

टाइम्पोनोप्लास्टी के बाद देखभाल ? (How to Care After Tympanoplasty in Hindi)

  • कान की सर्जरी के बाद मरीज को कम से कम एक सप्ताह आराम आवश्यकता हो सकती है। इसके अलावा चिकिस्तक डॉक्टर मरीज को ईयर पैक दे सकते हैं। हाइजीनिक स्थिति बनाए रखने के लिए नियमित रूप से ईयर पैक के कॉटन को बदलना चाहिए। 
  • कान की सर्जरी के बाद पानी में खलेने व तैराकी से बचना चाहिए, क्योंकि पानी को कानों में प्रवेश करने से रोका जाना चाहिए। चिकिस्तक स्नान के दौरान आपको शॉवर कैप पहनने की सलाह देते है। 
  • इयर रिपेयर के बाद मरीज को ऊंचाई पर जाने या हवाई यात्रा व स्कूबा डाइविंग से बचने की सलाह देते है, ताकि कानो में किसी तरह का दबाव न पड़े।  (और पढ़े – कोरोना से बचाव के उपाय)

टाइम्पोनोप्लास्टी की जटिलताएं ? (What are the Risks of Tympanoplasty in Hindi)

इयरड्रम को ठीक करने की सर्जरी में कई जोखिम हो सकते है।  

भारत में टाइम्पोनोप्लास्टी कराने का कितना खर्च लगता हैं ? (What is Cost of Tympanoplasty in India in Hindi)

भारत में टाइम्पोनोप्लास्टीकराने का कुल खर्च लगभग INR 1500 से INR 2000 तक लग सकता है। हालांकि भारत में बहुत से बड़े अस्पताल के डॉक्टर है जो टाइम्पोनोप्लास्टी का इलाज करते है। लेकिन सभी अस्पतालों में टाइम्पोनोप्लास्टी का खर्च अलग-अलग है। अगर आप अच्छे अस्पतालों में टाइम्पोनोप्लास्टी के खर्च व डॉक्टर के बारे में जानकारी के लिए (और पढ़े – टाइम्पोनोप्लास्टी का इलाज खर्च) 

अगर आप विदेश से आ रहे है तो आपकी टाइम्पोनोप्लास्टी के इलाज के खर्च के अलावा होटल में रहने का खर्चा होगा, रहने का खर्चा होगा, लोकल ट्रेवल का खर्चा होगा। इसके अलावा सर्जरी के बाद मरीज को दो दिन अस्पताल और पांच दिन होटल में रिकवरी के लिए रखा जाता है, इसलिए सभी खर्चे मिलाकर INR 2,690 होते है जो एक साथ अस्पताल में लिये जाते है। इसके बारे में अधिक जानकारी के लिए (और पढ़े – टाइम्पोनोप्लास्टी का इलाज खर्च) 

हमें आशा है की आपके प्रश्न टाइम्पोनोप्लास्टी क्या होता है ? का उत्तर इस लेख के माध्यम से दे  पाएं। 

टाइम्पोनोप्लास्टी के बारे में अधिक जानकारी व इलाज के लिए (General Physician) से संपर्क कर सकते हैं। 

हमारा उद्देश्य केवल आपको लेख के माध्यम से जानकारी देना है। हम आपको किसी तरह दवा, उपचार की सलाह नहीं देते है। आपको अच्छी सलाह केवल एक चिकिस्तक ही दे सकता है। क्योंकि उनसे अच्छा दूसरा कोई नहीं होता है।


Best General Physician in Delhi

Best General Physician in Mumbai

Best General Physician in Bangalore 

Best General Physician in Chennai