विटामिन डी 3 की कमी क्या हैं । Vitamin D3 Deficiency in Hindi

Login to Health मई 4, 2021 Lifestyle Diseases 19 Views

English हिन्दी Bengali

विटामिन डी 3 की कमी का मतलब हिंदी में,   (Vitamin D3 Deficiency Meaning in Hindi)

विटामिन डी 3 की कमी क्या हैं ?

हमारे शरीर के लिए पोषक तत्व और विटामिन बहुत जरुरी होता है। हालांकि कई लोग काम की जल्दी में कुछ भी खा लेते है जिसके कारण शरीर को विटामिन नहीं मिल पाता है। विटामिन डी 3 को कोलेकल्सीफेरोल के नाम से जाना जाता है। यदि शरीर में विटामिन डी 3 की कमी होने लगती है तो हड्डियो में कमजोरी आने लगती है साथ ही स्वास्थ्य में कई तरह समस्या उत्पन्न होने लगती है। विटामिन डी 3 की कमी से बचने के लिए अपने डाइट में विटामिन डी 3 को शामिल करना चाहिए। चलिए आज के लेख में आपको विटामिन डी 3 के बारे में विस्तार से बताने वाले हैं।

  • विटामिन डी 3 की कमी के कारण ? (What are the Causes of Vitamin D3 Deficiency in Hindi)
  • विटामिन डी 3 की कमी के लक्षण ? (What are the Symptoms of Vitamin D3 Deficiency in Hindi)
  • विटामिन डी 3 के फायदे ? (What are the Benefits of Vitamin D3 in Hindi)
  • विटामिन डी 3 की कमी से बचाव कैसे करें ? (Prevention of Vitamin D3 Deficiency in Hindi)

विटामिन डी 3 की कमी के कारण ? (What are the Causes of Vitamin D3 Deficiency in Hindi)

विटामिन डी 3 की कमी के बहुत से कारण हो सकते है। चलिए आगे बताते है। 

  • भोजन में विटामिन डी युक्त चीजे न शामिल करना। 
  • भोजन में विटामिन डी लेने पर भी शरीर में विटामिन डी न मिलना। 
  • सुबह की सूर्य की रोशनी न लेना। 
  • दवाओं के सेवन से विटामिन डी की कमी हो जाना। 
  • किडनी व लिवर शरीर में विटामिन डी को ठीक से परिवर्तित न करने कारण विटामिन डी की कमी हो जाती है।

विटामिन डी 3 की कमी के लक्षण ? (What are the Symptoms of Vitamin D3 Deficiency in Hindi)

विटामिन डी 3 की कमी के निम्न संकेत व लक्षण नजर आ सकते है। 

  • जैसे – मांसपेशियो में कमजोरी होना। 
  • जोड़ो में दर्द होना। 
  • फ्रैक्चर होना। 
  • मांसपेशियो में दर्द होना। 
  • मांसपेशियो में अकड़न होना। 
  • मांसपेशियो में ऐंठन होना। 

विटामिन डी 3 के फायदे ? (What are the Benefits of Vitamin D3 in Hindi)

विटामिन डी 3 के बहुत से फायदे है। चलिए आगे विस्तार से बताते हैं। 

  • इम्युनिटी को बढ़ाने में – विटामिन डी 3 इम्युनिटी बढ़ाने में फायदेमंद होता है। विटामिन डी शरीर में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है और प्रतिशा प्रणाली को मजबूत करता है। विटामिन डी 3 इम्युनिटी के कार्य में सुधार करता है और संक्रमण से बचाव करने में मदद करता है। शरीर की इम्युनिटी बढ़ाने के लिए विटामिन में विटामिन डी 3 शामिल करना चाहिए।  (और पढ़े – इम्युनिटी बढ़ाने के लिए क्या खाना चाहिए )
  • ब्लड शुगर को कम करने में – कुछ शोध के अनुसार विटामिन डी शरीर में इंसुलिन के स्तर को सामान्य से अधिक करता है। इस कारण डायबिटीज होने का जोखिम बना रहता है। विटामिन डी इंसुलिन को कम कर डायबिटीज से बचाव करने में मदद करता है। हालांकि इसपर और शोध चल रहे है। चिकिस्तक के अनुसार विटामिन डी 3 डायबिटीज टाइप 2 से बचाव करने में सहायक होता है। (और पढ़े – उच्च रक्तचाप क्या है)
  • कैंसर से बचाव करने मेंकैंसर एक तरह की घातक बीमारी है जिसका शुरुवाती संकेत नजर आने पर उपचार की आवश्कयता होती है। विटामिन डी 3 में एंटी कैंसर के गुण है जो ट्यूमर सेल्स को बढ़ने से रोकता है। कुछ शोध के अनुसार विटामिन डी 3 कैंसर की क्रिया को धीमा करते है और कैंसर से बचाव करते है। यदि कैंसर अत्यधिक गंभीर है तो चिकिस्तक से निदान व उपचार करवाना उचित है। (और पढ़े – कैंसर क्या है और कैसे होता है)
  • ह्रदय के लिए फायदेमंद – हृदय रोग से बचाव करने में विटामिन डी 3 उपयोगी होता है। कुछ अध्ययन के अनुसार विटामिन डी 3 हृदय रोग का जोखिम कम करता है। शरीर में विटामिन डी 3 की कमी होने से हृदय रोग का खतरा बना रहता है। हालांकि विटामिन डी युक्त सप्लीमेंट लेना आवश्यक नहीं होता है बल्कि आहार में विटामिन डी युक्त खाद्य पदार्थ को शामिल करना सही होता है। सही मात्रा में विटामिन डी लेने से शरीर स्वस्थ बना रहता है। (और पढ़े – हार्ट अटैक और ब्रेन स्ट्रोक में अंतर क्या हैं)
  • मूड को बदलाव करने में – विटामिन डी 3 मूड को बदलने में फायदेमंद होता है। कुछ शोध के अनुसार विटामिन डी 3 अवसाद व तनाव को कम कर मूड को अच्छा करता है। मानसिक व शारीरिक रूप से मजबूत बनाने में विटामिन डी 3 कारगर साबित होता है। (और पढ़े – लाल मिर्च के फायदे तनाव दूर करने में)

विटामिन डी 3 की कमी से बचाव कैसे करें ? (Prevention of Vitamin D3 Deficiency in Hindi)

विटामिन डी 3 की कमी से बचाव करने के लिए निम्न उपाय अपना सकते हैं। 

  • अपने रोजाना के आहार में विटामिन डी 3 युक्त खाद्य पदार्थ को शामिल कर सकते है। 
  • सुबह व्यायाम व योगा करने के बाद थोड़ी देर धुप में बैठना चाहिए ताकि सूर्य की रोशनी मिल सके। 
  • विटामिन डी 3 की कमी होने पर चिकिस्तक से संपर्क करना चाहिए। 
  • विटामिन डी 3 की कमी होने पर व्यक्ति स्वास्थ्य की कई तरह की बीमारियों के चपेट में आ जाता है। ऐसे में लोगो को अपने डाइट में विटामिन डी 3 युक्त चीजे जरूर शामिल करना चाहिए। इसके अलावा हमारे शरीर के लिए सभी पोषक तत्व सही मात्रा में लेना चाहिए। 

हमें आशा है की आपके प्रश्न विटामिन डी 3 की कमी क्या हैं ? का उत्तर इस लेख के माध्यम से दे पाएं। 

अगर आपको विटामिन डी 3 की कमी के बारे में अधिक जानकारी चाहिए है, तो सामान्य चिकित्सा (General Physician) से संपर्क कर सकते हैं। 

हमारा उद्देश्य केवल आपको लेख के माध्यम से जानकारी देना है। हम आपको किसी तरह दवा,उपचार की सलाह नहीं देते है। आपको अच्छी सलाह केवल एक चिकिस्तक ही दे सकता है। क्योंकि उनसे अच्छा दूसरा कोई नहीं होता है।


Best General Physician in Delhi

Best General Physician in Mumbai

Best General Physician in Chennai

Best General Physician in Bangalore