दर्दनाक स्खलन क्या है। Painful Ejaculation in Hindi

Login to Health नवम्बर 27, 2020 Mens Health 44 Views

हिन्दी

 दर्दनाक स्खलन क्या है ? (Painful Ejaculation Meaning in Hindi)

आमतौर पर संभोग करने पर स्खलन दर्दनाक होने पर पुरुष अधिक ध्यान नहीं देते है। लेकिन दर्दनाक स्खलन एक तरह की यौन समस्या है जो बढ़ने पर अनेक जटिलताएं उत्पन्न कर सकती है। कई पुरुषो में दर्दनाक स्खलन बड़ी समस्या होने से तनाव में रहने लगते है। इन समस्याओ से बचने के लिए सही समय जांच व उपचार करवाने की आवश्यकता होती है। कुछ पुरुषो में स्खलन के बाद या स्खलन के दौरान अधिक पीड़ा का सामना करना पड़ता है जिसके कारण वे अपने साथी के सामने खुद को दोषी मानने लगते है। हालांकि लंबे समय से ऐसी समस्या रहने पर पुरुष को गंभीर दर्दनाक स्खलन व प्रोसेस्ट कैंसर जैसी समस्या का जोखिम हो सकता है। शायद बहुत से पुरुष के मन में सवाल आ रहा होगा दर्दनाक स्खलन को कम कैसे कर सकते है। चलिए आज के लेख के माध्यम से आपको दर्दनाक स्खलन क्या है ? दर्दनाक स्खलन के कारण, लक्षण, उपचार व रोकथाम के बारे में विस्तार से बताने वाले है। 

  • दर्दनाक स्खलन के कारण ? (Causes of Painful Ejaculation in Hindi)
  • स्खलन के दौरान दर्द के लक्षण ? (Symptoms of Painful Ejaculation in Hindi)
  • दर्दनाक स्खलन का परीक्षण ? (Diagnoses of Painful Ejaculation in Hindi)
  • दर्दनाक स्खलन का इलाज ? (Treatments for Painful Ejaculation in Hindi)
  • दर्दनाक स्खलन की रोकथाम ? (Prevention of Painful Ejaculation in Hindi)

दर्दनाक स्खलन के कारण ? (Causes of Painful Ejaculation in Hindi)

दर्दनाक स्खलन एक असामान्य स्थिति नहीं है और इसमें कई कारण शामिल हो सकते हैं। 

  • प्रोस्टेटाइटिस। 
  • संक्रमण (यौन संचारित संक्रमण सहित) जो लिंग के आसपास के क्षेत्र को प्रभावित कर सकता है। 
  • मूत्रमार्ग में कठिनाई। 
  • मूत्रमार्ग के भीतर सूजन होना। 
  • लिंग को नुकसान पहुँचाना
  • स्खलन वाहिनी में रुकावट होना। 
  • मनोवैज्ञानिक समस्याएं होना। 
  • निचले पेट में दर्द महसूस होना। 

जोखिम कारक –

स्खलन के दौरान दर्द के लक्षण ? (Symptoms of Painful Ejaculation in Hindi)

दर्दनाक स्खलन के लक्षण सभी पुरुषो में अलग-अलग हो सकते है। कुछ पुरुषो में दर्दनाक स्खलन की समस्या बढ़ने पर अन्य लक्षण महसूस कर सकते है। इसके अलावा कई पुरुष में स्खलन के दौरान दर्द का सामना करना पड़ता है। चलिए आगे लक्षणो के बारे में बताते हैं। 

  • जैसे – पेशाब करते समय दर्द होना। 
  • लिंग में दर्द होना। 
  • स्खलन के दौरान दर्द महसूस करना। 
  • स्खलन के तुरंत बाद दर्द होना। 
  • लिंग के पास के छेत्र में दर्द होना। 
  • स्खलन के दौरान दर्द कुछ घंटो तक बने रहना। (और पढ़े – यौन संचारित रोग क्या है)

दर्दनाक स्खलन का परीक्षण ? (Diagnoses of Painful Ejaculation in Hindi)

दर्दनाक स्खलन का परीक्षण करने के लिए चिकिस्तक पुरुष से उसके बीमारी इतिहास व लक्षण के बारे कुछ सवाल कर सकते है। इसके अलावा किसी तरह के दवा का सेवन के बारे में पूछ सकते है। दर्दनाक स्खलन की समस्या के बारे में पता लगाने के लिए कुछ निम्न परीक्षण कर सकते है। 

  • ब्लड टेस्ट। 
  • यूरिन टेस्ट। (और पढ़े – पेशाब में जलन की समस्या)
  • प्रोस्टेट-विशिष्ट प्रतिजन परीक्षण। 
  • पैल्विक परीक्षा। 
  • प्रोस्टेट परीक्षा।
  • प्रोस्टेटाइटिस टेस्ट। 
  • बीपीएच टेस्ट। 
  • कुछ मामलो में इमेजिंग परीक्षण की सलाह दे सकते हैं। 

दर्दनाक स्खलन का इलाज ? (Treatments for Painful Ejaculation in Hindi)

दर्दनाक स्खलन का इलाज व्यक्ति के कारण के आधार पर किया जा सकता है। इसके अलावा परीक्षण के परिणाम के आधार पर चिकिस्तक निम्न तरीको से उपचार कर सकते है। 

  • यदि प्रोस्टेस्ट संक्रमण की समस्या है तो चिकिस्तक कुछ एंटीबायोटिक दवा की खुराक लेने की सलाह देते है। 
  • दर्दनाक स्खलन से व्यक्ति को सूजन व दर्द की समस्या हो रही है तो चिकिस्तक कुछ ओवर द काउंटर दवा का सुझाव दे सकते है। 
  • व्यक्ति प्रोटेस्ट कैंसर से पीड़ित होने पर दर्दनाक स्खलन हो रहा है तो ऐसे में चिकिस्तक प्रोटेस्ट कैंसर का उपचार करते है। इसके लिए रेडियशन थेरेपी, कीमोथेरेपी, हार्मोन थेरेपी या वैक्सीन थेरेपी का उपयोग कर सकते है। (और पढ़े – कीमोथेरेपी क्यों होता है)
  • पथरी की समस्या के कारण व्यक्ति को दर्दनाक स्खलन का सामना करना पड़ता है तो चिकिस्तक पहले पथरी का उपचार के लिए सर्जरी कर सकते है। 
  • यदि व्यक्ति अत्यधिक गंभीर संक्रमण से पीड़ित है, तो चिकिस्तक तुरंत अस्पताल में भर्ती करवाने की सलाह देते है, ताकि तुरंत उपचार किया जा सके। 
  • प्रोटेस्ट कैंसर जैसी स्तिथि में चिकिस्तक व्यक्ति को सर्जरी करवाने की सलाह दे सकते है।
  • कुछ मामलो में व्यक्ति को पेल्विक व्यायम करने की सलाह देते है ताकि दर्दनाक स्खलन को कम किया जा सके।  
  • जीवनशैली में बदलाव करवा कर दर्दनाक स्खलन की समस्या को कम किया जा सकता है। 

दर्दनाक स्खलन की रोकथाम ? (Prevention of Painful Ejaculation in Hindi)

दर्दनाक स्खलन की रोकथाम करने के लिए कुछ निम्न उपाय अपना सकते है। 

  • दर्दनाक स्खलन की समस्या होने पर तुरंत उपचार करवाना चाहिए ताकि समस्या को बढ़ने से रोका जा सके। 
  • दर्दनाक स्खलन होने पर व्यक्ति तनाव व चिंता में रहने लगता है और तनाव व चिंता को कम करने के लिए सुबह योगा, व्यायाम करना चाहिए। (और पढ़े – चिंता दूर करने के आयुर्वेदिक उपचार)
  • दर्दनाक स्खलन जैसी समस्या से बचाव करने के लिए पुरुष को अपने शरीर स्वस्थ बनाये रखना चाहिए। इसके लिए अपने आहार में प्रोटीन युक्त चीजे शामिल करें। 
  • दर्दनाक स्खलन के दर्द से थोड़े आराम के लिए सेकाई करने की सलाह दी जा सकती है। इसके लिए एक आइसपैक ले और अंडकोश की जगह सेके। (और पढ़े – एचवीपी के कारण क्या है)

हमें आशा है की आपके प्रश्न दर्दनाक स्खलन क्या है ? का उत्तर इस लेख के माध्यम से दे पाएं। 

अगर दर्दनाक स्खलन की समस्या का सामना कर रहे है तो (Urologist) से संपर्क कर सकते है। 

हमारा उद्देश्य केवल आपको लेख के माध्यम से जानकारी देना है। हम आपको किसी तरह दवा, उपचार की सलाह नहीं देते है। आपको अच्छी सलाह केवल एक चिकिस्तक ही दे सकता है। क्योंकि उनसे अच्छा दूसरा कोई नहीं होता है


Best Urologist in Delhi

Best Urologist in Mumbai

Best Urologist in Chennai

Best Urologist in Bangalore