गर्भावस्था में सर्दी-जुकाम और खांसी के घरेलु उपाय। Cough and cold in pregnancy in Hindi

Login to Health नवम्बर 20, 2020 Womens Health 85 Views

हिन्दी

गर्भावस्था में सर्दी-जुकाम और खांसी का मतलब हिंदी में

गर्भावस्था में सर्दी -जुखाम जैसी समस्या आमतौर पर होते रहती है। जैसा की आपको पता है गर्भावस्था में कोई भी दवा लेना हानिकारक होता है इसलिए चिकिस्तक के बिना अनुमति कोई भी दवा न ले। सर्दी-जुखाम को दूर करने के बहुत से घरेलु उपचार है जिनका उपयोग कर आप आराम पा सकती है। कई महिलाएं डर जाती है अपनी सर्दी जुखाम को ठीक कैसे करे यह आशंका लगी रहती है। हालांकि गर्भावस्था में सर्दी जुखाम व खांसी की समस्या कमजोर इम्युनिटी होने की वजह से हो जाती है। इन समस्या को नजरअंदाज नहीं करना चाहिए नहीं तो बढ़ने पर अन्य जटिलताएं उत्पन्न कर सकता है। इसलिए प्राकृतिक घरेलु उपचार की सहायता से सर्दी जुखाम का उपचार कर सकती है। चलिए आज के लेख में हम आपको गर्भावस्था में सर्दी-जुकाम और खांसी दूर करने के घरेलु उपचार के बारे में बताने वाले हैं। 

  • गर्भावस्था में सर्दी -जुखाम और खांसी आने का कारण क्या हैं ? (Causes of Cough and cold during pregnancy in Hindi)
  • गर्भावस्था में सर्दी-जुकाम और खांसी को दूर करने के घरेलु उपचार ? (Home Remedies for cough and cold during pregnancy in Hindi)

गर्भावस्था में सर्दी -जुखाम और खांसी आने का कारण क्या हैं ? (Causes of Cough and cold during pregnancy in Hindi)

गर्भावस्था में सर्दी -जुखाम और खांसी की समस्या मौसम में बदलाव के कारण हो सकता है। इसके अलावा रोग प्रतिरोधक क्षमता कमजोर होने के वजह से सर्दी जुखाम की समस्या होने लगती है। सामान्य तौर पर गर्भावस्था में सर्दी जुखाम होना आम बात मानी जाती है। सर्दी जुखाम होने पर शरीर पर बैक्टीरिया का हमला होने लगता है और अधिक बढ़ने पर महिला बीमार पड़ने लगती है। इसलिए सर्दी जुखाम से खुद का बचाव करना चाहिए ताकि गर्भ में पल रहे शिशु की रक्षा हो सके। (और पढ़े – शिशु में बाल झड़ने की समस्या)

गर्भावस्था में सर्दी-जुकाम और खांसी को दूर करने के घरेलु उपचार ? (Home Remedies for cough and cold during pregnancy in Hindi)

गर्भावस्था में सर्दी-जुकाम और खांसी से बचाव करने के लिए अपने खान-पान व जीवनशैली में बदलाव करना चाहिए। चलिए आगे आपको कुछ घरेलु उपचार के बारे में बतायेंगे जो गर्भावस्था में  सर्दी-जुकाम और खांसी से आराम दिलाता हैं।  

  • लहसुन गर्भावस्था में सर्दी-जुकाम और खांसी को दूर करने में फायदेमंद – गर्भावस्था में सर्दी-जुखाम को ठीक करने में लहसुन एक प्रभावी घरेलु उपचार माना जाता है। इसमें बहुत से औषधीय गुण, एंटीऑक्सीडेंट, एंटी बैक्टीरियल गुण मौजूद है जो सर्दी जुखाम से बचाव करता है। लहसुन स्वास्थ्य की अन्य समस्या को ठीक करने में मदद करता है। जैसे कोलेस्ट्रॉल कम करने में, रक्तचाप को सामान्य करने में फायदेमंद होता है। लहसुन का उपयोग करने के लिए एक या दो कालिया लहसुन की सुबह खाएं इससे कुछ दिनों में सर्दी-जुखाम से आराम मिलेगा।
  • गर्भावस्था में सर्दी-जुखाम से राहत दिलाये नमक का पानी – नमक का पानी का उपयोग आज से नहीं बल्कि पुराने जमाने से गर्भावस्था में सर्दी जुखाम को दूर करने के लिए किया जाता है। नमक पानी का उपयोग करने के लिए एक ग्लास गुनगुने पानी में आधा चम्मच नमक मिलाकर कुल्हा करना चाहिए। इस क्रिया से गले में खराश की समस्या कम हो जाती है साथ ही सर्दी-जुखाम का प्रभाव कम होने लगता है। इस प्रक्रिया को रोजाना करे जब तक सर्दी जुखाम से आराम न मिले। (और पढ़े – सर्दी जुखाम में क्या खाना चाहिए)
  • नारियल तेल गर्भावस्था में सर्दी-जुखाम को दूर करें – नारियल तेल में बहुत से प्रभावी गुण है जो सर्दी-जुखाम की समस्या को दूर करते है। ऐसा इसलिए इसमें एंटी फंगल, एंटी बैक्टीरियल, एंटी वायरल गुण मौजूद है। यह संक्रमण से लड़ने में बेहतर होता है और सर्दी जुखाम को रोकता है। गर्भावस्था में सर्दी-जुखाम को ठीक करने के लिए नारियल तेल का उपयोग किसी भी खाद्य पदार्थ के साथ गर्म कर उपयोग कर सकते है। इस प्रक्रिया से सर्दी-जुखाम से राहत मिलती है। (और पढ़े – नारियल के फायदे क्या है)
  • गर्भावस्था में सर्दी-जुखाम से बचाव करने के लिए अदरक फायदेमंद – गर्भावस्था में सर्दी जुखाम से बचाव करने के लिए अदरक एक अच्छा घरेलु उपचार है। इसमें बहुत से गुण का समावेश है जो सर्दी-जुखाम से आराम दिलाता है। अदरक बैक्टीरिया से लड़ने में मदद करता है और संक्रमण से बचाव करता है। अदरक का उपयोग करने के लिए अदरक के छोटे टुकड़े कर ले और इसे कूटकर पानी में उबाल ले। इसके बार एक ग्लास में छानकर इसमें एक चम्मच शहद व थोड़ा नींबू मिलाकर सेवन करें। इस प्रक्रिया से सर्दी-जुखाम से आराम मिलता है। (और पढ़े – गले में खराश की समस्या)
  • गर्भावस्था में सर्दी जुखाम से आराम दिलाये नींबू शहद – गर्भावस्था में सर्दी-जुखाम की समस्या को कम करने के लिए शहद और नींबू फायदेमंद होता है। बहुत से लोग सर्दी जुखाम से राहत पाने के लिए शहद नींबू का उपयोग करते है। नींबू में अच्छी मात्रा में विटामिन सी होता है जो रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में मदद करता है। एक ग्लास गर्म पानी में एक चम्मच नींबू का रस और एक चम्मच शहद का मिश्रण तैयार कर सेवन कर सकते है। यह प्रक्रिया सर्दी-जुखाम से जल्दी राहत पहुंचाती है। (और पढ़े – नींबू के फायदे क्या है)

हमें आशा है की आपके प्रश्न गर्भावस्था में सर्दी-जुकाम और खांसी के घरेलु उपाय ? का उत्तर इस लेख के माध्यम से दे पाएं। 

अगर गर्भावस्था में अधिक सर्दी -जुखाम व खांसी की समस्या हो रही है तो घरेलु उपाय से पहले स्त्री विशेषज्ञ (Gynecologist) से संपर्क करें। 

हमारा उद्देश्य केवल आपको लेख के माध्यम से जानकारी देना है। हम आपको किसी तरह दवा, उपचार की सलाह नहीं देते है। आपको अच्छी सलाह केवल एक चिकिस्तक ही दे सकता है। क्योंकि उनसे अच्छा दूसरा कोई नहीं होता है।


Best Gynecologist in  Delhi

Best Gynecologist in Chennai

Best Gynecologist in Mumbai

Best Gynecologist in Bangalore