महिलाओ में हार्मोन की कमी के कारण। Hormonal Imbalance in Female in Hindi.

Login to Health नवम्बर 2, 2020 Womens Health 242 Views

हिन्दी Bengali

Hormonal Imbalance in Female in Hindi. 

हार्मोन हमारे शरीर के लिए बहुत जरुरी होता है। यह शरीर की क्रियाओं के साथ मिलकर कार्य करने में मदद करती है। हार्मोन सामान्य होने पर शरीर में किसी तरह की अस्वेदनशीलता नहीं होती है। चाहे महिला हो या पुरुष दोनों के शरीर में हार्मोन्स का संतुलन होना अति आवश्यक होता है। हार्मोन्स की कमी होने से मनुष्य के शरीर में अनगिनत विकार अपना पैर पसारने लगते है, जिसके कारण कुछ गंभीर बीमारिया का भी जोखिम हो जाता है। इसके अलावा महिलाओ में हार्मोन की कमी होने से कई तरह के यौन समस्या होना शुरू हो जाती है जैसे बांझपन होना आदि। महिलाओं में हार्मोन्स को लेकर बहुत चिंता व दुख रहता है। इसलिए आज के इस लेख में महिलाओं को हार्मोन्स बढ़ाने के तरीके के बारे में विस्तार से जानकारी देंगे। 

  • हार्मोन क्या हैं ? (What are Hormones in Hindi)
  • महिलाओ में हार्मोन की कमी की कमी के कारण क्या हैं ? (What are the Causes of Hormonal Imbalance in Female in Hindi)
  • महिलाओं में हार्मोन बढ़ाने के बेहतरीन तरीके ? (Ways to increase Hormone in Female in Hindi)

हार्मोन क्या हैं ? (What are Hormones in Hindi)

हमारे शरीर में एक रासायनिक क्रिया जिसे संदेशवाहक कहा जाता है। यह क्रिया महिला और पुरुष दोनों के शरीर में अपना कार्य करते है। हालांकि हार्मोन बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है इस कारण शरीर में कोई बीमारी नहीं होती है। यदि हार्मोन की कमी होने लगे तो बीमारिया जल्दी होने लगता है। हार्मोन की क्रिया एंडोक्राइन का निर्माण करता है। हमारे शरीर में क्रिया होना जैसे प्रजनन में समस्या, भूख लगना, मूड व भावनात्मक होना आदि शामिल है। इन सभी को नियंत्रित करने का कार्य करता है। (और पढ़े – बांझपन के कारण क्या हैं)

महिलाओ में हार्मोन की कमी के कारण क्या हैं ? (What are the Causes of Hormonal Imbalance in Female in Hindi)

महिलाओं के शरीर में अनेको कारण से हार्मोन की कमी हो सकती है। चलिए आगे आपको विस्तार से बताते हैं। 

  • महिलाओं में डायबिटीज व हाइपोथॉयराडिज्म होने के कारण हार्मोन की कमी हो जाती है। 
  • कुछ मामलो में हार्मोन थेरेपी और ट्यूमर के कारण हार्मोन की कमी होती हैं। 
  • अक्सर चोट लगने व कैंसर के इलाज करने से हार्मोन्स पर असर पड़ता है। 
  • बढ़ती उम्र होने पर महिला को मेनोपॉज की समस्या शुरू होने लगती है जिसमे हार्मोन्स बहुत कम हो जाता हैं। (और पढ़े – मेनोपॉज़ क्या हैं)
  • महिलाओं के गर्भावस्था के दौरान व स्तनपान करवाने से हार्मोन्स में कमी होती हैं। इसकेअलावा गर्भनिरोधक गोलियों के सेवन के कारण कमी होती हैं। 
  • बहुत सी महिलाओं में पॉलीसिस्टिक ओवेरियल सिंड्रोम (PCOS) के कारण हार्मोन्स घटने लगता हैं। 
  • कई बार किसी विशेष दवाओं के सेवन करने से हार्मोन्स में कमी आ जाती हैं। 
  • महिलाओं के अधिक तनाव, चिंता लेने से हार्मोन की कमी का कारण बनता है। 
  • डिप्रेशन में जाने के कारण भोजन में कमी करने से हार्मोन्स में कमी देखी जाती है। (और पढ़े – गर्भावस्था में थकान की समस्या)

महिलाओं में हार्मोन बढ़ाने के बेहतरीन तरीके ? (Ways to increase Hormone in Female in Hindi)

महिला अपने हार्मोन के स्तर को कुछ उपाय की सहायता से बढ़ा सकती है। 

  • हार्मोन बढ़ाने के लिए एवोकाडो का सेवन करना चाहिए महिलाओं के लिए एवोकाडो फल सेहत के लिए बहुत लाभदायक होता है। एवोकाडो का सलाद खाने से हार्मोन के स्तर बढ़ने में मदद मिलता है। आप इसे बेहतरीन बनाने के लिए दूध में शहद के साथ एवोकाडो को पीसकर मिश्रण तैयार कर सेवन कर सकते है। इसमें बहुत से पौष्टिक तत्व और खनिज होता है और उच्च मात्रा में फाइबर है जो शरीर को स्वस्थ रखने के साथ हार्मोन को बढ़ाने में मदद करता है। (और पढ़े – एवोकाडो के फायदे और नुकसान)
  • अलसी का बीज का उपयोग महिला के शरीर में हार्मोन्स के असंतुलन को कम करने के लिए अलसी का बीज बहुत उपयोगी होता है। यह बीज प्राकृतिक रूप से हार्मोन्स बढ़ाने में मदद करता है। अलसी के बीज में सोयाबीन से अधिक गुण होता हैं। इसमें घुलनशील फाइबर व ओमेगा 3 फैटिक एसिड होता है जो प्रभावी होता है। अलसी शरीर के कोलेस्ट्रॉल को कम करता है। अलसी के चूर्ण में दही, ओटमील, स्प्राउड्स मिलाकर सेवन कर सकते है। 
  • अश्वगंधा बढ़ाए महिला का हार्मोन अश्वगंधा एक प्रभावी जड़ीबूटी है जिसका सेवन रोजाना करने से महिलाओं के हार्मोन्स के स्तर बढ़ने में मदद मिलता है। हालांकि गुनगुना पानी में अश्वगंधा का चूर्ण मिलाकर लेना चाहिए जो की बहुत फायदेमंद होता है। यह जड़ीबूटी थायरॉइड की समस्या को ठीक करने में मदद करता है साथ ही हार्मोन के स्तर को बढ़ाने में मदद करता हैं। (और पढ़े – अश्वगंधा के फायदे और नुकसान क्या है)
  • सोया का सेवन कर हार्मोन बढ़ाए सोया का सेवन करने से एस्ट्रोजन के स्तर को बढ़ने में मदद मिलती है। इसमें फाइटोस्ट्रोजन उपस्थित होता है जिसे आइसोफ्लेवोनेस भी कहा जाता है। महिलाये अपने शरीर के हार्मोन को बढ़ाने के लिए सोयाबीन के दाने को भूनकर खाना पसंद करती है। इसके अलावा स्प्राउट्स भी खा सकते है। यह हार्मोन्स को बढ़ाने में मदद करता है। 
  • हरी बीन्स का सेवन कर हार्मोन बढ़ाए कुछ शोध के अनुसार हरी बीन्स का सेवन करने से महिलाओं के हार्मोन्स का स्तर बढ़ने में मदद करता है। हरी बीन्स में कैलोरी कम होती है जो वसा को बढ़ने नहीं देती है इस वजह से हार्मोन बराबर बना रहता है। बीन्स में कई तरह के पोषक तत्व और खनिज मौजूद होता है जो शरीर को स्वस्थ रखने के साथ हार्मोन्स को कम नहीं होने देता है। आपको सलाद या सब्जी के रूप में हरी बीन्स का सेवन करना चाहिए। 

महिलाओं से जुडी किसी भी समस्या के लिए स्त्री विशेषज्ञ (Gynecologist) से संपर्क करना चाहिए। 

हमारा उद्देश्य केवल आपको लेख के माध्यम से जानकारी देना है। हम आपको किसी तरह दवा, उपचार की सलाह नहीं देते है। आपको अच्छी सलाह केवल एक चिकिस्तक ही दे सकता है। क्योंकि उनसे अच्छा दूसरा कोई नहीं होता है।


Best Gynecologist in Delhi

Best Gynecologist in Mumbai

Best Gynecologist in Chennai

Best Gynecologist in Bangalore